बाबा रामदेव-मुकेश अंबानी दो दिन से लगातार मार्केट में उठा रहे नुकसान, कर्ज में डूबे इस कारोबारी की 'चांदी'

First Published 30, Jun 2020, 5:25 PM

बिजनेस डेस्क। कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के दौरान दुनियाभर के कारोबार पर बुरा असर पड़ा है। कई व्यवसाय ठप पड़ गए और स्टॉक मार्केट में दिग्गज कारोबारियों को भारी नुकसान उठाने पड़े। मगर इस दौरान स्टॉक मार्केट मेन कुछ कंपनियों की जबरदस्त चांदी रही। मुकेश अंबानी ने ग्लोबल मंदी के बावजूद बाजार से खूब पैसे बनाए। उनकी नेटवर्थ भी बढ़ी। बाबा रामदेव के पतंजलि की रुचि सोया ने तो मार्केट में तहलका ही मचा दिया। स्टॉक मार्केट में मात्र 17 रुपये का शेयर 1400 रुपये के ऊपर तक पहुंच गया। 
 

<p>मुकेश अंबानी और बाबा रामदेव की कंपनियों के शेयर में ये तेजी पिछले हफ्ते तक बनी रही। मगर इस हफ्ते पिछले दो दिन से लगातार नुकसान होता दिखाई दे रहा है। कोरोना महामारी के दूसरे दौर ने निवेशकों की चिंता बढ़ा दी है। खराब ग्लोबल संकेतों और देश के कुछ राज्यों में कंप्लीट लॉकडाउन की वजह से लगातार दूसरे दिन भारतीय स्टॉक मार्केट की हालत खराब रही। हालांकि सोमवार के मुक़ाबले आज ज्यादा गिरावट देखने को नहीं मिली। </p>

मुकेश अंबानी और बाबा रामदेव की कंपनियों के शेयर में ये तेजी पिछले हफ्ते तक बनी रही। मगर इस हफ्ते पिछले दो दिन से लगातार नुकसान होता दिखाई दे रहा है। कोरोना महामारी के दूसरे दौर ने निवेशकों की चिंता बढ़ा दी है। खराब ग्लोबल संकेतों और देश के कुछ राज्यों में कंप्लीट लॉकडाउन की वजह से लगातार दूसरे दिन भारतीय स्टॉक मार्केट की हालत खराब रही। हालांकि सोमवार के मुक़ाबले आज ज्यादा गिरावट देखने को नहीं मिली। 

<p>मगर मुकेश अंबानी की आरआईएल और बाबा रामदेव की रुचि सोया का शेयर लगातार दूसरे दिन नीचे गिरा। निफ्टी में 0.91 प्रतिशत गिरावट के साथ कारोबार के अंत में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1707.50 रुपये पर बंद हुआ। एक दिन पहले शेयर का भाव 1739 रुपये था। <br />
 </p>

मगर मुकेश अंबानी की आरआईएल और बाबा रामदेव की रुचि सोया का शेयर लगातार दूसरे दिन नीचे गिरा। निफ्टी में 0.91 प्रतिशत गिरावट के साथ कारोबार के अंत में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1707.50 रुपये पर बंद हुआ। एक दिन पहले शेयर का भाव 1739 रुपये था। 
 

<p>ठीक इसी तरह रुचि सोया के शेयर में आज 5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई। कारोबार के अंत में एनएसई में शेयर का भाव 1371.55 रुपये रहा। बताते चलें कि रुचि सोया पिछले साल दिवालिया हो गई थी। जिसके बाद पतंजलि आयुर्वेद ने इसका अधिग्रहण किया था। अधिग्रहण के बाद रुचि सोया के स्टॉक में 84 गुना इजाफा दर्ज हो चुका है। </p>

ठीक इसी तरह रुचि सोया के शेयर में आज 5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई। कारोबार के अंत में एनएसई में शेयर का भाव 1371.55 रुपये रहा। बताते चलें कि रुचि सोया पिछले साल दिवालिया हो गई थी। जिसके बाद पतंजलि आयुर्वेद ने इसका अधिग्रहण किया था। अधिग्रहण के बाद रुचि सोया के स्टॉक में 84 गुना इजाफा दर्ज हो चुका है। 

<p>अनिल अंबानी की भी कई कंपनियां स्टॉक मार्केट में लिस्टेड हैं। बताने की जरूरत नहीं है कि अनिल अंबानी की कंपनियों पर भारी कर्ज है और उनकी टेलिकॉम कंपनी डिफ़ाल्ट भी हो चुकी है। भारतीय बैंकों के अलावा अनिल पर चीन के तीन बैंकों का भी भारी भरकम कर्ज है। <br />
 </p>

अनिल अंबानी की भी कई कंपनियां स्टॉक मार्केट में लिस्टेड हैं। बताने की जरूरत नहीं है कि अनिल अंबानी की कंपनियों पर भारी कर्ज है और उनकी टेलिकॉम कंपनी डिफ़ाल्ट भी हो चुकी है। भारतीय बैंकों के अलावा अनिल पर चीन के तीन बैंकों का भी भारी भरकम कर्ज है। 
 

<p>स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने तो दिवालिया प्रक्रिया के तहत कर्ज वसूली के लिए ट्रिब्यूनल में केस दायर कर जल्द से जल्द फैसला सुनाने की मांग की है। जबकि चीनी बैंकों ने लंदन की कोर्ट में मामला दाखिल किया है। इसमें कोर्ट ने अनिल अंबानी के तर्कों को खारिज करते हुए कर्ज चुकाने की समय-सीमा दी है। अनिल पर चीनी बैंकों की  5448 करोड़ रुपये देनदारी है। </p>

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने तो दिवालिया प्रक्रिया के तहत कर्ज वसूली के लिए ट्रिब्यूनल में केस दायर कर जल्द से जल्द फैसला सुनाने की मांग की है। जबकि चीनी बैंकों ने लंदन की कोर्ट में मामला दाखिल किया है। इसमें कोर्ट ने अनिल अंबानी के तर्कों को खारिज करते हुए कर्ज चुकाने की समय-सीमा दी है। अनिल पर चीनी बैंकों की  5448 करोड़ रुपये देनदारी है। 

<p>दिलचस्प ये है कि कारोबारी मुश्किलों का सामना करने के बावजूद स्टॉक मार्केट में अनिल अंबानी की कंपनियों के शेयर अच्छा मुनाफा बना रहे हैं। पिछले दो दिन से जहां दिग्गज कंपनियों के भाव नीचे गिर रहे हैं वहीं अनिल की कंपनियों रिलायंस इन्फ्रा, रिलायंस पावर और रिलायंस कम्युनिकेशन के शेयरों में तेजी नजर आ रही है। </p>

दिलचस्प ये है कि कारोबारी मुश्किलों का सामना करने के बावजूद स्टॉक मार्केट में अनिल अंबानी की कंपनियों के शेयर अच्छा मुनाफा बना रहे हैं। पिछले दो दिन से जहां दिग्गज कंपनियों के भाव नीचे गिर रहे हैं वहीं अनिल की कंपनियों रिलायंस इन्फ्रा, रिलायंस पावर और रिलायंस कम्युनिकेशन के शेयरों में तेजी नजर आ रही है। 

<p>खराब संकेतों के बीच मंगलवार को भी करीब 4.88% तेजी के साथ रिलायंस इन्फ्रा का भाव 38.70 रुपये पर बंद हुआ। जबकि बीएसई में 4.85% रिलायंस पावर 4.54 रुपये और 4.97% तेजी के साथ रिलायंस कम्युनिकेशन 1.69 रुपये पर बंद हुआ। </p>

खराब संकेतों के बीच मंगलवार को भी करीब 4.88% तेजी के साथ रिलायंस इन्फ्रा का भाव 38.70 रुपये पर बंद हुआ। जबकि बीएसई में 4.85% रिलायंस पावर 4.54 रुपये और 4.97% तेजी के साथ रिलायंस कम्युनिकेशन 1.69 रुपये पर बंद हुआ। 

<p>इस तेजी के पीछे कुछ वजहों को जिम्मेदार माना जा रहा है। सबसे बड़ी वजह रिलायंस जियो का रिलायंस कम्युनिकेशन को खरीदने के लिए इच्छुक होना है। दूसरी वजह पिछले दिनों एजीएम में अनिल अंबानी का वह बयान है जिसमें उन्होंने कहा था कि वो अपनी कंपनी को अगले फाइनेंसियल ईयर तक कर्जमुक्त बना लेंगे। </p>

इस तेजी के पीछे कुछ वजहों को जिम्मेदार माना जा रहा है। सबसे बड़ी वजह रिलायंस जियो का रिलायंस कम्युनिकेशन को खरीदने के लिए इच्छुक होना है। दूसरी वजह पिछले दिनों एजीएम में अनिल अंबानी का वह बयान है जिसमें उन्होंने कहा था कि वो अपनी कंपनी को अगले फाइनेंसियल ईयर तक कर्जमुक्त बना लेंगे। 

<p>बताते चलें कि मंगलवार को मार्केट तेजी के साथ खुला था, लेकिन कारोबार के अंत में तेजी कायम नहीं रह पाई। सेंसेक्स 46 प्वाइंट नीचे गिरकर 34,916 पर जबकि निफ्टी 10 प्वाइंट गिरकर 10,302 पर बंद हुआ है। <br />
 </p>

बताते चलें कि मंगलवार को मार्केट तेजी के साथ खुला था, लेकिन कारोबार के अंत में तेजी कायम नहीं रह पाई। सेंसेक्स 46 प्वाइंट नीचे गिरकर 34,916 पर जबकि निफ्टी 10 प्वाइंट गिरकर 10,302 पर बंद हुआ है। 
 

loader