Asianet News HindiAsianet News Hindi

टेलीकॉम कंपनी से कान्ट्रैक्ट करार करना शाकिब हसन को पड़ा महंगा, होगा एक्शन

भारत दौरे से पहले शाकिब के खिलाफ कानूनी कार्यवाई कर सकता है बीसीबी। एक रिपोर्ट के अनुसार साकिब ने टेलीकॉम कंपनी ‘ग्रामिणफोन’ के साथ एक करार पर हस्ताक्षर किए हैं जो केंद्रीय अनुबंध नियम का उल्लंघन है। 

action to be taken against shakib hasan
Author
Dhaka, First Published Oct 26, 2019, 3:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ढाका: बांग्लादेश के घरेलू क्रिकेटरों को भले ही खिलाड़ियों के विरोध से फायदा मिल रहा हो लेकिन उनके राष्ट्रीय कप्तान शाकिब अल हसन को एक टेलीकॉम कंपनी से करार भारी पड़ सकता है। केंद्रीय अनुबंध के उल्लंघन के कारण बोर्ड उन पर कानूनी कार्रवाई पर विचार कर रहा है।

संतोषजनक जवाब नहीं दे पाने पर होगी कार्यवाई 

बांग्लादेश की टीम अगले कुछ दिनों में भारत सीरीज के लिए रवाना होगी। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) का यह कदम निश्चित रूप से टीम के मनोबल को प्रभावित कर सकता है। ‘क्रिकबज’ की एक रिपोर्ट के अनुसार साकिब ने टेलीकॉम कंपनी ‘ग्रामिणफोन’ के साथ एक करार पर हस्ताक्षर किए हैं जो केंद्रीय अनुबंध नियम का उल्लंघन है। जानकारी के मुताबिक, बीसीबी अध्यक्ष नज्मुल हसन ने कहा कि अगर वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाते हैं तो वे कड़ा कदम उठाएंगे। स्थानीय टेलीकॉम कंपनी ‘ग्रामीणफोन’ ने घोषणा की कि देश का शीर्ष आल राउंडर उनका ब्रांड दूत बना है।’’

 

बीसीबी अध्यक्ष नज्मुल हसन ने कहा, ‘‘ वह ऐसा करार नहीं कर सकते जो हमारे अनुबंध में स्पष्ट है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ रोबी (टेलीकॉम) हमारा टाइटल प्रायोजक था और ग्रामिणफोन ने बोली नहीं लगाई और इसके बजाय उसने कुछ क्रिकेटरों को पैसे देकर करार कर लिया। लेकिन इससे बोर्ड को नुकसान हुआ। ’’ हसन ने कहा, ‘‘ हम कानूनी कार्रवाई के बारे में विचार कर रहे हैं। इस संबंध में हम किसी को भी नहीं छोड़ सकते। हम मुआवजे की मांग करेंगे। हम कंपनी के साथ-साथ खिलाड़ी से भी मुआवजे की मांग करेंगे। ’’

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios