Asianet News HindiAsianet News Hindi

नमस्कार, जय श्री राम...मेरे हाथ पैर काट दिए पर मैंने देश नहीं बेचा, कनेरिया ने ऐसे बयां किया दर्द

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर कनेरिया ने एक नया वीडियो जारी कर बीते दिनों में उनके साथ खड़े होने वालों के प्रति आभार जताया है। उन्होंने कहा कि मैंने इस देश में बहुत कुछ झेला है। मेरे हाथ पैर काट, मुझे काम नहीं मिलता, जहां काम किया वहां पैसा नहीं मिलता है। कनेरिया ने कहा कि मेरे हाथ पैर काट दिए पर मैंने देश नहीं बेचा है। 

Kaneria Said cut my hands and feet but I did not sell the country kps
Author
New Delhi, First Published Dec 30, 2019, 9:23 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पाकिस्तान में हिंदू क्रिकेटरों के उत्पीड़न का मामला उजागर होने के बाद पाकिस्तान के पूर्व लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने अपना एक और विडियो शेयर किया। कनेरिया इस विडियो में आरोप लगा रहे हैं कि पाकिस्तान ने उन क्रिकेटरों का स्वागत किया, जिन्होंने मुल्क तक बेच दिया। अपने यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किए गए वीडियो के शुरूआत में कनेरिया कहते हैं कि 'नमस्कार, सलाम, जय श्री राम। आपने जो प्यार और सपॉर्ट पिछले दिनों मुझे दिया, मैं उसको बयां नहीं कर सकता हूं।'

सस्ती शोहरत के लिए नहीं विडियो

उन्होंने कहा, 'जो लोग ये कह रहे हैं कि मैं सस्ती शोहरत, यूट्यूब विडियो के लिए ये बातें कर रहा हूं तो उन्हें याद दिला दूं कि मैंने नहीं बल्कि शोएब अख्तर ने की थीं। मैंने जिस तरीके से उन सब चीजों को झेला, कभी किसी भी स्तर पर क्रिकेट खेलते हुए उसे क्रिकेट के आगे नहीं आने दिया। हमेशा अपने खेल पर ही फोकस रखा।'

हाथ-पैर काट दिए, मुल्क को तो नहीं बेचा 

कनेरिया ने कहा, 'कुछ लोग कह रहे हैं कि मैंने अपना यूट्यूब चैनल बनाया, आप लोग क्या चाह रहे हो। आपने तो मेरे हाथ-पैर काट दिए, क्रिकेट तो दूर की बात, मुझे चैनल पर काम देना बंद कर दिया। जिस चैनल पर मैंने काम किया, उसके लिए पैसे अभी तक नहीं मिले।'

कनेरिया आगे कहते हैं, 'फिक्सिंग को लेकर मेरे बारे में बातें करते हैं लेकिन पहले जान तो लें कि मुझ पर दूसरे साथी क्रिकेटरों को उकसाने के आरोप लगे थे। कम से कम मैंने मुल्क को तो नहीं बेचा। यहां तो ऐसे लोग हैं जिन्होंने मुल्क को बेचा, जेल गए और फिर आकर टीम में क्रिकेट खेलने लगे। उनका सम्मान किया गया। मैंने तो कोई पैसे नहीं खाए, अपनी गलती भी स्वीकार की।'

ईसीबी ने किया था बैन

कनेरिया को 2012 में इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने आजीवन प्रतिबंधित कर दिया था। पीसीबी ने 2012 में आईसीसी के भ्रष्टाचार रोधी प्रोटोकोल का अनुकरण करते हुए कनेरिया पर आजीवन प्रतिबंध को पुष्ट किया। कनेरिया इंग्लिश काउंटी मैचों में स्पॉट फिक्सिंग और अन्य खिलाड़ियों को स्पॉट फिक्स करने के दोषी पाए गए थे।

अख्तर ने अपने बयान से लिया यूटर्न

पाकिस्तान के पूर्व पेसर शोएब अख्तर ने कहा था कि पूर्व लेग स्पिनर कनेरिया को उनके हिंदू धर्म से संबंध रखने के चलते कई लोग उन्हें टीम में नहीं देखना चाहते थे। हालांकि इस पर उन्होंने अब सफाई दी और कहा कि उनके इस बयान को पूरी तरह गलत समझा गया। उन्होंने कहा कि धार्मिक आधार पर किसी के साथ भेदभाव करना उनकी टीम का कल्चर नहीं है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios