Asianet News Hindi

ईशा और आकाश अंबानी Fortune की '40 अंडर 40' लिस्ट में शामिल, जियो को बनाया टॉप कंपनी

First Published Sep 3, 2020, 10:22 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी और बेटे आकाश अंबानी का नाम फॉर्च्यून मैगजीन (Fortune Magazine) की  '40 अंडर 40' लिस्ट में शामिल किया गया है। यह उपलब्धि उन्हें जियो प्लेटफॉर्म को आगे बढ़ाने में निभाई गई खास भूमिका के लिए मिली है। भारत से इस लिस्ट में Byju's के संस्‍थापक बी. र‍वींद्रन भी शामिल किए गए हैं। बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज की सहायक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में इस साल सबसे ज्यादा निवेश हुआ है और इसने भारत ही नहीं, दुनिया की बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में अपनी जगह बना ली है।

मैगजीन हर साल जारी करती है लिस्ट
वर्ल्ड की फेमस बिजनेस मैगजीन 'फॉर्च्‍यून' हर साल फाइनेंस, टेक्नोलॉजी, हेल्थकेयर, पॉलिटिक्स, मीडिया और एंटरटेनमेंट कैटेगरी में '40 अंडर 40' लिस्ट जारी करती है। इसमें उन लोगों को शामिल किया जाता है, जो 40 साल से कम उम्र के हों और इन क्षेत्रों में उन्होंने कोई बड़ी उपलब्धि हासिल की हो। इस लिस्ट में पूरी दुनिया से 40 लोगों को शामिल किया जाता है।
 

मैगजीन हर साल जारी करती है लिस्ट
वर्ल्ड की फेमस बिजनेस मैगजीन 'फॉर्च्‍यून' हर साल फाइनेंस, टेक्नोलॉजी, हेल्थकेयर, पॉलिटिक्स, मीडिया और एंटरटेनमेंट कैटेगरी में '40 अंडर 40' लिस्ट जारी करती है। इसमें उन लोगों को शामिल किया जाता है, जो 40 साल से कम उम्र के हों और इन क्षेत्रों में उन्होंने कोई बड़ी उपलब्धि हासिल की हो। इस लिस्ट में पूरी दुनिया से 40 लोगों को शामिल किया जाता है।
 

जियो को आगे बढ़ाने में निभाई खास भूमिका
फॉर्च्यून की लिस्ट में ईशा और आकाश अंबानी को टेक्नोलॉजी कैटेगरी में शामिल किया गया है। फॉर्च्यून के मुताबिक, ईशा और आकाश अंबानी ने जियो के कारोबार को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई है। 

जियो को आगे बढ़ाने में निभाई खास भूमिका
फॉर्च्यून की लिस्ट में ईशा और आकाश अंबानी को टेक्नोलॉजी कैटेगरी में शामिल किया गया है। फॉर्च्यून के मुताबिक, ईशा और आकाश अंबानी ने जियो के कारोबार को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई है। 

दुनिया की बड़ी कंपनियों से की डील
फॉर्च्यून ने लिखा है कि ईशा और आकाश अंबानी ने फेसबुक के साथ 9.99 फीसदी हिस्सेदारी के साथ जियो के लिए 5.7 अरब डॉलर की डील को सफलतापूर्वक पूरा किया। गूगल, क्वालकॉम, इंटेल और दूसरी कई बड़ी कंपनियों को रिलायंस से जोड़ने और उनसे निवेश हासिल करने का काम ईशा और आकाश अंबानी के नेतृत्व में ही हुआ। 
 

दुनिया की बड़ी कंपनियों से की डील
फॉर्च्यून ने लिखा है कि ईशा और आकाश अंबानी ने फेसबुक के साथ 9.99 फीसदी हिस्सेदारी के साथ जियो के लिए 5.7 अरब डॉलर की डील को सफलतापूर्वक पूरा किया। गूगल, क्वालकॉम, इंटेल और दूसरी कई बड़ी कंपनियों को रिलायंस से जोड़ने और उनसे निवेश हासिल करने का काम ईशा और आकाश अंबानी के नेतृत्व में ही हुआ। 
 

जियोमार्ट को लॉन्च करने में निभाई भूमिका
फॉर्च्यून ने लिखा है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिटेल कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए जब जियोमार्ट (JioMart) को शुरू करने की योजना बनाई, तो उसकी लॉन्चिंग में ईशा और आकाश अंबानी की खास भूमिका रही। इन्होंने इसकी पूरी प्लानिंग की और इसे सफलतापूर्वक लॉन्च किया।
 

जियोमार्ट को लॉन्च करने में निभाई भूमिका
फॉर्च्यून ने लिखा है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिटेल कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए जब जियोमार्ट (JioMart) को शुरू करने की योजना बनाई, तो उसकी लॉन्चिंग में ईशा और आकाश अंबानी की खास भूमिका रही। इन्होंने इसकी पूरी प्लानिंग की और इसे सफलतापूर्वक लॉन्च किया।
 

जियोमार्ट बन सकती है सबसे बड़ी कंपनी
बता दें कि किशोर बियाणी का फ्यूचर ग्रुप खरीद लेने के बाद मुकेश अंबानी अब रिटेल के क्षेत्र में सबसे बड़ा नाम बन गए हैं। रिलायंस के रिटेल बिजनेस को अब कोई चुनौती देने वाला नहीं रहा। ऐसे में, जियोमार्ट रिटेल के साथ ई-कॉमर्स में सबसे बड़ी कंपनी बन कर उभर सकती है। 

जियोमार्ट बन सकती है सबसे बड़ी कंपनी
बता दें कि किशोर बियाणी का फ्यूचर ग्रुप खरीद लेने के बाद मुकेश अंबानी अब रिटेल के क्षेत्र में सबसे बड़ा नाम बन गए हैं। रिलायंस के रिटेल बिजनेस को अब कोई चुनौती देने वाला नहीं रहा। ऐसे में, जियोमार्ट रिटेल के साथ ई-कॉमर्स में सबसे बड़ी कंपनी बन कर उभर सकती है। 

अमेजन और फ्लिपकार्ट को दे सकती है चुनौती
ईशा और आकाश अंबानी के नेतृत्व में जिस तरह से जियोमार्ट का कारोबार बढ़ता चला जा रहा है, उसे देखते हुए मार्केट पर नजर रखने वालों का कहना है कि जल्द ही यह ई-कॉमर्स के क्षेत्र में अमेजन और फ्लिपकार्ट को चुनौती दे सकती है। जियोमार्ट पर फिलहाल रोज करीब 4 लाख ऑर्डर बुक किए जा रहे हैं। जियोमार्ट में वॉट्सऐप के जरिए ऑर्डर बुक करने की सुविधा है। 

अमेजन और फ्लिपकार्ट को दे सकती है चुनौती
ईशा और आकाश अंबानी के नेतृत्व में जिस तरह से जियोमार्ट का कारोबार बढ़ता चला जा रहा है, उसे देखते हुए मार्केट पर नजर रखने वालों का कहना है कि जल्द ही यह ई-कॉमर्स के क्षेत्र में अमेजन और फ्लिपकार्ट को चुनौती दे सकती है। जियोमार्ट पर फिलहाल रोज करीब 4 लाख ऑर्डर बुक किए जा रहे हैं। जियोमार्ट में वॉट्सऐप के जरिए ऑर्डर बुक करने की सुविधा है। 

कब किया फैमिली बिजनेस जॉइन
आकाश अंबानी ने अमेरिका की ब्राउन यूनिवर्सिटी में साल 2014 में इकोनॉमिक्स में डिग्री लेकर फैमिली बिजनेस जॉइन किया। वहीं, ईशा अंबानी ने अमेरिका की येल और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की। ईशा अंबानी एक साल बाद जियो में शामिल हुईं। इस साल रिलायंस इंडस्ट्रीजी की सालाना आम मीटिंग (एजीएम) में जियो ग्लास को ईशा और आकाश अंबानी ने ही पेश किया था। मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी भी अब फैमिली बिजनेस में जिम्मेदारी निभा रहे हैं।  

कब किया फैमिली बिजनेस जॉइन
आकाश अंबानी ने अमेरिका की ब्राउन यूनिवर्सिटी में साल 2014 में इकोनॉमिक्स में डिग्री लेकर फैमिली बिजनेस जॉइन किया। वहीं, ईशा अंबानी ने अमेरिका की येल और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की। ईशा अंबानी एक साल बाद जियो में शामिल हुईं। इस साल रिलायंस इंडस्ट्रीजी की सालाना आम मीटिंग (एजीएम) में जियो ग्लास को ईशा और आकाश अंबानी ने ही पेश किया था। मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी भी अब फैमिली बिजनेस में जिम्मेदारी निभा रहे हैं।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios