Asianet News Hindi

मां नहीं बन पाने पर मिलने लगा ताना, बहू ने पति को बताया नामर्द; ससुरालवालों ने जिंदा जला दिया

First Published Oct 14, 2020, 12:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुजफ्फरपुर (Bihar) । शादी के डेढ़ साल बाद ही विवाहिता को जिंदा जला देने का मामला सामने आ रहा है। मृतका के पिता का आरोप है कि उसके ससुराल वाले चाहते थे कि वो मां बन जाए, ऐसा न होने पर वे ताने देने शुरू कर दिए थे। इससे तंग आकर उसने पति के नामर्द होने जानकारी दी, जिससे गुस्से में आकर ससुरालवालों ने मंगलवार की रात उसे जिंदा जला दिए। वहीं, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही मृतका के सास और ससुर से भी पूछताछ कर रही है। यह घटना अहियापुर थाना के नाजिरपुर की है।

सीतामढी निवासी बलराम दास अयोध्या में साधु हैं। उनके बेटी अल्पना की शादी 19 फरवरी साल 2019 को मुजफ्फरपुर के नाजिरपुर निवासी प्रमोद ठाकुर के इंजीनियर बेटे गौरव ठाकुर से हुई थी।

सीतामढी निवासी बलराम दास अयोध्या में साधु हैं। उनके बेटी अल्पना की शादी 19 फरवरी साल 2019 को मुजफ्फरपुर के नाजिरपुर निवासी प्रमोद ठाकुर के इंजीनियर बेटे गौरव ठाकुर से हुई थी।

शादी के बाद से ही परिवार के लोग मां बनने का दबाव डालते थे। जिसे लेकर घर में कलह की स्थिति थी। आरोप है अल्पना के ससुराल वाले उसे ताना देते थे। आखिर में परेशान होकर उसने अपने माता-पिता को बताया कि उसका पति गौरव पिता बनने लायक नही है।

शादी के बाद से ही परिवार के लोग मां बनने का दबाव डालते थे। जिसे लेकर घर में कलह की स्थिति थी। आरोप है अल्पना के ससुराल वाले उसे ताना देते थे। आखिर में परेशान होकर उसने अपने माता-पिता को बताया कि उसका पति गौरव पिता बनने लायक नही है।

अल्पना के पिता बलराम दास ने जब यह बात गौरव के परिवार में उठाया तो बबाल मच गया। बताते हैं कि उन्होंने बेटी के सामने ही दामाद को डॉक्टरी इलाज कराने की सलाह दी थी। जिसके बाद सभी अल्पना को डांटने लगे थे। 

अल्पना के पिता बलराम दास ने जब यह बात गौरव के परिवार में उठाया तो बबाल मच गया। बताते हैं कि उन्होंने बेटी के सामने ही दामाद को डॉक्टरी इलाज कराने की सलाह दी थी। जिसके बाद सभी अल्पना को डांटने लगे थे। 

पिता ने आरोप लगाया कि पहले अल्पना को बेहोश किया गया और फिर जला दिया गया। मौके पर पहुंची अहियापुर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आरोपी पति गौरव को गिरफ्तार कर लिया।

पिता ने आरोप लगाया कि पहले अल्पना को बेहोश किया गया और फिर जला दिया गया। मौके पर पहुंची अहियापुर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आरोपी पति गौरव को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी गौरव और उसके माता-पिता का कहना है कि पारिवारिक विवाद में अल्पना ने खुद को जला लिया। लेकिन, परिवार में किसी ने भी उसे आग लगाते या चीखते चिल्लाते नहीं देखा।

आरोपी गौरव और उसके माता-पिता का कहना है कि पारिवारिक विवाद में अल्पना ने खुद को जला लिया। लेकिन, परिवार में किसी ने भी उसे आग लगाते या चीखते चिल्लाते नहीं देखा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios