Asianet News Hindi

बीमार पति की खातिर गोविंदा की इस एक्ट्रेस ने दांव पर लगा दिया था करियर, अब है 3 बच्चों की मां

First Published Jan 21, 2021, 8:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। 90 के दशक में गोविंदा (Govinda) की हीरोइन रह चुकीं एक्ट्रेस रितु शिवपुरी (Ritu Shivpuri) 46 साल की हो गई हैं। 22 जनवरी, 1975 को मुंबई में जन्मी रितु शिवपुरी ने 28 साल पहले 1993 में आई सुपरहिट फिल्म 'आंखें' से करियर शुरू किया था। हालांकि इस फिल्म को छोड़ दिया जाए तो रितु की और कोई भी फिल्म कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी। कई सालों तक फिल्मों में अपनी किस्मत आजमाने के बाद भी जब रितु को सफलता नहीं मिली तो 2006 में उन्होंने बॉलीवुड छोड़ अपनी शादीशुदा जिंदगी पर फोकस करना शुरू कर दिया। यहां तक कि बीमार पति के लिए रितु ने अपना करियर भी दांव पर लगा दिया था। 

हिंदी के साथ ही कन्नड़ सिनेमा में काम कर चुकीं रितु शिवपुरी मशहूर एक्टर ओम और सुधा शिवपुरी की बेटी हैं। रितु शिवपुरी ने हरि वेंकट से शादी की है और उनके तीन बच्चे हैं। बेटे का नाम रोहिल, जबकि बेटियों के समारा और राया हैं। 

हिंदी के साथ ही कन्नड़ सिनेमा में काम कर चुकीं रितु शिवपुरी मशहूर एक्टर ओम और सुधा शिवपुरी की बेटी हैं। रितु शिवपुरी ने हरि वेंकट से शादी की है और उनके तीन बच्चे हैं। बेटे का नाम रोहिल, जबकि बेटियों के समारा और राया हैं। 

रितु शिवपुरी ने एक इंटरव्यू में कहा था- 2006 में मैंने एक टीवी शो में काम किया, जिसके लिए मुझे 18-20 घंटे शूटिंग करनी पड़ती थी। जब मैं शूटिंग से वापस आती, तो हसबैंड सो चुके होते थे। तब मुझे अहसास हुआ कि मैं अपने परिवार के साथ ठीक नहीं कर रही और फिर मैंने एक्टिंग छोड़ दी।

रितु शिवपुरी ने एक इंटरव्यू में कहा था- 2006 में मैंने एक टीवी शो में काम किया, जिसके लिए मुझे 18-20 घंटे शूटिंग करनी पड़ती थी। जब मैं शूटिंग से वापस आती, तो हसबैंड सो चुके होते थे। तब मुझे अहसास हुआ कि मैं अपने परिवार के साथ ठीक नहीं कर रही और फिर मैंने एक्टिंग छोड़ दी।

हालांकि, बाद में उन्होंने इंडस्ट्री में वापसी करने की कोशिश तो की लेकिन पति की बीमारी के चलते उन्होंने अपना इरादा बदल दिया। दरअसल, रितु के पति हरि वेंकट को पीठ में ट्यूमर हो गया था, जिसकी चलते उन्होंने अपने करियर से कहीं ज्यादा महत्व पति को देना ठीक समझा। 

हालांकि, बाद में उन्होंने इंडस्ट्री में वापसी करने की कोशिश तो की लेकिन पति की बीमारी के चलते उन्होंने अपना इरादा बदल दिया। दरअसल, रितु के पति हरि वेंकट को पीठ में ट्यूमर हो गया था, जिसकी चलते उन्होंने अपने करियर से कहीं ज्यादा महत्व पति को देना ठीक समझा। 

2014 में एक इंटरव्यू के दौरान रितु ने बताया था- काम और शूटिंग की वजह से कई बार मैं अपने पति और परिवार को वक्त नहीं दे पाती थी। मुझे लगता था कि कहीं करियर के चक्कर में मैं अपने परिवार को न गवां दूं। हालांकि मेरे पति बेहद सीधे शख्स हैं और उन्होंने कभी इस बात को लेकर शिकायत नहीं की लेकिन जब मुझे ऐसा लगा तो मैंने परिवार को वक्त देने का फैसला किया। 

2014 में एक इंटरव्यू के दौरान रितु ने बताया था- काम और शूटिंग की वजह से कई बार मैं अपने पति और परिवार को वक्त नहीं दे पाती थी। मुझे लगता था कि कहीं करियर के चक्कर में मैं अपने परिवार को न गवां दूं। हालांकि मेरे पति बेहद सीधे शख्स हैं और उन्होंने कभी इस बात को लेकर शिकायत नहीं की लेकिन जब मुझे ऐसा लगा तो मैंने परिवार को वक्त देने का फैसला किया। 

फिल्मों से ब्रेक लेकर रितु ने बतौर ज्वैलरी डिजाइनर काम करना शुरू किया। हालांकि बाद में जब रितु के बच्चे बड़े हो गए तो उन्होंने 2016 में अनिल कपूर के शो '24' से वापसी की। इसमें उन्होंने डॉक्टर सनी मेहता का किरदार निभाया। रितु ने कहा था- अब मेरे बच्चे समझदार हो चुके हैं, तो मुझे समय मिल जाता है। इसलिए एक्ट‍िंग की दुनिया में लौट रही हूं।

फिल्मों से ब्रेक लेकर रितु ने बतौर ज्वैलरी डिजाइनर काम करना शुरू किया। हालांकि बाद में जब रितु के बच्चे बड़े हो गए तो उन्होंने 2016 में अनिल कपूर के शो '24' से वापसी की। इसमें उन्होंने डॉक्टर सनी मेहता का किरदार निभाया। रितु ने कहा था- अब मेरे बच्चे समझदार हो चुके हैं, तो मुझे समय मिल जाता है। इसलिए एक्ट‍िंग की दुनिया में लौट रही हूं।

रितु ने कहा था- फिल्म इंडस्ट्री मेरे लिए घर की तरह है, क्योंकि मेरे पिता ओम शिवपुरी और मां सुधा पहले से ही फिल्मों में काम करते थे। लेकिन फिल्म में मेरा आना एक इत्तेफाक था। मैं मॉडलिंग कर रही थी, तभी पहलाज निहलानी अंकल ने मुझे देखा और 'आंखें' ऑफर कर दी। उस समय मेरी उम्र 17 साल थी। 
 

रितु ने कहा था- फिल्म इंडस्ट्री मेरे लिए घर की तरह है, क्योंकि मेरे पिता ओम शिवपुरी और मां सुधा पहले से ही फिल्मों में काम करते थे। लेकिन फिल्म में मेरा आना एक इत्तेफाक था। मैं मॉडलिंग कर रही थी, तभी पहलाज निहलानी अंकल ने मुझे देखा और 'आंखें' ऑफर कर दी। उस समय मेरी उम्र 17 साल थी। 
 

रितु ने कहा था- मैं जब 15 साल की थी तो पापा ने मुझे पहली बार शराब ऑफर की थी। साथ ही, ये हिदायत भी दी थी कि कभी मेरे बार के पास जाकर शराब मत उठाना। जो करना है मेरे सामने करना। मेरा भरोसा मत तोड़ना।

रितु ने कहा था- मैं जब 15 साल की थी तो पापा ने मुझे पहली बार शराब ऑफर की थी। साथ ही, ये हिदायत भी दी थी कि कभी मेरे बार के पास जाकर शराब मत उठाना। जो करना है मेरे सामने करना। मेरा भरोसा मत तोड़ना।

2017 में रितु शिवपुरी टीवी शो 'इस प्यार को क्या नाम दूं' के तीसरे सीजन में नजर आईं। इस सीरियल में रितु ने इंद्राणी नारायण वशिष्ट का रोल निभाया, जो कि एक नेगेटिव किरदार था। इसके बाद रितु 2019 में नजर और विष जैसे टीवी शोज में भी नजर आईं। 

2017 में रितु शिवपुरी टीवी शो 'इस प्यार को क्या नाम दूं' के तीसरे सीजन में नजर आईं। इस सीरियल में रितु ने इंद्राणी नारायण वशिष्ट का रोल निभाया, जो कि एक नेगेटिव किरदार था। इसके बाद रितु 2019 में नजर और विष जैसे टीवी शोज में भी नजर आईं। 

फिल्मों की बात करें तो रितु शिवपुरी ने आंखे के अलावा हम सब चोर हैं, रॉकडांसर, आर या पार, भाई भाई, काला साम्राज्य, हद कर दी आपने, लज्जा, शक्ति-द पॉवर, ऐलान और एक जिंद इक जान जैसी फिल्मों में काम किया है। 

फिल्मों की बात करें तो रितु शिवपुरी ने आंखे के अलावा हम सब चोर हैं, रॉकडांसर, आर या पार, भाई भाई, काला साम्राज्य, हद कर दी आपने, लज्जा, शक्ति-द पॉवर, ऐलान और एक जिंद इक जान जैसी फिल्मों में काम किया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios