Asianet News Hindi

अगर बेचने जा रहे हैं पुरानी कार तो इन बातों का जरूर रखें खास ख्याल, नहीं तो हो सकते हैं ये नुकसान

First Published Apr 6, 2021, 2:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क. अक्सर जब भी बाजार में कोई नई गाड़ी आती है और वो पसंद आ जाती है तो लोग अपनी पुरानी गाड़ियों को बेच देते हैं। ऐसे में पुरानी गाड़ियां बेचते समय कुछ जरूरी बातों का ध्यान भी रखना जरूरी है। इससे आपकी कार को बढ़ियां वैल्यू मिलेगी। लेकिन, इसके लिए आपको होम वर्क करना पड़ेगा। इस रिपोर्ट में आपको कुछ ऐसे शानदानर टिप्स बता रहे हैं, जिनकी मदद से आपको पुरानी गाड़ी के अच्छे दाम दिलाने में मदद कर सकते हैं। 

जब भी आप अपनी कार बेचने की तैयारी की जाए तो उससे पहले अगर अपनी कार की रीसेल वैल्यू का पता लगवा लें तो आपको आसानी होगी, साथ ही आपको ये अंदाजा लग जाएगा कि कार की डिमांड कितनी रखनी है। इसके लिए आप इंटरनेट का सहारा ले सकते है, डीलर से बात कर सकते है। इसके लिए आप तीन से चार डीलर्स से बात करें।

जब भी आप अपनी कार बेचने की तैयारी की जाए तो उससे पहले अगर अपनी कार की रीसेल वैल्यू का पता लगवा लें तो आपको आसानी होगी, साथ ही आपको ये अंदाजा लग जाएगा कि कार की डिमांड कितनी रखनी है। इसके लिए आप इंटरनेट का सहारा ले सकते है, डीलर से बात कर सकते है। इसके लिए आप तीन से चार डीलर्स से बात करें।

दूसरी जरूरी बात है कि आपकी कार जितनी साफ-सुथरी होगी और अच्छी कंडीशन में होगी, आपको उसकी वैल्यू उतनी ही अच्छी मिलेगी। इसलिए, कार को किसी को दिखाने से पहले उसकी अच्छे से वॉशिंग और सफाई कर लें। बेहतर होगा कि आप कार की वाशिंग किसी सर्विस सेंट से करा लें। 

दूसरी जरूरी बात है कि आपकी कार जितनी साफ-सुथरी होगी और अच्छी कंडीशन में होगी, आपको उसकी वैल्यू उतनी ही अच्छी मिलेगी। इसलिए, कार को किसी को दिखाने से पहले उसकी अच्छे से वॉशिंग और सफाई कर लें। बेहतर होगा कि आप कार की वाशिंग किसी सर्विस सेंट से करा लें। 

आपको एक बात का जरूर ध्यान रखना चाहिए कि आपकी कार की जितनी मार्केट वैल्यू या रीसेल वैल्यू है, आपको उस कीमत से करीब 10 से 15 हजार रुपए बढ़ाकर ही बताएं, क्योंकि मोल भाव करने के बाद दाम कम करने पड़ते हैं। फिक्स दाम पर कार बेचने से बचें।

आपको एक बात का जरूर ध्यान रखना चाहिए कि आपकी कार की जितनी मार्केट वैल्यू या रीसेल वैल्यू है, आपको उस कीमत से करीब 10 से 15 हजार रुपए बढ़ाकर ही बताएं, क्योंकि मोल भाव करने के बाद दाम कम करने पड़ते हैं। फिक्स दाम पर कार बेचने से बचें।

अगर आप कार बेचने के लिए अगर एड निकलवा रहे हैं तो ध्यान दें कि विज्ञापन के लिए कार की बेहतर क्वालिटी वाली फोटो होनी चाहिए, इससे इम्प्रेशन अच्छा पड़ता है। 
 

अगर आप कार बेचने के लिए अगर एड निकलवा रहे हैं तो ध्यान दें कि विज्ञापन के लिए कार की बेहतर क्वालिटी वाली फोटो होनी चाहिए, इससे इम्प्रेशन अच्छा पड़ता है। 
 

जब भी किसी को कार दिखाने/बेचनें जा रहे हों, तो कार के पूरे पेपर्स साथ रखें ताकि सामने वाले को आप पर पूरा विश्वास हो सके। आप सर्विस रिकॉर्ड्स, टायर और बैटरी की वारंदी की रसीदें भी संभालकर रखें। इसके बाद ही कार बेचने निकलें। 
 

जब भी किसी को कार दिखाने/बेचनें जा रहे हों, तो कार के पूरे पेपर्स साथ रखें ताकि सामने वाले को आप पर पूरा विश्वास हो सके। आप सर्विस रिकॉर्ड्स, टायर और बैटरी की वारंदी की रसीदें भी संभालकर रखें। इसके बाद ही कार बेचने निकलें। 
 

जब डील तय कर रहे हो तो मोल-भाव उचित करें लेकिन, ज्यादा से ज्यादा पैसा ऐंठने की जुगाड़ में न रहें। आप पेमेंट चेक या कैश किसी भी तरह से ले सकते हैं। यदि आपको पेमेंट चेक से मिल रही है तो चेक क्लियर होने पर ही गाड़ी के सारे पेपर्स दें।

जब डील तय कर रहे हो तो मोल-भाव उचित करें लेकिन, ज्यादा से ज्यादा पैसा ऐंठने की जुगाड़ में न रहें। आप पेमेंट चेक या कैश किसी भी तरह से ले सकते हैं। यदि आपको पेमेंट चेक से मिल रही है तो चेक क्लियर होने पर ही गाड़ी के सारे पेपर्स दें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios