Asianet News HindiAsianet News Hindi

50 के औसत से 8000 रन बनाए, जड़े 26 शतक, मगर टीम इंडिया में नहीं मिल पा रहा है इस क्रिकेटर को मौका!

भारत के लिए 12 वनडे और 3 T-20 खेलने वाले मनोज तिवारी 34 साल के हो चुके हैं। तिवारी ने हमेशा ही शानदार प्रदर्शन किया है, पर सिर्फ 12 वनडे के बाद मनोज तिवारी को टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया 

He scored 8000 runs at an average of 50, scored 26 centuries, but this cricketer is not getting chance in Team India!
Author
New Delhi, First Published Nov 13, 2019, 8:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत के लिए 12 वनडे और 3 T-20 खेलने वाले मनोज तिवारी 34 साल के हो चुके हैं। तिवारी ने हमेशा ही शानदार प्रदर्शन किया है, पर सिर्फ 12 वनडे के बाद मनोज तिवारी को टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया और तिवारी अभी भी टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। तिवारी ने भारत के लिए साल 2008 में डेब्यू किया था। इस मैच में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिर्फ 2 रन बनाए थे। अपने पहले T-20 में भी तिवारी कुछ खास नहीं कर पाए थे और सिर्फ 15 रन बनाकर आउट हो गए थे। 

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में किया शानदार प्रदर्शन 
मनोज तिवारी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में हमेशा ही शानदार प्रदर्शन किया है, पर चोट और भारतीय टीम में सितारों की भरमार के चलते तिवारी को कभी भी पर्याप्त मौके नहीं मिले। तिवारी ने फर्स्ट क्लास में खेले 114 मैचों की 180 पारियों में 50.35 के औसत से 8258 रन बनाए हैं, जिसमें 26 शतक और 34 अर्धशतक शामिल हैं। इस दौरान उन्होंने 267 रनों की शानदार पारी भी खेली है। इसके बावजूद तिवारी ने अपना आखिरी मैच 4 साल पहले जिम्बाब्वे के खिलाफ खेला था। इसके बाद से तिवारी ने लगातार घरेलू क्रिकेट में शानदार खेल दिखाया है पर तिवारी को टीम इंडिया में मौका नहीं मिला। 

T-20 में सिर्फ एक बार मिला बल्लेबाजी को मौका 
मनोज तिवारी ने भारत के लिए सिर्फ 3 T-20 मैच खेले हैं। इसमें से सिर्फ एक ही मैच में तिवारी को बैटिंग करने का मौका मिला है। तिवारी ने इस पारी में 15 रन बनाए थे। मनोज तिवारी मध्यक्रम के शानदार बल्लेबाज होने के साथ उपयोगी लेग स्पिन बॉलिंग भी करते हैं। उन्होंने IPL में भी केदार जाधव की तरह बॉलिंग करने की कोशिश की थी। इस वजह से तिवारी चर्चा में भी आए थे। 

He scored 8000 runs at an average of 50, scored 26 centuries, but this cricketer is not getting chance in Team India!

वनडे में कुछ खास नहीं कर पाए मनोज
मनोज तिवारी को ज्यादा मौका न मिलने की बड़ी वजह उनका खराब वनडे करियर है। तिवारी को कुल 12 मैचों में बैटिंग का मौका मिला। इसमें उन्होंने 26.09 के औसत से 287 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 1 शतक और 1अर्धशतक भी लगाया है। तिवारी ने बॉलिंग में भी अपना हाथ दिखाते हुए 5 विकेट भी निकाले हैं। 12 मैचों में भी कभी तिवारी को लगातार मौके नहीं मिले हैं। आखिरी बार जिम्बाब्वे के दौरे पर तिवारी को लगातार तीन मैच खेलने को मिले थे, जहां अच्छा प्रदर्शन न होने पर हमेशा के लिए तिवारी को टीम से बाहर कर दिया गया। 

IPL में भी खेली कई बेहतरीन पारियां
मनोज तिवारी ने IPL में भी 28.73 के औसत से 1695 रन बनाए हैं। तिवारी का यह प्रदर्शन कुछ खास तो नहीं है, पर उनका औसत और स्ट्राइक रेट बाकी सभी बल्लेबाजों के करीब है, जिन्हें तिवारी की जगह मौका दिया गया। अंबाती रायडू से लेकर मनीष पांडे तक सभी ने इसी के आस-पास का ही प्रदर्शन किया है पर युवा के नाम पर इन खिलाड़ियों को आज भी मौके दिए जा रहे हैं और तिवारी टीम से बाहर हैं।    

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios