Asianet News Hindi

EMI से क्रेडिट कार्ड का बिल भरने में इन बातों का ध्यान रखना है जरूरी, नहीं तो हो सकता है नुकसान

First Published Jan 27, 2021, 12:13 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। आजकल ज्यादातर लोग क्रेडिट कार्ड (Credit Card) का इस्तेमाल करने लगे हैं। क्रेडिट कार्ड से यह फायदा है कि अगर कैश नहीं भी हो तो आप अपनी जरूरत के मुताबिक खरीददारी कर सकते हैं और बाद में उसका पेमेंट बैंक को कर सकते हैं। लगभग सभी बैंकों मे अपने क्रेडिट कार्ड जारी किए हैं। क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट मासिक किस्त (EMI) में भी किया जा सकता है। अगर आप क्रेडिट कार्ड बिल के पेमेंट के लिए ईएमआई का ऑप्शन चुनते हैं तो कुछ खास बातों का ध्यान रखना जरूरी होगा। इससे आपको फायदा हो सकता है। वहीं, इन बातों पर ध्यान नहीं देने पर नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। जानें क्रेडिट कार्ड के बिल पेमेंट से जुड़ी कुछ खास बातें। (फाइल फोटो)
 

अगर आप खरीददारी के लिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, तो अपने बकाया बिल की राशि को लोन में बदलवा सकते हैं। ऐसा करने पर आपको लोन चुकाने के लिए ज्यादा समय मिल जाएगा। इससे क्रेडिट स्कोर पर भी कोई खास असर नहीं पड़ता है। (फाइल फोटो)

अगर आप खरीददारी के लिए क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, तो अपने बकाया बिल की राशि को लोन में बदलवा सकते हैं। ऐसा करने पर आपको लोन चुकाने के लिए ज्यादा समय मिल जाएगा। इससे क्रेडिट स्कोर पर भी कोई खास असर नहीं पड़ता है। (फाइल फोटो)

ऐसे कस्टमर जो किसी न किसी वजह से समय पर अपने क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान नहीं कर पाते हैं, उनके लिए बेहतर है कि वे अपनी बकाया राशि को लोन में बदलवा लें। ऐसा करने पर उन्हें पेनल्टी नहीं देनी पड़ेगी। कस्टमर एक्स्ट्रा पेमेंट करने से भी बच जाएंगे। (फाइल फोटो)

ऐसे कस्टमर जो किसी न किसी वजह से समय पर अपने क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान नहीं कर पाते हैं, उनके लिए बेहतर है कि वे अपनी बकाया राशि को लोन में बदलवा लें। ऐसा करने पर उन्हें पेनल्टी नहीं देनी पड़ेगी। कस्टमर एक्स्ट्रा पेमेंट करने से भी बच जाएंगे। (फाइल फोटो)

अगर क्रेडिट कार्ड बिल का तय समय सीमा के अंदर पेमेंट कर दिया जाता है, तो किसी तरह का एक्स्ट्रा चार्ज या  ब्याज नहीं देना पड़ता है। वहीं, अगर आप बिल की रकम को ईएमआई में बदलवा दिया जाता है, तो बैंक को इस पर ब्याज देना पड़ेगा। (फाइल फोटो)

अगर क्रेडिट कार्ड बिल का तय समय सीमा के अंदर पेमेंट कर दिया जाता है, तो किसी तरह का एक्स्ट्रा चार्ज या ब्याज नहीं देना पड़ता है। वहीं, अगर आप बिल की रकम को ईएमआई में बदलवा दिया जाता है, तो बैंक को इस पर ब्याज देना पड़ेगा। (फाइल फोटो)

ईएमआई (EMI) के जरिए क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान करने में साथ में कई तरह के चार्ज भी लगते हैं। इसमें ब्याज के अलावा प्रॉसेसिंग फीस, प्रीपेमेंट चार्ज और जीएसटी भी लगाई जाती है। इसका पेमेंट भी कस्टमर को करना पड़ता है। (फाइल फोटो)

ईएमआई (EMI) के जरिए क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान करने में साथ में कई तरह के चार्ज भी लगते हैं। इसमें ब्याज के अलावा प्रॉसेसिंग फीस, प्रीपेमेंट चार्ज और जीएसटी भी लगाई जाती है। इसका पेमेंट भी कस्टमर को करना पड़ता है। (फाइल फोटो)

कोई भी चीज खरीदने या बिल का पेमेंट करने के लिए ईएमआई एक बढ़िया ऑप्शन है। इसमें एक बार में ही ज्यादा अमाउंट नहीं देना होता है। लेकिन ज्यादा समय की ईएमआई लेने पर बैंक को ब्याज ज्यादा चुकाना पड़ता है। वहीं, अगर आप क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट ईएमआई के जरिए किया जाता है, तो इस पर भी ज्यादा ब्याज देना पड़ता है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि कम समय के लिए ईएमआई की सुविधा ली जाए। (फाइल फोटो)

कोई भी चीज खरीदने या बिल का पेमेंट करने के लिए ईएमआई एक बढ़िया ऑप्शन है। इसमें एक बार में ही ज्यादा अमाउंट नहीं देना होता है। लेकिन ज्यादा समय की ईएमआई लेने पर बैंक को ब्याज ज्यादा चुकाना पड़ता है। वहीं, अगर आप क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट ईएमआई के जरिए किया जाता है, तो इस पर भी ज्यादा ब्याज देना पड़ता है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि कम समय के लिए ईएमआई की सुविधा ली जाए। (फाइल फोटो)

क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट करने के लिए ईएमआई का ऑप्शन तभी अपनाना चाहिए, जब कोई बड़ी इमरजेंसी हो या फिर किसी भी तरह से बिल का पेमेंट कर पाना संभव  नहीं हो। वैसे कोशिश यही करनी चाहिए कि तय तारीख से पहले ही क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट कर दिया जाए। इससे एक्स्ट्रा पेमेंट नहीं करना पड़ता है। (फाइल फोटो)

क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट करने के लिए ईएमआई का ऑप्शन तभी अपनाना चाहिए, जब कोई बड़ी इमरजेंसी हो या फिर किसी भी तरह से बिल का पेमेंट कर पाना संभव नहीं हो। वैसे कोशिश यही करनी चाहिए कि तय तारीख से पहले ही क्रेडिट कार्ड के बिल का पेमेंट कर दिया जाए। इससे एक्स्ट्रा पेमेंट नहीं करना पड़ता है। (फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios