स्पोर्ट्स डेस्क. तीन विश्व कप में कप्तानी करने वाले मो. अजहरुद्दीन टीम इंडिया के पहले कप्तान थे। अजहर ने हाल ही में एक इंटरव्यू में इच्छा जाहिर की है कि अगर उन्हें मौका मिलेगा तो वह टीम इंडिया के कोच का पद संभालना चाहेंगे। राजनीति के अलावा अजहर क्रिकेट विशेषज्ञ के तौर पर भी अपनी राय रखते रहते हैं। इसके साथ ही फिलहाल वह हैदराबाद क्रिकेट असोसिएशन के अध्यक्ष भी हैं। 

मीडिया को दिए इंटरव्यू में अजहर ने कहा 'हां, मैं इसके लिए तैयार हूं। अगर मुझे मौका मिलेगा तो मैं भारतीय टीम के साथ काम करना चाहूंगा। मैं पलक झपकते ही इस फैसले को स्वीकार कर लूंगा।' अजहर ने 174 वनडे इंटरनैशनल में भारतीय टीम की कप्तानी की। वह इस सूची में दूसरे नंबर पर हैं। उन्होंने कहा कि वह यह देखकर हैरान हैं कि इन दिनों सपॉर्ट स्टाफ में कितने लोग हैं।

इस साल IPL होने की जताई उम्मीद 
अजहर ने उम्मीद जताई कि इस साल इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन होगा चूंकि इससे खिलाड़ियों और क्रिकेट को काफी कुछ मिलता है। उन्होंने कहा, 'मैं यह देखकर हैरान हूं कि इन दिनों टीम के साथ कितने लोग होते हैं। उदाहरण के लिए, मेरी विशेषज्ञता बल्लेबाजी और फील्डिंग है, और इसलिए अगर मैं किसी टीम का कोच बनता हूं तो मुझे सही मायनों में बल्लेबाजी कोच नहीं चाहिए। सही है ना?'