Asianet News HindiAsianet News Hindi

मुख्यमंत्री Bhupesh Baghel के पिता ने मांगी ‘इच्छामृत्यु’ की अनुमति, राष्ट्रपति को भेजा पत्र, बताई ये वजह

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु’ की अनुमति मांगी है। इतना ही नहीं उन्होंने इसके लिए तारीख तय कर दी है।

chhattisgarh cm bhupesh baghel father nand kumar baghel sent letter to president sought permission for euthanasia
Author
Raipur, First Published Jan 11, 2022, 6:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायपुर (छत्तीसगढ़). अक्सर अपने अनोखे अंदाज और विवादित बयानों के चलते चर्चा में रहने वाले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ( chhattisgarh cm bhupesh baghel) के पिता नंद कुमार बघेल (nand kumar baghel) ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु’ की अनुमति मांगी है। इतना ही नहीं उन्होंने इसके लिए तारीख तय कर दी है। उन्होंने कहा-मेरी मांग पूरी नहीं होती है तो कृप्या मुझे राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी पर इच्छामृत्यु प्रदान करने की अनुमति दी जाए। बता दें कि वह राष्ट्रीय मतदाता जागृत मंच के अध्यक्ष भी हैं।

इच्छामृत्यु मांगने की बताई ये वजह
दरअसल, मुख्यमंत्री के पिता नंद कुमार बघेल ने  राष्ट्रपति को पत्र लिखकर देश में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के स्थान पर मतपत्र से चुनाव कराने की मांग की है। उन्होंने राष्ट्रपति को भेजे पत्र में लिखा है  देश के नागरिकों के सभी संवैधानिक अधिकारों का व्यापक स्तर पर हनन हो रहा है और लोकतंत्र के तीनों स्तंभ-विधायिका, न्यायपालिका तथा कार्यपालिका ध्वस्त होते जा रहे हैं। आगे लिखा-मीडिया भी तीनों स्तंभों के इशारे पर काम कर रहा है। नागरिकों के अधिकारों की कोई सुनने वाला नहीं है, जनप्रतिनिधियों को मतदाता अपनी हर समस्या के लिए चुनते हैं, उनकी आवाज भी दबती जा रही है। 

'मेरे जीने का उद्देश्य ही समाप्त हो गया..
सीएम के पिता नंदकुमार कुमार बघेल ने ने आगे लिखा-ऐसे हालातों जब मेरे समस्त अधिकारों का हनन हो रहा है तो मेरे जीने का उद्देश्य ही नहीं रहा, माननीय राष्ट्रपति जी आपने संविधान की रक्षा की शपथ ली है, लेकिन मेरे संवैधानिक अधिकारों की रक्षा नहीं हो पा रही है। जिसके चलते मेरे पास इच्छामृत्यु के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। इसलिए माननीय महोदय से स्वस्थ लोकतंत्र के व्यापक हित में अनुरोध है कि आप देश में लोगों का, लोगों द्वारा, लोगों के लिए, शासन (लोकतंत्र) के लिए पारदर्शी तरीके से मतदान ईवीएम की जगह पर मतपत्र एवं मतदान पेटी से कराने का आदेश जारी करने की कृपा करें। ईवीएम से मतदान कराकर सरकारें सरकारी संपत्तियों को बेचकर देश में गरीबी और बेरोजगारी को बढ़ाने का पाप कर रही है। अगर आप ऐसा नहीं कर सकते हो तो मुझे इच्छामृत्यु करने की अनुमति प्रदान करें।

पिछले दिनों 14 दिन के लिए जेल भेजे गए थे सीएम के पिता
बता दें कि पिछले साल सिंतबर माह में नंद कुमार बघेल मीडिया में खूब चर्चा में रहे थे। जब उनको रायपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इतना ही नहीं उन्हें 14 दिन के लिए जेल भेजा गया था। क्योंकि नंद कुमार बघेल ने इस दौरान सामाजिक द्वेष पैदा करने वाले बयान दिए थे। उन पर आरोप लगा था कि उन्होंने सर्व ब्राह्मण समाज के लिए विवादित बयान दिया था। उन्होंने लखऩऊ में मीडिया के सामने कहा था कि 'अब वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा, ब्राह्मण विदेशी हैं, जिस तरह अंग्रेज यहां से गए, वह भी एक दिन यहां से जाएंगे, ब्राह्मण सुधर जाएं, या तो जाने के लिए तैयार रहें। ब्राह्मण हमें अछूत मानते हैं, हमारे सारे अधिकार छीन रहे हैं, गांवों में भी अभियान चलाकर उनका बायकॉट करेंगे। 

यह भी पढ़ें-ये हैं छत्तसीगढ़ के CM के पिता: जिन्होंने पानी में किया चौंकाने वाला योग, जल में ही PM Modi से की यह मांग

यह भी पढ़ें-CM भूपेश बघेल के पिता पर दर्ज FIR, मुख्यमंत्री ने कहा-कानून से ऊपर कोई नहीं..जानिए क्या है यह मामला

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios