Asianet News Hindi

T20 वर्ल्ड कप मुद्दे पर अपनी टांग अड़ा रहे ICC के निर्वतमान अध्यक्ष शशांक मनोहर, BCCI ने लगाया ये आरोप

अंतराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से नाराज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने निवर्तमान चेयरमैन शशांक मनोहर पर जानबूझकर टी20 वर्ल्ड कप के मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया है

bcci said ICC outgoing chairman Shashank Manohar intervening on T20 World Cup issue kpl
Author
Delhi, First Published Jun 18, 2020, 2:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क. अंतराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से नाराज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने निवर्तमान चेयरमैन शशांक मनोहर पर जानबूझकर टी20 वर्ल्ड कप के मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया है। भारतीय बोर्ड ऑस्ट्रेलिया में इस साल होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के भविष्य को लेकर लगातार फैसला टालने के लिए ICC से नाराज चल रहा है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स एक बार फिर 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होने वाले इस टूर्नामेंट की मेजबानी को लेकर अपने बोर्ड की अक्षमता जाहिर कर चुके हैं। ऐसे में BCCI का मानना है कि ICC की विलंब की रणनीति आईपीएल की तैयारियों को प्रभावित कर सकती है।

टी-20 वर्ल्ड कप पर एक महीने और इंतजार का फैसला
भारतीय बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर मीडिया से बताया , ‘निवर्तमान आईसीसी चेयरमैन भ्रम की स्थिति क्यों पैदा कर रहे हैं? अगर मेजबान क्रिकेट बोर्ड टी20 वर्ल्ड का आयोजन नहीं करना चाहता तो उन्हें घोषणा करने के लिए एक महीना क्यों चाहिए?’इस महीने के शुरुआत में बोर्ड बैठक के बाद आईसीसी ने एक महीने और इंतजार करने का फैसला किया है। अधिकारी का मानना है कि टूर्नामेंट को स्थगित करने को लेकर अगर जल्द फैसला होता है तो इससे सदस्य देशों को अपनी द्विपक्षीय सीरीज की योजना बनाने में मदद मिलेगी। अधिकारी ने कहा, ‘यह बीसीसीआई या आईपीएल का मामला नहीं है। अगर आईसीसी इस महीने टूर्नामेंट को स्थगित करने की घोषणा करता है, तो जिन सदस्य देशों के खिलाड़ी आईपीएल का हिस्सा नहीं है वे भी इस दौरान अपनी द्विपक्षीय सीरीज को लेकर योजना बना सकते हैं। फैसला करने में विलंब से सभी को नुकसान होगा।’

टी-20 वर्ल्ड कप पर निर्भर है इस साल का आईपीएल
आईसीसी अगर जल्द फैसला करता है तो बीसीसीआई की आईपीएल संचालन टीम संभावित मेजबानों को लेकर तैयारी शुरू कर सकती है जिसमें श्रीलंका भी शामिल होगा जिसके बाद प्रेमदासा, पल्लेकल और हंबनटोटा मैदान हैं। यूएई के मुकाबले श्रीलंका को कम खर्चीले मेजबान के रूप में देखा जा रहा है और सुनील गावस्कर भी कह चुक हैं कि सितंबर में आईपीएल कराने के लिए यह आदर्श देश होगा।

पुराना है  BCCI और मनोहर के बीच मतभेद  
BCCI और शशांक मनोहर के बीच मतभेद नए नहीं हैं। नागपुर के वकील मनोहर के BCCI के पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन से कटु रिश्ते रहे हें जिन्हें तनाव की मुख्य वजह माना जा रहा है। अधिकारी ने कहा, ‘वह BCCI के पूर्व अध्यक्ष हैं जो हमारे हितों के खिलाफ काम कर रहे हैं। आईसीसी के राजस्व में देश के योगदान के बावजूद बीसीसीआई के राजस्व हिस्से में कटौती की गई है।’
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios