Asianet News Hindi

कपिलदेव ने भारत-पाक मैच को लेकर शोएब अख्तर का प्रस्ताव ठुकराया, बोलेः भारत को पैसों की जरूरत नहीं

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर कपिलदेव ने भारत पाक के बीच मैच को लेकर पाकिस्तानी दिग्गज शोएब अख्तर का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। कपिलदेव ने कहा कि भारत को पैसों की जरूरत नहीं है और मौजूदा समय में किसी भी तरह का मैच नहीं खेला जा सकता। 

Kapil Dev rejected Shoaib Akhtar's proposal for Indo-Pak match, said: India does not need money kpb
Author
New Delhi, First Published Apr 9, 2020, 5:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर कपिलदेव ने भारत पाक के बीच मैच को लेकर पाकिस्तानी दिग्गज शोएब अख्तर का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। कपिलदेव ने कहा कि भारत को पैसों की जरूरत नहीं है और मौजूदा समय में किसी भी तरह का मैच नहीं खेला जा सकता। भारत को पहली बार विश्व विजेता बनाने वाले कप्तान ने कहा कि भारत को पैसों की जरूरत नहीं है। भारत के पास पर्याप्त पैसा है। हमें किसी की जान को खतरे में डालने की जरूरत नहीं है। 

शोएब ने दिया था 3 मैचों की सीरीज का प्रस्ताव 
पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल के जरिए कहा था कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारत और पाकिस्तान को पैसों की जरूरत है। ऐसे में दोनों देशों के बीच दुबई में तीन वनडे मैचों की सीरीज रखी जा सकती है। इस सीरीज में कोई दर्शक नहीं होगा। सिर्फ दोनों देशों के खिलाड़ी जांच के बाद मैच खेलने जाएंगे। पूरी दुनिया के लोग अपने घरों में कैद हैं। ऐसे में यह सीरीज अच्छा खासा फंड जुटा सकती है। इस पैसे को भारत और पाकिस्तान के बीच बांटकर दोनों देशों में कोरोना से जूझ रहे लोगों की मदद की जा सकती है। 

हमें पैसे जुटाने की जरूरत नहीं- कपिलदेव 
कपिलदेव ने शोएब अख्तर के प्रस्ताव पर कहा कि हमें पैसे जुटाने की जरूरत नहीं है। हमारे पास पहले से पर्याप्त पैसा है। हमारे लिए जरूरी यह है कि कोरोना से निपटने के लिए प्रशासन कैसे काम करता है। देश के राजनेता अभी भी टीवी पर एक दूसरे के ऊपर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। ऐसे हालातों में यह सब बंद होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि BCCI ने इस महामारी से निपटने के लिए 51 करोड़ रुपए दान किए हैं और जरूरत पड़ने पर और भी पैसे दान कर सकती है। ऐसे समय में क्रिकेट मैच कराना खिलाड़ियों की जान जोखिम में डालने के समान है। फिलहाल हमें ऐसा करने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि आप 3 मैचों से कितना पैसा कमा सकते हैं। हमें अगले 5 से 6 महीनों तक क्रिकेट के बारे में सोचना भी नहीं चाहिए। 

स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिसकर्मियों का ध्यान रखने की जरूरत 
कपिलदेव ने कहा कि अभी हमें स्वास्थयकर्मियों और पुलिसकर्मियों का ध्यान रखने की जरूरत है। जब सब कुछ ठीक हो जाएगा तो क्रिकेट मैच बाद में भी खेले जा सकते हैं। फिलहाल हमें उन लोगों का ध्यान रखने की जरूत है जो अपनी जान जोखिम में डालकर कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। इसके बाद कपिलदेव ने कहा कि उन्हें भारत का नागरिक होने पर गर्व है। भारत मौजूदा हालातों में अमेरिका जैसे देशों की मदद कर रहा है। यह हमारे लिए गर्व की बात है। हमारी संस्कृति ही दूसरों की मदद करने वाली रही है। हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम दूसरों को ज्यादा से ज्यादा दे सकें ना कि उन पर निर्भर रहें। 

घर में बंद रहने के सवाल पर उन्होंने कहा कि नेलशन मंडेला 27 साल तक एक छोटी सी जेल में कैद रहे। हमारे पास पूरा घर है और यह कुछ ही दिनों की बात है। हमारे लिए अभी जिंदगी से बड़ा कुछ भी नहीं है और हमें सिर्फ अपने साथ साथ दूसरों की जान बचाने के बारे में सोचना चाहिए। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios