Asianet News HindiAsianet News Hindi

GujaratElections2022: वंदे भारत ट्रेन पर पथराव का आरोप, AIMIM चीफ औवेसी थे सवार, रेलवे ने कहा झूठ है ये

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता वारिस पठान ने एक tweet के जरिये वंदे भारत ट्रेन पर पथराव का आरोप लगाया है, जिसमें ओवैसी भी सवार थे। गुजरात में इस समय विधानसभा चुनाव की जबर्दस्त गहमागहमी है।

Gujarat Elections 2022 Stone pelting on Vande Bharat train, AIMIM Chief Asaduddin Owaisi was traveling kpa
Author
First Published Nov 8, 2022, 6:18 AM IST

अहमदाबाद.ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के नेता वारिस पठान ने एक tweet के जरिये वंदे भारत ट्रेन पर पथराव का आरोप लगाया है, जिसमें ओवैसी भी सवार थे। गुजरात में इस समय विधानसभा चुनाव की जबर्दस्त गहमागहमी है। AIMIM चीफ असदुद्दीन औवेसी भी लगातार गुजरात के दौरे पर हैं। जब वे वंदे भारत ट्रेन में सफर कर रहे थे, तभी अज्ञात लोगों ने उस पर पथराव किया। वारिस पठान ने कहा कि हमले में ट्रेन का शीशा टूट गया। हालांकि गुजरात रेलवे पीआरओ ने कहा है कि वंदे भारत ट्रेन पर किसी तरह का कोई पथराव नहीं हुआ है। मेंटेनेंस के चलते पत्थर शीशे पर उछलकर चला गया था। जानिए पूरी डिटेल्स...

ट्रेन में मुस्कराते हुए दिखे पठान
वारिस पठान ने ट्रेन में सफर के दौरान के कई फोटो शेयर किए हैं। उन्होंने लिखा-आज शाम जब हम @asadowaisi  साहब,SabirKabliwala साहब और  @aimim_national की टीम अहमदाबाद से सूरत के लिए 'Vande Bharat Express' train में सफर कर रहे थे तब कुछ अज्ञात लोगों ने ट्रेन पर ज़ोर से पत्थर मारकर शीशा तोड़ दिया!
#GujaratElections2022

pic.twitter.com/ZwNO2CYrUi

गौरतलब है कि गुजरात विधानसभा चुनाव में औवेसी ने 30 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है। पिछले महीने पांच सीटों के लिए पार्टी अपने उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। इसमें सूरत पूर्व सीट से वसीम कुरैशी, लिंबायत सीट से अब्दुल बशीर, जमालपुर खड़िया सीट से साबिर काबलीवाला, दानिलिमदा सीट से कौशिका परमार और बापूनगर सीट से शाहनवाज खान को टिकट दिया गया है।

गुजरात चुनाव के लिए बीटीपी ने जद (यू) के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन किया
चंदेरिया (गुजरात). छोटू वसावा के नेतृत्व वाली भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) ने सोमवार को अगले महीने होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए 'पुराने दोस्त' जनता दल (यूनाइटेड) के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन की घोषणा की है। वसावा ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री और जद (यू) नेता नीतीश कुमार गुजरात में प्रचार करेंगे।1 और 5 दिसंबर को होने वाले 182 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव में जद (यू) कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, इस बारे में कोई स्पष्टता नहीं है।

बीटीपी संस्थापक वसावा ने मीडिया से कहा-"बीटीपी और जद (यू) पुराने दोस्त हैं और इसलिए हमने चुनाव पूर्व गठबंधन में प्रवेश करने का फैसला किया है। हम उनकी मदद करेंगे और वे हमारी मदद करेंगे। बिहार के सीएम (नीतीश कुमार) चुनाव प्रचार के लिए गुजरात आएंगे। हमारा लक्ष्य वर्तमान (भाजपा) शासन को उखाड़ फेंकना है।" बीटीपी ने 12 विधानसभा क्षेत्रों के लिए उम्मीदवारों की पहली सूची की घोषणा की है, जिसमें अनुसूचित जनजाति (एसटी) के लिए आरक्षित नौ सीटें शामिल हैं।सितंबर में बीटीपी ने आम आदमी पार्टी (आप) के साथ अपने चार महीने पुराने चुनाव पूर्व गठबंधन को तोड़ दिया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अरविंद केजरीवाल को बीटीपी को हराने के लिए भेजा है।

मौजूदा विधानसभा में बीटीपी के दो विधायक हैं। छोटू वसावा जहां भरूच में झगड़िया सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं, वहीं उनके बेटे और बीटीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश वसावा नर्मदा जिले के डेडियापडैन से विधायक हैं। गुजरात जद (यू) के अध्यक्ष विश्वजीत सिंह ने मीडिया से कहा-"छोटूभाई अतीत में जद (यू) के प्रदेश अध्यक्ष थे। हम भाई हैं, जो एक बार फिर साथ आए हैं। नीतीश कुमार के अलावा, जद (यू) के अध्यक्ष ललन सिंह और वरिष्ठ नेता केसी त्यागी भी गुजरात में चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे। आने वाले दिनों में टिकट वितरण को अंतिम रूप दिया जाएगा।”

छोटू वसावा एक अनुभवी आदिवासी नेता माने जाते हैं। वे 1990 से 2017 तक जद (यू) के साथ थे। उन्होंने 2017 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले पार्टी छोड़ दी थी और नीतीश कुमार के भाजपा के साथ गठबंधन करने के बाद बीटीपी का गठन किया था। उन्होंने इससे पहले 2020 में गुजरात पंचायत चुनाव से पहले और इस साल आप के साथ असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली एआईएमआईएम के साथ चुनावी गठबंधन किया था।

यह भी पढ़ें
भारत जोड़ो यात्रा अनोखे ढंग से पहुंची महाराष्ट्र: एक हाथ में था जलती हुई मशाल तो दूसरे में शान से फहरता तिरंगा
फारसी शब्द 'हिंदू' का अर्थ 'अश्लील' होता है...कर्नाटक कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष के बिगड़े बोल

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios