Asianet News HindiAsianet News Hindi

टिक टॉक पर थे सपना चौधरी के लाखों फॉलोअर्स, ऐप बैन होने पर कह दी ये बड़ी बात

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी पर भारत-चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद देशभर में लगातार तनाव बड़ रहा है। 20 सैनिकों की शहादत के बाद भारत के लोगों में काफी गुस्सा है। चीन को सबक सिखाने के लिए जनता ने चीनी प्रोडक्ट्स का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया था।

sapna choudhary Speaks on Tik Tok ban in india know What she said KPY
Author
Mumbai, First Published Jul 2, 2020, 3:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी पर भारत-चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद देशभर में लगातार तनाव बड़ रहा है। 20 सैनिकों की शहादत के बाद भारत के लोगों में काफी गुस्सा है। चीन को सबक सिखाने के लिए जनता ने चीनी प्रोडक्ट्स का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया था, जिसके बाद सरकार ने भी सुरक्षा का हवाला देते हुए टिक टॉक समेत 59 चीनी ऐप्स पर भारत में बैन लगा दिया है। टिक टॉक पर आम आदमी से लेकर स्टार्स तक एक्टिव थे और उनकी जबरदस्त फैन फॉलोइंग भी थी। इस पर वो अपने विचार रख रहे हैं। ऐसे में डांसिंग क्वीन सपना चौधरी का रिएक्शन सामने आाया है। 

 

टिक टॉक बैन होने पर सपना चौधरी ने कही ये बात 

59 चीनी ऐप्स पर बैन लगाने वाले सरकार के इस फैसले का लोग स्वागत कर रहे हैं। इस बीच डांसिंग क्वीन सपना चौधरी ने भी सरकार के फैसले की सराहना की है। सपना खुद भी टिकटॉक इस्तेमाल करती थीं और उनके इस पर लाखों फॉलोअर्स थे। उन्होंने अपने बयान में कहा है कि देश से बढ़कर कुछ भी नहीं है। सपना ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा है कि सरकार ने 59 ऐप को बैन कर दिया है, जिसमें Tiktok भी शामिल है। वो सरकार के इस फैसले की पूर्णता सराहना करती हैं और ये बहुत ही उम्दा फैसला है। साथ ही जो इस फैसले का विरोध कर रहे हैं उनको उन्होंने समझाया भी है।

सपना आगे कहती हैं कि 'हम चीन की ऐप इस्तेमाल करते हैं, तो उनको फंड जाता है, उनको पैसा जाता है और उसी पैसे का वो गलत इस्तेमाल हमारे ऊपर करते हैं। तो ये गलत बात है। आपको सरकार का साथ देना चाहिए। इस फैसले की सराहना करनी चाहिए और जितने भी हमारे फौजी भाई लद्दाख की सीमा पर खड़े हैं, उनका हाथ जोड़कर उन्होनें धन्यवाद किया।'

बता दें, सरकार के इस फैसले का कई टिकटॉक इस्तेमाल करने वाला यूजर्स विरोध भी कर रहे हैं। हालांकि, ऐसे लोगों की संख्या बहुत कम है। खबर ये भी है कि जल्द भी भारत में ही टिकटॉक जैसे ऐप लॉन्च किए जा सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios