Asianet News HindiAsianet News Hindi

भाजपा का गढ़ है नवसारी, 32 साल से कोई नहीं हरा पाया, 5 बार MLA रहे नेता इस प्रदेश के हैं राज्यपाल

Gujarat Assembly Election 2022: नवसारी भाजपा का गढ़ है। पिछले लोकसभा चुनाव में सांसद सीआर पाटिल ने देशभर में सबसे अधिक वोटों के अंतर से यहां से जीत दर्ज की थी। विधानसभा सीट पर भाजपा का 32 साल से कब्जा रहा है। 

Gujarat Assembly Election 2022 bjp win since 1990 on navsari assembly seat apa
Author
First Published Nov 23, 2022, 4:37 PM IST

गांधीनगर। Gujarat Assembly Election 2022:  गुजरात विधानसभा चुनाव में ऐसी कई सीट हैं, जहां भाजपा का वर्षों से कब्जा रहा है। ऐसी ही विधानसभा सीट है नवसारी। पार्टी इसे 1990 से लगातार जीत रही है यानी 32 साल से कब्जा बरकरार है। गुजरात में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल हों या मध्य प्रदेश के मौजूदा राज्यपाल मंगूभाई पटेल, दोनों इसी जिले से आते हैं। मंगूभाई तो खुद इस विधानसभा सीट से पांच बार विधायक रहे हैं, जबकि सीआर पाटिल यहां से मौजूदा सांसद हैं। पाटिल पिछले लोकसभा चुनाव में पूरे देश इस सीट पर रिकॉर्ड मतों से जीते थे। 

भाजपा की ओर से मंगूभाई पटेल 1990 से 2007 तक लगातार पांच बार विधायक रहे। उन्होंने 1990 में, 1995 मेंए 1998 में, 2002 में और 2007 के विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी। इसके बाद पार्टी ने उन्हें वर्ष 2021 में मध्य प्रदेश का राज्यपाल बना दिया था। इससे पहले यहां आनंदीबेन पटेल राज्यपाल थीं, जो अब उत्तर प्रदेश की राज्यपाल हैं। हालांकि, पार्टी ने इस बार यहां से मौजूदा विधायक पीयूष देसाई को दोबारा टिकट नहीं दिया है। पीयूष की जगह राकेश गुणवंतराय देसाई को टिकट दिया गया है। वैसे पीयूष ने पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की उमीदवार भावना पटेल को 46 हजार से भी अधिक वोटों के अंतर से हराया था। 2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर 12 उम्मीदवार मैदान में थे। 

दो बार विधायक रहे हैं पीयूष 
भाजपा के उम्मीदवार पीयूष ने जीत दर्ज की और उनके अलावा केवल कांग्रेस उम्मीदवार भावना पटेल ही अपनी जमानत बचा सकी थीं। बाकी सभी उम्मीदवारों की जमानत तक जब्त हो गई। हालांकि, पीयूष यहां 2012 का विधानसभा चुनाव भी जीते थे। तब उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी अरविंदभाई पटेल को 15 हजार से अधिक वोटों के अंतर से हराया था। 2012 के चुनाव में कुल 9 उम्मीदवार थे और दिलचस्प ये है कि इस बार भी भाजपा और कांग्रेस को छोड़कर सभी की जमानत जब्त हो गई थी। 

2 चरणों में वोटिंग, 8 को काउंटिंग

इस बार गुजरात विधानसभा चुनाव में दोनों चरणों के लिए नामांकन का दौर समाप्त हो चुका है। राज्य में पहले चरण की वोटिंग 1 दिसंबर को होगी, जबकि दूसरे चरण की वोटिंग 5 दिसंबर को होगी। वहीं, मतगणना दोनों चरणों की 8 दिसंबर को होगी। पहले चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया 14 नवंबर अंतिम तारीख थी। दूसरे चरण के लिए नामाकंन प्रक्रिया की अंतिम तारीख 17 नवंबर थी। पहले चरण की वोटिंग प्रक्रिया के लिए गजट नोटिफिकेशन 5 नवंबर को और दूसरे चरण की वोटिंग प्रक्रिया के लिए 10 नवंबर को जारी हुआ था। स्क्रूटनी पहले चरण के लिए 15 नवंबर को हुई, जबकि दूसरे चरण के लिए 18 नवंबर की तारीख तय थी। नाम वापसी की अंतिम तारीख पहले चरण के लिए 17 नवंबर और दूसरे चरण के लिए 21 नवंबर को हुई। 

यह भी पढ़ें- 

काम नहीं आई जादूगरी! गहलोत के बाद कांग्रेस ने पायलट को दी गुजरात में बड़ी जिम्मेदारी, जानिए 4 दिन क्या करेंगे

पंजाब की तर्ज पर गुजरात में भी प्रयोग! जनता बताएगी कौन हो 'आप' का मुख्यमंत्री पद का चेहरा

बहुत हुआ.. इस बार चुनाव आयोग Corona पर भी पड़ेगा भारी, जानिए क्या लिया गजब फैसला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios