Asianet News Hindi

प्रेग्नेंसी की छुट्टी में बनाई थी कंपनी, कुछ इस तरह ये लड़की आम स्कूल टीचर से बन गई खरबपति

First Published Feb 23, 2020, 1:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मॉस्को. प्रेग्नेंसी के दौरान ली गई छुट्टियों के दौरान एक महिला ने अपना खुद का स्टार्टअप खड़ा कर लिया। एक मामूली टीचर से आज वो देश की सबसे अमीर बिजनेसमवुमेन बन गई है। फोर्ब्स मैग्जीन ने इस महिला को रूस की सबसे अमीर महिला का खिताब दिया है जिसके बाद हर कोई उसके बारे में जानना चाहता है। हम आपको दुनिया भर में सुर्खियां बटोर रही इस महिला के संघर्ष के बारे में बता रहे हैं। 

44 वर्षीय तात्याना बकलचुक के पास $1.4 अरब (करीब 10,060 करोड़ रुपये) की दौलत होने का अनुमान है। इस तरह उन्होंने 56 साल की येलेना बतुरीना को मात दी, जिनके पास $1.2 अरब (करीब 8,626 करोड़ रुपये) की संपत्ति बताई जाती है। इस टीचर ने ऑनलाइन फैशन स्टार्ट-अप की शुरुआत की थी।

44 वर्षीय तात्याना बकलचुक के पास $1.4 अरब (करीब 10,060 करोड़ रुपये) की दौलत होने का अनुमान है। इस तरह उन्होंने 56 साल की येलेना बतुरीना को मात दी, जिनके पास $1.2 अरब (करीब 8,626 करोड़ रुपये) की संपत्ति बताई जाती है। इस टीचर ने ऑनलाइन फैशन स्टार्ट-अप की शुरुआत की थी।

बकलचुक ने साल 2004 में अपनी कंपनी शुरू की तब उनकी उम्र 28 साल थी। इससे पहले वे रूस में अंग्रेजी पढ़ाती थीं। उन्होंने यह कंपनी अपने घर में ही प्रेगनेंसी के दौरान मिलने वाली छुट्टियों में स्थापित की थी।

बकलचुक ने साल 2004 में अपनी कंपनी शुरू की तब उनकी उम्र 28 साल थी। इससे पहले वे रूस में अंग्रेजी पढ़ाती थीं। उन्होंने यह कंपनी अपने घर में ही प्रेगनेंसी के दौरान मिलने वाली छुट्टियों में स्थापित की थी।

उन्हें ई-कॉमर्स कारोबार का विचार तब आया जब वे सामान्य दुकानों में अपने पैदा होने वाले बच्चे के लिए शॉपिंग कर रहीं थी। उसके बाद उनकी साइट रूस के बाजार की सबसे बड़ी साइट बन गई है। अन्य सोवियत देशों में भी इसकी लोकप्रियता काफी अच्छी है।

उन्हें ई-कॉमर्स कारोबार का विचार तब आया जब वे सामान्य दुकानों में अपने पैदा होने वाले बच्चे के लिए शॉपिंग कर रहीं थी। उसके बाद उनकी साइट रूस के बाजार की सबसे बड़ी साइट बन गई है। अन्य सोवियत देशों में भी इसकी लोकप्रियता काफी अच्छी है।

साल 2019 में उनकी कंपनी का रेवेन्यू 88 फीसदी की जबरदस्त ग्रोथ के साथ $3.5 अरब (करीब 25,160 करोड़ रुपये) तक पहुंच गया। उनकी कंपनी ने शुरुआत में जूतों और कपड़ों में अपनी धाक जमाई और फिर खाना, किताबें, इलेक्ट्रॉनिक जैसे प्रोडक्ट्स के 15,000 ब्रांड्स को जोड़ चुकी हैं।

साल 2019 में उनकी कंपनी का रेवेन्यू 88 फीसदी की जबरदस्त ग्रोथ के साथ $3.5 अरब (करीब 25,160 करोड़ रुपये) तक पहुंच गया। उनकी कंपनी ने शुरुआत में जूतों और कपड़ों में अपनी धाक जमाई और फिर खाना, किताबें, इलेक्ट्रॉनिक जैसे प्रोडक्ट्स के 15,000 ब्रांड्स को जोड़ चुकी हैं।

स्थानीय एजेंसी वीटीसियोम को प्रमुख वेलेरी फायडोरोव का मानना है कि बकलचुक जैसी नई, युवा और स्वतंत्र महिलाओं की सफलता काबिल-ए-तारीफ है और यह रूस के लिए मिसाल है। उन्होंने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, "वे देश के बदलते मिजाज का प्रतीक हैं।"

स्थानीय एजेंसी वीटीसियोम को प्रमुख वेलेरी फायडोरोव का मानना है कि बकलचुक जैसी नई, युवा और स्वतंत्र महिलाओं की सफलता काबिल-ए-तारीफ है और यह रूस के लिए मिसाल है। उन्होंने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, "वे देश के बदलते मिजाज का प्रतीक हैं।"

पारंपरिक दुकानों पर खरीदारी करने की कोशिश के बाद एक ई-कॉमर्स बिजनेस के आइडिया को लेकर वो बाजार में उतरी थीं।  जो काफी सफल रहा और उनकी कंपनी 'वाइल्डबैरीज' दिन दुनी रात चौगुनी तरक्की करती चली गई। इस साल उन्होंने यूरोपीय बाजार में भी अपना कदम रखा है जिसकी शुरुआत पोलैंड से की गई। इससे पहले कंपनी बेलारूस, कजाकिस्तान और अर्मेनिया जैसे सोवियत मुल्कों में अपनी धाक जमा चुकी है।

पारंपरिक दुकानों पर खरीदारी करने की कोशिश के बाद एक ई-कॉमर्स बिजनेस के आइडिया को लेकर वो बाजार में उतरी थीं। जो काफी सफल रहा और उनकी कंपनी 'वाइल्डबैरीज' दिन दुनी रात चौगुनी तरक्की करती चली गई। इस साल उन्होंने यूरोपीय बाजार में भी अपना कदम रखा है जिसकी शुरुआत पोलैंड से की गई। इससे पहले कंपनी बेलारूस, कजाकिस्तान और अर्मेनिया जैसे सोवियत मुल्कों में अपनी धाक जमा चुकी है।

मार्च में यह दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली ई-कॉमर्स साइट बन गई थी। इससे आगे सिर्फ एचएंडएम और मैकीज का नाम था। इससे पहले बतुरीना एक दशक से रूस की सबसे धनी महिला थीं। वे अपने दिवंगत पति और मॉस्को के पूर्व मेयर युरी लुजकॉम का रीयल एस्टेट बिजनेस संभालती हैं।

मार्च में यह दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली ई-कॉमर्स साइट बन गई थी। इससे आगे सिर्फ एचएंडएम और मैकीज का नाम था। इससे पहले बतुरीना एक दशक से रूस की सबसे धनी महिला थीं। वे अपने दिवंगत पति और मॉस्को के पूर्व मेयर युरी लुजकॉम का रीयल एस्टेट बिजनेस संभालती हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios