Asianet News Hindi

PHOTOS: 46 की उम्र में ही नानी बन चुकी हैं रवीना टंडन, बेटी से महज 11 साल बड़ी है एक्ट्रेस

First Published May 16, 2021, 7:46 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। रवीना टंडन (Raveena Tandon) बॉलीवुड की उन हीरोइनों में से एक हैं, जो कम उम्र में ही मां बन गई थीं। दरअसल, रवीना ने शादी से पहले ही मां बनने का सपना पूरा कर लिया था और 1995 में पूजा और छाया नाम की दो बेटियों को गोद लिया था। आज के समय में छाया और पूजा अपने-अपने पति के साथ मैरिड लाइफ एन्जॉय कर रही हैं। बता दें कि 46 साल की रवीना टंडन अब नानी भी बन चुकी हैं। छाया का एक बेटा है, जिससे रवीना बेहद प्यार करती हैं। हाल ही में रवीना टंडन ने एक इंटरव्यू दिया है, जिसमें उन्होंने अपने नानी बनने की खुशी के अलावा और भी कई चीजों पर बात की। 

एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में रवीना ने कहा कि वो अपनी बड़ी बेटी छाया से सिर्फ 11 साल बड़ी हैं। रवीना के मुताबिक, वैसे जब भी नानी शब्द आता है, तो दिमाग में यही छवि उभरती है कि आप 70-80 साल के हैं। जब मैं अपनी लड़कियों को लेकर आई थी, तब मैं 22 साल की थी और मेरी बड़ी बेटी छाया 11 की। इसलिए वो मेरे लिए एक दोस्त की तरह है। हां रिश्ते में मैं उसकी मां और उसके बच्चों की नानी हूं।

एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में रवीना ने कहा कि वो अपनी बड़ी बेटी छाया से सिर्फ 11 साल बड़ी हैं। रवीना के मुताबिक, वैसे जब भी नानी शब्द आता है, तो दिमाग में यही छवि उभरती है कि आप 70-80 साल के हैं। जब मैं अपनी लड़कियों को लेकर आई थी, तब मैं 22 साल की थी और मेरी बड़ी बेटी छाया 11 की। इसलिए वो मेरे लिए एक दोस्त की तरह है। हां रिश्ते में मैं उसकी मां और उसके बच्चों की नानी हूं।

इससे पहले, एक अन्य इंटरव्यू में रवीना ने कहा था कि पूजा और छाया को गोद लेने का फैसला मेरा अपना था। रवीना बताती हैं कि अपने इस फैसले पर विचार उन्‍होंने 1994 में तभी शुरू कर दिया था, जब उनकी फिल्‍म 'मोहरा' रिलीज नहीं हुई थी। उन्होंने बताया था कि वो और उनकी मां अक्‍सर वीकेंड पर आशा सदन जाते थे।

इससे पहले, एक अन्य इंटरव्यू में रवीना ने कहा था कि पूजा और छाया को गोद लेने का फैसला मेरा अपना था। रवीना बताती हैं कि अपने इस फैसले पर विचार उन्‍होंने 1994 में तभी शुरू कर दिया था, जब उनकी फिल्‍म 'मोहरा' रिलीज नहीं हुई थी। उन्होंने बताया था कि वो और उनकी मां अक्‍सर वीकेंड पर आशा सदन जाते थे।

आशा सदन एक अनाथालय है। जब उनके कजिन की डेथ हुई तो उन्होंने पाया कि बच्‍च‍ियों के गार्जियन उनका ठीक से खयाल नहीं रख रहे थे। इसके बाद वो छाया और पूजा को अपने साथ घर ले आईं। उन्होंने तब ज्‍यादा नहीं सोचा। यह नैचुरली था। रवीना के मुताबिक, मैं पूजा और छाया को वो जिंदगी देना चाहती थी, जो उनका हक है। मैं कोई करोड़पति नहीं थी, लेकिन इतना जानती थी कि मैं इन बच्‍च‍ियों को बेहतर भविष्‍य दे सकती हूं। 

आशा सदन एक अनाथालय है। जब उनके कजिन की डेथ हुई तो उन्होंने पाया कि बच्‍च‍ियों के गार्जियन उनका ठीक से खयाल नहीं रख रहे थे। इसके बाद वो छाया और पूजा को अपने साथ घर ले आईं। उन्होंने तब ज्‍यादा नहीं सोचा। यह नैचुरली था। रवीना के मुताबिक, मैं पूजा और छाया को वो जिंदगी देना चाहती थी, जो उनका हक है। मैं कोई करोड़पति नहीं थी, लेकिन इतना जानती थी कि मैं इन बच्‍च‍ियों को बेहतर भविष्‍य दे सकती हूं। 

रवीना के मुताबिक, बहुत से लोगों ने तब नेगेटिव बातें की थीं। लोग कहते थे कि न जाने तब क्‍या होगा, जब मेरी शादी होगी। लोग कहते थे कि कोई मुझसे शादी नहीं करेगा क्‍योंकि उनके साथ ये दोनों बेटियां उनके पार्टनर के लिए बोझ की तरह हो जाएंगी। लेकिन, मैंने किसी की नहीं सुनी। मुझे खुशी है कि मेरे पति और ससुराल वालों ने भी पूजा और छाया को उतना ही प्‍यार दिया है, जितना मैं उनसे करती हूं। 

रवीना के मुताबिक, बहुत से लोगों ने तब नेगेटिव बातें की थीं। लोग कहते थे कि न जाने तब क्‍या होगा, जब मेरी शादी होगी। लोग कहते थे कि कोई मुझसे शादी नहीं करेगा क्‍योंकि उनके साथ ये दोनों बेटियां उनके पार्टनर के लिए बोझ की तरह हो जाएंगी। लेकिन, मैंने किसी की नहीं सुनी। मुझे खुशी है कि मेरे पति और ससुराल वालों ने भी पूजा और छाया को उतना ही प्‍यार दिया है, जितना मैं उनसे करती हूं। 

रवीना ने कहा था- उनके घर में आज वो सबकुछ है, जिससे एक खुशहाल घर बनता है। आपसी समझ, प्‍यार और एक-दूसरे के लिए सम्‍मान। रवीना ने ये भी कहा था कि 'पूजा, छाया, राशा और रणबीरवर्धन में बहुत प्‍यार है। आज दोनों बेटियों की शादी हो गई है और वो नानी भी बन गई हैं। दोनों अपने-अपने परिवार के साथ हैं। लेकिन, समय के साथ उनका रिश्‍ता और गहरा हुआ है।
 

रवीना ने कहा था- उनके घर में आज वो सबकुछ है, जिससे एक खुशहाल घर बनता है। आपसी समझ, प्‍यार और एक-दूसरे के लिए सम्‍मान। रवीना ने ये भी कहा था कि 'पूजा, छाया, राशा और रणबीरवर्धन में बहुत प्‍यार है। आज दोनों बेटियों की शादी हो गई है और वो नानी भी बन गई हैं। दोनों अपने-अपने परिवार के साथ हैं। लेकिन, समय के साथ उनका रिश्‍ता और गहरा हुआ है।
 

बता दें कि 2004 में रवीना ने बिजनसमैन और ड‍िस्‍ट्र‍िब्‍यूटर अनिल थडानी से शादी की। शादी के बाद रवीना ने बेटी राशा को 2005 में और बेटे रणबीरवर्धन को 2008 में जन्‍म दिया। इस तरह रवीना अब तीन बेटियों और एक बेटे को मिलाकर 4 बच्चों की मां हैं।

बता दें कि 2004 में रवीना ने बिजनसमैन और ड‍िस्‍ट्र‍िब्‍यूटर अनिल थडानी से शादी की। शादी के बाद रवीना ने बेटी राशा को 2005 में और बेटे रणबीरवर्धन को 2008 में जन्‍म दिया। इस तरह रवीना अब तीन बेटियों और एक बेटे को मिलाकर 4 बच्चों की मां हैं।

शादी के बाद भी रवीना टंडन अपनी गोद ली हुई बेटियों की पूरी जिम्मेदारी उठाती हैं। रवीना ने पूजा को अच्छी परवरिश और शिक्षा दी, जिसकी वजह से आज वो इवेंट डिजाइनर हैं। वहीं छाया एक एयर होस्टेस हैं।

शादी के बाद भी रवीना टंडन अपनी गोद ली हुई बेटियों की पूरी जिम्मेदारी उठाती हैं। रवीना ने पूजा को अच्छी परवरिश और शिक्षा दी, जिसकी वजह से आज वो इवेंट डिजाइनर हैं। वहीं छाया एक एयर होस्टेस हैं।

रवीना टंडन अपनी बड़ी बेटी छाया के बेटे यानी अपने नाती रूद्र से बेहद प्यार करती हैं। पिछले साल लॉकडाउन में रवीना टंडन ने सोशल मीडिया पर एक थ्रोबैक वीडियो शेयर किया था, जिसमें रवीना अपने नाती के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करती नजर आई थीं। इस वीडियो में रवीना अपने नाती को बोतल से दूध पिलाती नजर आई थीं। 

रवीना टंडन अपनी बड़ी बेटी छाया के बेटे यानी अपने नाती रूद्र से बेहद प्यार करती हैं। पिछले साल लॉकडाउन में रवीना टंडन ने सोशल मीडिया पर एक थ्रोबैक वीडियो शेयर किया था, जिसमें रवीना अपने नाती के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करती नजर आई थीं। इस वीडियो में रवीना अपने नाती को बोतल से दूध पिलाती नजर आई थीं। 

रवीना ने साल 1991 में सलमान खान के अपोजिट फिल्म 'पत्‍थर के फूल' से बॉलीवुड में डेब्‍यू किया था। फिल्‍म हिट हुई और रवीना सुपरहिट। इसके बाद उन्होंने 1994 में 'मोहरा', 'दिलवाले' और 'लाडला' जैसी फिल्‍मों में काम किया और स्टारडम को अपने नाम किया। इसी साल एक्ट्रेस ने मां बनने का फैसला किया और 1995 में उन्होंने इसे पूरा भी किया।

रवीना ने साल 1991 में सलमान खान के अपोजिट फिल्म 'पत्‍थर के फूल' से बॉलीवुड में डेब्‍यू किया था। फिल्‍म हिट हुई और रवीना सुपरहिट। इसके बाद उन्होंने 1994 में 'मोहरा', 'दिलवाले' और 'लाडला' जैसी फिल्‍मों में काम किया और स्टारडम को अपने नाम किया। इसी साल एक्ट्रेस ने मां बनने का फैसला किया और 1995 में उन्होंने इसे पूरा भी किया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios