Asianet News Hindi

प्रेमी ने नदी में फेंका,बह रही लकड़ी बनी प्रेमिका का सहारा,पुलिस ने बचाया, किसी फिल्म से कम नहीं ये लव स्टोरी

First Published Sep 16, 2020, 9:26 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भागलपुर (Bihar) ।  पहले प्यार (love) किया फिर धोखे में रखकर शादी (wedding) की। पहली पत्नी (wife) से विवाद होने लगा तो प्रेमिका (lover) को रास्ते से हटाने के लिए नदी में फेंक दिया और मरा समझकर फरार हो गया। लेकिन, उसे नदी में बह रही लकड़ी का सहारा मिल गया। संयोग से इसी समय शराब तस्करी की कार्रवाई में जुटी पुलिस (police) को महिला की आवाज सुनाई दी। इसके बाद पुलिस ने मदरौनी गांव के समीप उसे सुरक्षित बाहर निकाल लिया। घटना रविवार की देर रात की बताई जा रही है। इसके बाद पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है


बिहारीगंज निवासी अरविंद पासवान और पश्चिम बंगाल की रहने वाली संजू सोशल साइट पर चैटिंग के जरिए एक दूसरे के करीब आए और शादी कर लिए। बीते दो सालों से वह उसे बिहारी गंज में किराए का कमरा लेकर रख रहा था। उसका सारा खर्च वही वहन कर रहा था। 

(प्रतीकात्मक फोटो)


बिहारीगंज निवासी अरविंद पासवान और पश्चिम बंगाल की रहने वाली संजू सोशल साइट पर चैटिंग के जरिए एक दूसरे के करीब आए और शादी कर लिए। बीते दो सालों से वह उसे बिहारी गंज में किराए का कमरा लेकर रख रहा था। उसका सारा खर्च वही वहन कर रहा था। 

(प्रतीकात्मक फोटो)


संजू का आरोप है कि हाल के महीने में वह उसके साथ रहने के बजाय काम की अधिकता बताकर वह कई दिनों से नहीं आ रहा था। जब भी उसे बाहर होने का कारण पूछती वह टाल दे रहा था।
।

( प्रतीकात्मक फोटो) 


संजू का आरोप है कि हाल के महीने में वह उसके साथ रहने के बजाय काम की अधिकता बताकर वह कई दिनों से नहीं आ रहा था। जब भी उसे बाहर होने का कारण पूछती वह टाल दे रहा था।

( प्रतीकात्मक फोटो) 


पहले से शादीशुदा अरविंद की पत्नी सोनी देवी को इसकी भनक लगी तो घर में रोज विवाद होने लगा। विवाद बढ़ा तो अरविंद संजू को हटाने का प्लान बना डाला। जिसके तहत अपने रिश्ते में चचेरे साले मनीष के दोस्त से संजू को विशु राउत पुल पर लाया। वहां दोनों ने मिलकर उसे कोसी नदी में फेंक दिया। 

( प्रतीकात्मक फोटो) 


पहले से शादीशुदा अरविंद की पत्नी सोनी देवी को इसकी भनक लगी तो घर में रोज विवाद होने लगा। विवाद बढ़ा तो अरविंद संजू को हटाने का प्लान बना डाला। जिसके तहत अपने रिश्ते में चचेरे साले मनीष के दोस्त से संजू को विशु राउत पुल पर लाया। वहां दोनों ने मिलकर उसे कोसी नदी में फेंक दिया। 

( प्रतीकात्मक फोटो) 


नदी थानाध्यक्ष मुहम्मद मकबूल के मुताबिक पुलिस शराब तस्करी प्रकरण में जब्त नाव को लेकर थाने जा रही थी। तभी, महिला की आवाज सुनी। वह नदी में बह रही लकड़ी का सहारा लिए हुई थी। जिसे पुलिस ने बाहर निकाला।


नदी थानाध्यक्ष मुहम्मद मकबूल के मुताबिक पुलिस शराब तस्करी प्रकरण में जब्त नाव को लेकर थाने जा रही थी। तभी, महिला की आवाज सुनी। वह नदी में बह रही लकड़ी का सहारा लिए हुई थी। जिसे पुलिस ने बाहर निकाला।


नदी से बाहर आई संजू ने पुलिस को बताया कि आर्थिक तंगी खत्म करने के लिए अरविंद पासवान झोलाछाप डॉक्टर बन गांव-गांव लोगों का उपचार करता था। उसे यह नहीं मालूम था कि वह पहले से शादीशुदा है। छ:ह बच्चे का बाप भी है। उसने प्यार में धोखा तो दिया ही, वह इतना गिर गया कि उसकी जान तक लेने पर उतारू हो गया और उसकी जिंदगी नरक बना दी।


नदी से बाहर आई संजू ने पुलिस को बताया कि आर्थिक तंगी खत्म करने के लिए अरविंद पासवान झोलाछाप डॉक्टर बन गांव-गांव लोगों का उपचार करता था। उसे यह नहीं मालूम था कि वह पहले से शादीशुदा है। छ:ह बच्चे का बाप भी है। उसने प्यार में धोखा तो दिया ही, वह इतना गिर गया कि उसकी जान तक लेने पर उतारू हो गया और उसकी जिंदगी नरक बना दी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios