Asianet News Hindi

आवाज से तेज रफ्तार, प्रेस कॉन्फ्रेंस जैसी सुविधाओं से लैस, इतना लग्जरी है विमान, जानें कौन करेगा सवारी

First Published Apr 7, 2021, 3:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क. कुछ समय पहले ही खबर आई थी कि केलिफॉर्निया का एक स्टार्ट-अप अमेरिका की एयरफोर्स के साथ मिलेकर एक सुपरसोनिक प्लेन का निर्माण कर रहा है, जिसे एयरफोर्स के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इस स्टार्ट अप का नाम एक्जोसोनिक है और इस स्टार्ट अप ने अपने लो-बूम सुपरसोनिक जेट से अमेरिकी मिलिट्री को प्रभावित किया था। ऐसे में आज हम आपको इस प्लेन की खासियत के बारे में बता रहे हैं और सबसे पहले इसकी सवारी कौन कर सकेगा। आइए जानते हैं...
 

अब इस स्टार्टअप को अमेरिकी राष्ट्रपति और कार्यकारी एयरलिफ्ट निदेशालय से एक कॉन्ट्रेक्ट मिला है। इस सुपरसोनिक प्लेन की इनसाइड तस्वीरें वायरल हो रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस सुपरसोनिक जेट का इस्तेमाल अमेरिकी कार्यकारी शाखा के विशिष्ठ मेहमानों के लिए किया जा सकता है। 

अब इस स्टार्टअप को अमेरिकी राष्ट्रपति और कार्यकारी एयरलिफ्ट निदेशालय से एक कॉन्ट्रेक्ट मिला है। इस सुपरसोनिक प्लेन की इनसाइड तस्वीरें वायरल हो रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस सुपरसोनिक जेट का इस्तेमाल अमेरिकी कार्यकारी शाखा के विशिष्ठ मेहमानों के लिए किया जा सकता है। 

इसके अलावा बताया जा रहा है कि इस विमान का उपयोग अमेरिका के प्रेसीडेंट को ले जाने के लिए भी हो सकता है। एक्जोसोनिक के प्रिसिंपल एयरक्राफ्ट इंटीरियर डिजाइनर स्टेफनी ने मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि वो इस कॉन्सेप्ट के सहारे नई तकनीक प्लान करने जा रहे हैं, जो अब तक किसी कमर्शियल या बिजनेस प्लेन में देखी नहीं गई है।' 

इसके अलावा बताया जा रहा है कि इस विमान का उपयोग अमेरिका के प्रेसीडेंट को ले जाने के लिए भी हो सकता है। एक्जोसोनिक के प्रिसिंपल एयरक्राफ्ट इंटीरियर डिजाइनर स्टेफनी ने मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि वो इस कॉन्सेप्ट के सहारे नई तकनीक प्लान करने जा रहे हैं, जो अब तक किसी कमर्शियल या बिजनेस प्लेन में देखी नहीं गई है।' 

'31 सीटों वाले इस लग्जरी प्लेन में लग्जरी लेदर, काम करने के लिए और रेस्ट करने के लिए प्राइवेट सुइट्स जैसी सुविधा भी दी गई है। इसमें से एक प्राइवेट सुइट में 3 यात्रियों का एक मीटिंग रूम, वीडियो टेलीकॉन्फ्रेसिंग और प्रेस को एड्रेस करने की सुविधा होगी।

'31 सीटों वाले इस लग्जरी प्लेन में लग्जरी लेदर, काम करने के लिए और रेस्ट करने के लिए प्राइवेट सुइट्स जैसी सुविधा भी दी गई है। इसमें से एक प्राइवेट सुइट में 3 यात्रियों का एक मीटिंग रूम, वीडियो टेलीकॉन्फ्रेसिंग और प्रेस को एड्रेस करने की सुविधा होगी।

इसके अलावा दूसरे प्राइवेट सुइट में 8 यात्रियों के लिए इंतजाम मौजूद हैं। वहीं, मेन केबिन में 20 बिजनेस क्लास सीट्स मौजूद हैं। इस प्लेन को मॉर्डन एयरक्राफ्ट डिजाइन की तरह ही तैयार किया गया है और प्लेन की सीट पर पर्सनल इलेक्ट्रॉनिक डिवाइज को होल्ड करने के लिए स्पेस होगा और ये पारंपरिक सीट-बैक मॉनीटर से काफी अलग होगा।
 

इसके अलावा दूसरे प्राइवेट सुइट में 8 यात्रियों के लिए इंतजाम मौजूद हैं। वहीं, मेन केबिन में 20 बिजनेस क्लास सीट्स मौजूद हैं। इस प्लेन को मॉर्डन एयरक्राफ्ट डिजाइन की तरह ही तैयार किया गया है और प्लेन की सीट पर पर्सनल इलेक्ट्रॉनिक डिवाइज को होल्ड करने के लिए स्पेस होगा और ये पारंपरिक सीट-बैक मॉनीटर से काफी अलग होगा।
 

स्टेफनी के हवाले से कहा जा रहा है कि इस एयरक्राफ्ट का केबिन डिजाइन यूएस एक्जक्यूटिव ब्रांच और उनके मिशन से प्रेरित है और इस प्लेन में बूम सॉफ्ट तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। 

स्टेफनी के हवाले से कहा जा रहा है कि इस एयरक्राफ्ट का केबिन डिजाइन यूएस एक्जक्यूटिव ब्रांच और उनके मिशन से प्रेरित है और इस प्लेन में बूम सॉफ्ट तकनीक का इस्तेमाल किया गया है। 

बताया जा रहा है कि ये प्लेन ध्वनि की स्पीड से दुगुनी रफ्तार यानि लगभग 2222 किलोमीटर/ घंटे की रफ्तार से बेहद कम आवाज के साथ उड़ सकता है।

बताया जा रहा है कि ये प्लेन ध्वनि की स्पीड से दुगुनी रफ्तार यानि लगभग 2222 किलोमीटर/ घंटे की रफ्तार से बेहद कम आवाज के साथ उड़ सकता है।

बताया जा रहा है कि ये प्लेन ध्वनि की स्पीड से दुगुनी रफ्तार यानि लगभग 2222 किलोमीटर/ घंटे की रफ्तार से बेहद कम आवाज के साथ उड़ सकता है।

बताया जा रहा है कि ये प्लेन ध्वनि की स्पीड से दुगुनी रफ्तार यानि लगभग 2222 किलोमीटर/ घंटे की रफ्तार से बेहद कम आवाज के साथ उड़ सकता है।

लो बूम के चलते यात्री सुपरसोनिक स्पीड पर यात्रा कर सकते हैं और किसी तरह का ध्वनि प्रदूषण भी इन प्लेन से नहीं फैलता है।

लो बूम के चलते यात्री सुपरसोनिक स्पीड पर यात्रा कर सकते हैं और किसी तरह का ध्वनि प्रदूषण भी इन प्लेन से नहीं फैलता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios