Asianet News Hindi

चप्पल-कैंची से कड़ाही तक, बिहार में 12 नई पार्टियों को चुनाव आयोग ने दिया ये सिंबल; देखें

First Published Sep 16, 2020, 10:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पटना (Bihar)। बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारियों में निर्वाचन आयोग भी जुटा हुआ है। आयोग ने राज्‍य के 12 क्षेत्रीय दलों को चुनाव चिह्न आवंटित कर दिए हैं। जिसमें इस बार पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) की हिंदुस्तानी आवाम पार्टी (हम) को कड़ाही का चुनाव चिह्न मिला है। जबकि, पूर्व सांसद पप्पू यादव (Pappu Yadav) की जन अधिकार पार्टी (जाप) को कैंची का सिंबल दिया गया है। बता दें कि पहले हम का चुनाव चिन्ह टेलीफोन था, वहीं, जाम का हाथी। जिसे आयोग ने इस बार बदल दिया है।


निर्वाचन आयोग ने 12 क्षेत्रीय दलों के लिए चुनाव चिह्न की घोषणा कर दी है। इस बार जनतांत्रिक लोकहित पार्टी को टेलीविजन, जनता दल राष्ट्रीय को डोली, आम जनता पार्टी राष्ट्रीय को चप्पल, लोकतांत्रिक जन स्वराज पार्टी को कैरमबोर्ड चुनाव सिंबल दिया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)


निर्वाचन आयोग ने 12 क्षेत्रीय दलों के लिए चुनाव चिह्न की घोषणा कर दी है। इस बार जनतांत्रिक लोकहित पार्टी को टेलीविजन, जनता दल राष्ट्रीय को डोली, आम जनता पार्टी राष्ट्रीय को चप्पल, लोकतांत्रिक जन स्वराज पार्टी को कैरमबोर्ड चुनाव सिंबल दिया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)


निर्वाचन आयोग ने इसी तरह भारतीय लोक नायक पार्टी को रोड रोलर, राष्ट्रीय जन जन पार्टी को बैट, राष्ट्रीय जन विकास पार्टी को बेबी वॉकर, हिंदुस्तान संपूर्ण आजाद पार्टी को बैलून, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया राष्ट्रीय को दूरबीन और मजदूर एकता पार्टी को हैंडकार्ट चुनाव चिन्ह आवंटित किया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)


निर्वाचन आयोग ने इसी तरह भारतीय लोक नायक पार्टी को रोड रोलर, राष्ट्रीय जन जन पार्टी को बैट, राष्ट्रीय जन विकास पार्टी को बेबी वॉकर, हिंदुस्तान संपूर्ण आजाद पार्टी को बैलून, रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया राष्ट्रीय को दूरबीन और मजदूर एकता पार्टी को हैंडकार्ट चुनाव चिन्ह आवंटित किया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)


हिंदुस्तानी आवाम पार्टी को कड़ाही, जन अधिकार पार्टी को कैंची के सिंबल के अलावा जनता दल राष्ट्रवादी को डोली, भारतीय लोकनायक पार्टी को रोड रोलर तथा आम जनता पार्टी राष्ट्रीय को चप्पल के सिंबल मिले हैं।
(प्रतीकात्मक फोटो)


हिंदुस्तानी आवाम पार्टी को कड़ाही, जन अधिकार पार्टी को कैंची के सिंबल के अलावा जनता दल राष्ट्रवादी को डोली, भारतीय लोकनायक पार्टी को रोड रोलर तथा आम जनता पार्टी राष्ट्रीय को चप्पल के सिंबल मिले हैं।
(प्रतीकात्मक फोटो)


निर्वाचन आयोग की तैयारियों को देखते हुए लग रहा है है कि बिहार विधानसभा चुनाव की घोषणा अक्‍टूबर के पहले सप्‍ताह में हो संभावित है। 


निर्वाचन आयोग की तैयारियों को देखते हुए लग रहा है है कि बिहार विधानसभा चुनाव की घोषणा अक्‍टूबर के पहले सप्‍ताह में हो संभावित है। 


बिहार के दो दिवसीय दौरे पर आई निर्वाचन आयोग की टीम ने भागलपुर में मंगलवार को 12 जिलों के डीएम व एसपी के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर की गई तैयारियों की समीक्षा की। जिलाधिकारियों ने पीपीटी (पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन) के जरिये भौगोलिक स्थिति की जानकारी आयोग को दी। नक्सल और बाढ़ प्रभावित बूथों की वैकल्पिक व्यवस्था के अलावा वोटरों की सुरक्षा को लेकर की गई तैयारियों की जानकारी भी दी।
 


बिहार के दो दिवसीय दौरे पर आई निर्वाचन आयोग की टीम ने भागलपुर में मंगलवार को 12 जिलों के डीएम व एसपी के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर की गई तैयारियों की समीक्षा की। जिलाधिकारियों ने पीपीटी (पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन) के जरिये भौगोलिक स्थिति की जानकारी आयोग को दी। नक्सल और बाढ़ प्रभावित बूथों की वैकल्पिक व्यवस्था के अलावा वोटरों की सुरक्षा को लेकर की गई तैयारियों की जानकारी भी दी।
 


जन अधिकार पार्टी के अध्‍यक्ष पप्पू यादव ने तंज कसा कि पार्टी सभी 243 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। अब कैंची के सहारे जनता भ्रष्ट्राचारियों और लुटेरों के पर कतरेगी। कैंची जनता के सामने एक विकल्प के रूप में होगी। उन्‍होंने विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी की जीत को तय बताया।


जन अधिकार पार्टी के अध्‍यक्ष पप्पू यादव ने तंज कसा कि पार्टी सभी 243 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। अब कैंची के सहारे जनता भ्रष्ट्राचारियों और लुटेरों के पर कतरेगी। कैंची जनता के सामने एक विकल्प के रूप में होगी। उन्‍होंने विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी की जीत को तय बताया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios