Asianet News Hindi

कोरोना के कारण हुई स्टॉफ की मौत तो फैमली को मिलेगी 60 साल तक सैलरी, बढ़ाई जाएंगी ये सुविधाएं

First Published May 24, 2021, 3:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क. कोरोना संक्रमण (covid-19) के कारण कई लोगों की मौतें हुई हैं। प्राइवेट कंपनियों (Private companies) के कर्मचारियों की नौकरी चली गई। संकट के समय में कंपनी कर्मचारी का क्या होगा? इसी बीच देश की कई कंपनियों अपने कर्मचारियों की मदद के लिए आगे आई हैं। किसी ने 60 साल तक अपने कर्मचारी को सैलरी देने की बात कही है तो किसी ने दो साल तक स्टॉफ के परिवार को वेतन देने की बात कही है। आइए जानते हैं इन कंपनियों के बारे में? 

टाटा स्टील की बड़ी घोषणा
टाटा स्टील कंपनी (Tata Steel Company) ने एक बड़ा फैसला लिया है। कंपनी के इस फैसले की तारीफ भी हो रही है। टाटा स्टील ने अपने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते कहा- यदि किसी स्टॉफ की मौत कोरोना के कारण होगी तो उसके परिवार को 60 साल तक पूरी सैलरी दी जाएगी। 

टाटा स्टील की बड़ी घोषणा
टाटा स्टील कंपनी (Tata Steel Company) ने एक बड़ा फैसला लिया है। कंपनी के इस फैसले की तारीफ भी हो रही है। टाटा स्टील ने अपने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखते कहा- यदि किसी स्टॉफ की मौत कोरोना के कारण होगी तो उसके परिवार को 60 साल तक पूरी सैलरी दी जाएगी। 

रहने के लिए मिलेगा क्वार्टर
इसके साथ ही कर्मचारी के परिवार को रहने के लिए ​क्वार्टर दिया जाएगा और साथ ही मेडिकल सुविधा भी दी जाएगी। बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च भी कंपनी उठाएगी। टाटा स्टील मैनेजमेंट ने इस संबंध में एक सर्कुलर जारी किया है। 

रहने के लिए मिलेगा क्वार्टर
इसके साथ ही कर्मचारी के परिवार को रहने के लिए ​क्वार्टर दिया जाएगा और साथ ही मेडिकल सुविधा भी दी जाएगी। बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च भी कंपनी उठाएगी। टाटा स्टील मैनेजमेंट ने इस संबंध में एक सर्कुलर जारी किया है। 

परिवार को मिलेगी मदद
कंपनी द्वारा जारी सर्कुलर में कहा गया है कि टाटा स्टील मैनेजमेंट ने अपने कर्मचारियों को सोशल सिक्योरिटी के तहत हर संभव मदद के लिए तैयार है। यदि कोरोना के कारण कंपनी के किसी कर्मचारी की डेथ होती है तो उसके परिवार को 60 सालों तक पूरी सैलरी दी जाएगी। हमारी कंपनी हमेशा से ही अपने कर्मचारियों और शेयर होल्डर की भलाई के बारे में सोचती रही है। आज भी हम वैसा ही कर रहे हैं। कोविड के दौर में भी टाटा स्टील अपने सभी कर्मचारियों और समुदाय के सामाजिक कल्याण (Social welfare of the community) के लिए लगातार कोशिशें कर रही है। 

परिवार को मिलेगी मदद
कंपनी द्वारा जारी सर्कुलर में कहा गया है कि टाटा स्टील मैनेजमेंट ने अपने कर्मचारियों को सोशल सिक्योरिटी के तहत हर संभव मदद के लिए तैयार है। यदि कोरोना के कारण कंपनी के किसी कर्मचारी की डेथ होती है तो उसके परिवार को 60 सालों तक पूरी सैलरी दी जाएगी। हमारी कंपनी हमेशा से ही अपने कर्मचारियों और शेयर होल्डर की भलाई के बारे में सोचती रही है। आज भी हम वैसा ही कर रहे हैं। कोविड के दौर में भी टाटा स्टील अपने सभी कर्मचारियों और समुदाय के सामाजिक कल्याण (Social welfare of the community) के लिए लगातार कोशिशें कर रही है। 

बजाज दो सालों तक देगी सैलरी
कोरोना संक्रमण के कारण में स्टॉफ की मदद में बजाज ऑटो सबसे पहले आगे आई है। कंपनी ने घोषणा कि थी कि अगर उसके किसी कर्मचारी की कोरोनो से मौत होती है तो उसके परिजनों को दो साल की सैलरी दी जाएगी। 
 

बजाज दो सालों तक देगी सैलरी
कोरोना संक्रमण के कारण में स्टॉफ की मदद में बजाज ऑटो सबसे पहले आगे आई है। कंपनी ने घोषणा कि थी कि अगर उसके किसी कर्मचारी की कोरोनो से मौत होती है तो उसके परिजनों को दो साल की सैलरी दी जाएगी। 
 

बच्चों की पढ़ाई का भी खर्च
साथ ही उसके बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च कंपनी उठाएगी। कंपनी ने कहा था कि कर्मचारी के परिवार का मेडिकल बीमा 5 साल रुपए तक बढ़ा दिया जाएगा। 

बच्चों की पढ़ाई का भी खर्च
साथ ही उसके बच्चों की पढ़ाई का पूरा खर्च कंपनी उठाएगी। कंपनी ने कहा था कि कर्मचारी के परिवार का मेडिकल बीमा 5 साल रुपए तक बढ़ा दिया जाएगा। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios