Asianet News Hindi

आज भी अपने पिता की खटारा कार रखते हैं बाइडन, राष्ट्रपति बनने के बाद चलेंगे बम को मात देने वाली इस गाड़ी में

First Published Jan 20, 2021, 8:20 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

ऑटो डेस्क : अमेरिका में बुधवार को होने वाले राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह (president's oath ceremony) पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुई हैं। भारतीय समय के अनुसार यह कार्यक्रम रात 10.30 बजे होगा। जिसमें जो बाइडन (Joe Biden) राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे, वहीं, कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी। बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति का वैश्विक स्तर पर गहरा प्रभाव होता है। अमेरिका के प्रेसीडेंट (american president) की लाइफ भी बहुत लग्जरियस होती है। उनके घर से लेकर उनकी कार तक सब टॉप क्लास होता है, तो चलिए आज हम आपको बताते है अमेरिका के राष्ट्रपति की शाही कार 'द बीस्ट' के बारे में और अभी तक जो बाइडन किस कार में घूमते थे उसके बारे में.....

अमेरिका के सबसे पावरफुल इंसान होने के साथ ही जो बाइडन एक कार लवर भी है। उनके पिता 34 सालों तक डेलावेयर में कार डीलरशिप मैनेज करते थे। इसलिए बाइडेन को भी कारों से बहुत लगाव है। 

अमेरिका के सबसे पावरफुल इंसान होने के साथ ही जो बाइडन एक कार लवर भी है। उनके पिता 34 सालों तक डेलावेयर में कार डीलरशिप मैनेज करते थे। इसलिए बाइडेन को भी कारों से बहुत लगाव है। 

1951 में लिए स्टडबेकर कार उनके पिता की पहली कार थी। शायद ये कार आज भी बाइडन के पास है। बेहतरीन डिजाइन के कारण इस कार बुलेट- नोज़ कार कहा जाता था।

1951 में लिए स्टडबेकर कार उनके पिता की पहली कार थी। शायद ये कार आज भी बाइडन के पास है। बेहतरीन डिजाइन के कारण इस कार बुलेट- नोज़ कार कहा जाता था।

इसके साथ ही उनके पास एक मर्सिडीज-बेंज 190SL भी हैं। ये मॉडल 1955-63 का बीच का हो सकता है। इस गाड़ी का लुक और फीचर्स कमाल के है। इसमें 1.9 एल स्ट्रेट-फोर एसओएचसी इंजन है, जो 104 हॉर्सपावर एनर्जी प्रोड्यूस कर सकता है।

इसके साथ ही उनके पास एक मर्सिडीज-बेंज 190SL भी हैं। ये मॉडल 1955-63 का बीच का हो सकता है। इस गाड़ी का लुक और फीचर्स कमाल के है। इसमें 1.9 एल स्ट्रेट-फोर एसओएचसी इंजन है, जो 104 हॉर्सपावर एनर्जी प्रोड्यूस कर सकता है।

Chevrolet Corvette कार उनके दिल के बहुत करीब है। यह 1967 का मॉडल है। ये कार बाइडन को अपने पिता से शादी में गिफ्ट के रूप में मिली थी, जो उनके पास आज भी हैं। विंटेज लुक और पावरफुल होने के साथ ही ये उनके लिए बहुत खास है।

Chevrolet Corvette कार उनके दिल के बहुत करीब है। यह 1967 का मॉडल है। ये कार बाइडन को अपने पिता से शादी में गिफ्ट के रूप में मिली थी, जो उनके पास आज भी हैं। विंटेज लुक और पावरफुल होने के साथ ही ये उनके लिए बहुत खास है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के रूप में उनके पास द बीस्ट (The Beast) कार हैं। यह लिमोजिन कैटेगरी में आने वाली Cadillac कार है और इसे खास तरह से प्रेसीडेंट के लिए डिजाइन किया गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के रूप में उनके पास द बीस्ट (The Beast) कार हैं। यह लिमोजिन कैटेगरी में आने वाली Cadillac कार है और इसे खास तरह से प्रेसीडेंट के लिए डिजाइन किया गया है।

इस गाड़ी की खासियत ऐसी है कि कोई कितना भी इसे नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर ले लेकिन राष्ट्रपति का बाल भी बांका नहीं कर सकता। कार की बॉडी पांच इंच मोटी है, जो स्टील, टाइटेनियम, एल्यूमीनियम और सिरामिक से बनी है। इस पर बम, गोले, रॉकेट का भी कोई असर नहीं होगा।

इस गाड़ी की खासियत ऐसी है कि कोई कितना भी इसे नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर ले लेकिन राष्ट्रपति का बाल भी बांका नहीं कर सकता। कार की बॉडी पांच इंच मोटी है, जो स्टील, टाइटेनियम, एल्यूमीनियम और सिरामिक से बनी है। इस पर बम, गोले, रॉकेट का भी कोई असर नहीं होगा।

इसे साल 2018 में अमेरिकी राष्ट्रपति के काफिले में शामिल किया गया था। सुरक्षा के लिहाज से यह सर्वश्रेष्ठ कारों में से एक है। ट्रंप के बाद ये कार बाइडन की सुरक्षा करेगी।

इसे साल 2018 में अमेरिकी राष्ट्रपति के काफिले में शामिल किया गया था। सुरक्षा के लिहाज से यह सर्वश्रेष्ठ कारों में से एक है। ट्रंप के बाद ये कार बाइडन की सुरक्षा करेगी।

कार की खिड़की पॉली कार्बोनेट की पांच परतों से बनी हुई है और यह इतनी मजबूत है किसी भी बंदूक से चलाई गई गोली को अंदर आने से रोक सकती है। इस कार में केवल ड्राइवर की विंडो ही खुल सकती है और वो भी सिर्फ 3 इंच तक।

कार की खिड़की पॉली कार्बोनेट की पांच परतों से बनी हुई है और यह इतनी मजबूत है किसी भी बंदूक से चलाई गई गोली को अंदर आने से रोक सकती है। इस कार में केवल ड्राइवर की विंडो ही खुल सकती है और वो भी सिर्फ 3 इंच तक।

कार के अंदर राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए पंप एक्शन शॉटगन, तोप और ब्लेड बैग जैसी अत्याधुनिक सुरक्षा की व्यवस्था है। इस कार को सिर्फ सीक्रेट सर्विस के ट्रेंड कमांडो ड्राइवर चलाते है जो किसी भी परिस्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं।

कार के अंदर राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए पंप एक्शन शॉटगन, तोप और ब्लेड बैग जैसी अत्याधुनिक सुरक्षा की व्यवस्था है। इस कार को सिर्फ सीक्रेट सर्विस के ट्रेंड कमांडो ड्राइवर चलाते है जो किसी भी परिस्थिति का सामना करने में सक्षम होते हैं।

इस कार के अंदर बल्ड बैंक से लेकर ऑक्सीजन सप्लाई की सुविधा दी गई है, जिससे मुश्किल के दौरान राष्ट्रपति को किसी भी अनहोनी से बचाया जा सके। 

इस कार के अंदर बल्ड बैंक से लेकर ऑक्सीजन सप्लाई की सुविधा दी गई है, जिससे मुश्किल के दौरान राष्ट्रपति को किसी भी अनहोनी से बचाया जा सके। 

रात में ये कार किसी पहरेदार का काम करती है। इस कार में नाइट विजन कैमरा लगा है, जिससे यह अपने दुश्मनों को रात में भी देख सकती है। साथ ही ये दुश्मन को सेकंड्स में तबाह कर सकती है।

रात में ये कार किसी पहरेदार का काम करती है। इस कार में नाइट विजन कैमरा लगा है, जिससे यह अपने दुश्मनों को रात में भी देख सकती है। साथ ही ये दुश्मन को सेकंड्स में तबाह कर सकती है।

इस कार का फ्यूल टैंक आर्मर प्लेटेड फ्यूल टैंक हैं, जो किसी भी हमले को झेलने में सक्षम है। अगर कोई दुश्मन उसके फ्यूल टैंक को निशाना बना कर हमला करता तो भी वो नाकाम हो जाएगा।

इस कार का फ्यूल टैंक आर्मर प्लेटेड फ्यूल टैंक हैं, जो किसी भी हमले को झेलने में सक्षम है। अगर कोई दुश्मन उसके फ्यूल टैंक को निशाना बना कर हमला करता तो भी वो नाकाम हो जाएगा।

कार का निचला हिस्सा रिइंफोर्स्ड स्टील प्लेट से बना है जो कार को बम और लैंड माइन्स से सुरक्षा देता करता है। इसका मतलब इस गाड़ी को विस्फोट से भी नहीं उड़ाया जा सकता है।

कार का निचला हिस्सा रिइंफोर्स्ड स्टील प्लेट से बना है जो कार को बम और लैंड माइन्स से सुरक्षा देता करता है। इसका मतलब इस गाड़ी को विस्फोट से भी नहीं उड़ाया जा सकता है।

अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए हमेशा ही सबसे शक्तिशाली कारों का इस्तेमाल किया जाता है। साल 1910 में पहली अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए स्पेशल कार बनाई गई थी जिसे बाद में राष्ट्रपति हर्बर्ट हऊवर ने कैडिलैक कार से बदल दिया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए हमेशा ही सबसे शक्तिशाली कारों का इस्तेमाल किया जाता है। साल 1910 में पहली अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए स्पेशल कार बनाई गई थी जिसे बाद में राष्ट्रपति हर्बर्ट हऊवर ने कैडिलैक कार से बदल दिया था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios