Asianet News HindiAsianet News Hindi

मुकाबले में अपनी कमियों को दुरूस्त करके उतरेगी टीम इंडिया, इन खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

खराब क्षेत्ररक्षण और लचर गेंदबाजी का खामियाजा भुगत रही भारतीय क्रिकेट टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ निर्णायक तीसरे टी20 मैच में बुधवार को उतरेगी तो उसे अपनी कमियों से पार पाकर बेहतर प्रदर्शन करना होगा
 

Team India will come out by fixing its deficiencies in the decisive match kpm
Author
New Delhi, First Published Dec 10, 2019, 2:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई: खराब क्षेत्ररक्षण और लचर गेंदबाजी का खामियाजा भुगत रही भारतीय क्रिकेट टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ निर्णायक तीसरे टी20 मैच में बुधवार को उतरेगी तो उसे अपनी कमियों से पार पाकर बेहतर प्रदर्शन करना होगा। दो बार की विश्व चैम्पियन वेस्टइंडीज ने तिरूवनंतपुरम में दूसरा मैच जीतकर श्रृंखला में 1 . 1 से बराबरी की। इससे पहले विराट कोहली की शानदार पारी के दम पर भारत ने हैदराबाद में पहला मैच जीता था।

भारतीय खेमे की नजरें विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत पर

भारतीय खेमे की नजरें युवा आफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर और खराब फार्म से जूझ रहे विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत पर लगी होगी। देखना यह है कि टीम प्रबंधन सुंदर को उतारता है या चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को मौका मिलता है। सुंदर ने पिछले पांच टी20 मैचों में सिर्फ तीन विकेट लिये हैं। उसने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो और बांग्लादेश के खिलाफ तीन टी20 मैचों में 23 ओवरों में 144 रन दे डाले। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो टी20 मैचों में उसे विकेट नहीं मिली।

पंत के लिये हालात मुश्किल 

कप्तान कोहली उसकी फील्डिंग को लेकर भी चिंतित होंगे। पिछले मैच में उसने लैंडल सिमंस का आसान कैच टपकाया जिसने 45 गेंद में 67 रन बनाकर वेस्टइंडीज की जीत की नींव रखी। कुलदीप ने आखिरी टी20 मैच हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ फरवरी में खेला था। पहले दो मैचों में उन्हें टीम में जगह नहीं मिल सकी। पंत के लिये हालात मुश्किल होते जा रहे हैं । महेंद्र सिंह धोनी के वारिस समझे जा रहे पंत के लिये अपेक्षाओं का दबाव सह माना मुश्किल हो रहा है। चौथे नंबर पर उतरकर पिछली सात टी20 पारियों में उसने नाबाद 33, 18, 6, 27, 19, 4 रन बनाये हैं।

उसने टी20 क्रिकेट में आखिरी अर्धशतक अगस्त में वेस्टइंडीज के खिलाफ लगाया था। संजू सैमसन जैसे क्रिकेटरों से प्रतिस्पर्धा का सामना कर रहे पंत को समय रहते प्रदर्शन में सुधार करना होगा। भारत के लिये बल्लेबाजी कभी समस्या नहीं थी। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा पिछले दो मैचों में नाकाम रहे लेकिन अब घरेलू मैदान पर बड़ी पारी खेलना चाहेंगे। केएल राहुल और कोहली ने रन बनाये हैं। पहला टी20 अर्धशतक बनाने वाले शिवम दुबे ने आक्रामक पारी खेली।

वेस्टइंडीज की नजरें श्रृंखला जीतने पर

भारत की गेंदबाजी अभी भी चिंता का सबब है। दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार ने पहले दो मैचों में रन दिये। चाहर बांग्लादेश के खिलाफ वाला फार्म नहीं दोहरा सके। भारतीय फील्डरों ने भी कई कैच टपकाये और फालतू रन दिये। कोहली ने कहा भी है कि अगर क्षेत्ररक्षण ऐसा रहा तो कोई भी स्कोर नाकाफी होगा। दूसरी ओर वेस्टइंडीज की नजरें श्रृंखला जीतने पर लगी होंगी। उसके शीर्षक्रम के बल्लेबाज खासकर सिमंस शानदार फार्म में हैं। एविन लुईस, निकोलस पूरन और शिमरोन हेटमायेर ने भी अच्छी पारियां खेली।

गेंदबाजों में शेल्डन कोटरेल को विकेट मिले हैं। कोटरेल, केसरिक विलियम्स, लेग स्पिनर हेडन वाल्श और जैसन होल्डर को अनुशासित प्रदर्शन करना होगा। इस मैदान पर वेस्टइंडीज ने 2016 टी20 विश्व कप सेमीफाइनल में भारत को हराया था और बाद में खिताब भी अपने नाम किया।

टीमें: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, संजू सैमसन, ऋषभ पंत, मनीष पांडे, श्रेयस अय्यर, शिवम दुबे, रवींद्र जडेजा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक चाहर, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी।

वेस्टइंडीज: कीरोन पोलार्ड (कप्तान), फेबियन एलेन, ब्रैंडन किंग, दिनेश रामदीन, शेल्डन कॉटरेल, एविन लुईस, शेरफाने रदरफोर्ड, शिमरोन हेटमेयर, खारी पियरे, लेंडिल सिमन्स, जेसन होल्डर, हेडन वॉल्श जूनियर, कीमो पॉल और केसरिक विलियम्स।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios