Asianet News Hindi

काम की खबर; जून खत्म होने के साथ ही बदल जाएंगे बैंकों के खाते, जमा और ATM निकासी से जुड़े ये नियम

First Published Jun 26, 2020, 3:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। जून खत्म होने वाला है। 1 जुलाई से नए महीने की शुरुआत के साथ ही बैंकों से जुड़े कई नियम भी बदल जाएंगे। जो नए बदल रहे हैं वो एटीएम से कैश निकालने, अकाउंट, बैंकों में जमा बचत और ब्याज दरों से जुड़े हैं। इस बारे में बैंकों ने अपने ग्राहकों को सूचित भी किया है। लेकिन अब भी अगर आप अपडेट नहीं हो पाए हैं तो हम आपको एक-एक कर बता रहे हैं क्या बदलने जा रहा है। 

वित्त मंत्रालय ने मार्च में लॉकडाउन की वजह से देशभर के बैंक ग्राहकों को एटीएम कैश निकासी में बड़ी छूट दी थी। सरकार ने एक बार में सिर्फ 10 हजार रुपये निकालने का नियम बदल दिया था। निकासी और एक से ज्यादा निकासी पर चार्ज भी हटा दिया गया था। इतना ही नहीं किसी दूसरे बैंक के एटीएम के इस्तेमाल को भी चार्ज फ्री कर दिया गया था। ये बदलवा तीन महीने के लिए थे जिनकी समय सीमा इसी महीने 30 जून को खत्म हो रही है। 

वित्त मंत्रालय ने मार्च में लॉकडाउन की वजह से देशभर के बैंक ग्राहकों को एटीएम कैश निकासी में बड़ी छूट दी थी। सरकार ने एक बार में सिर्फ 10 हजार रुपये निकालने का नियम बदल दिया था। निकासी और एक से ज्यादा निकासी पर चार्ज भी हटा दिया गया था। इतना ही नहीं किसी दूसरे बैंक के एटीएम के इस्तेमाल को भी चार्ज फ्री कर दिया गया था। ये बदलवा तीन महीने के लिए थे जिनकी समय सीमा इसी महीने 30 जून को खत्म हो रही है। 

हालांकि अभी तक सरकार ने इस बारे में कोई घोषणा तो नहीं की है। मगर माना जा रहा है कि अगर 30 जून तक कोई घोषणा नहीं होती है तो संबंधित पुराने नियम फिर से लागू हो जाएंगे। इसलिए 1 जुलाई से एटीएम कार्ड का इस्तेमाल नए नियमों को देखते हुए ही करें। 

हालांकि अभी तक सरकार ने इस बारे में कोई घोषणा तो नहीं की है। मगर माना जा रहा है कि अगर 30 जून तक कोई घोषणा नहीं होती है तो संबंधित पुराने नियम फिर से लागू हो जाएंगे। इसलिए 1 जुलाई से एटीएम कार्ड का इस्तेमाल नए नियमों को देखते हुए ही करें। 

तो फ्रीज हो जाएंगे खाते 
पिछले दिनों बैंकों के मर्जर के तहत विजया बैंक और देना बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय हुआ था। विलय के बाद संबंधित बैंक के ग्राहकों के अकाउंट को लेकर कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए थे। क्योंकि विलय के बाद बैंकों के खातों पर असर पड़ता है।

तो फ्रीज हो जाएंगे खाते 
पिछले दिनों बैंकों के मर्जर के तहत विजया बैंक और देना बैंक का बैंक ऑफ बड़ौदा में विलय हुआ था। विलय के बाद संबंधित बैंक के ग्राहकों के अकाउंट को लेकर कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए थे। क्योंकि विलय के बाद बैंकों के खातों पर असर पड़ता है।

बैंक ने प्रत्येक ग्राहक इस बारे में सूचित भी किया था कि जल्द से जल्द अकाउंट अपडेट करा लें। संबंधित बैंक के जिन अकाउंट होल्डर्स ने खाते को अपडेट नहीं कराया होगा उनके अकाउंट को 1 जुलाई से फ्रीज कर दिया जाएगा। 

बैंक ने प्रत्येक ग्राहक इस बारे में सूचित भी किया था कि जल्द से जल्द अकाउंट अपडेट करा लें। संबंधित बैंक के जिन अकाउंट होल्डर्स ने खाते को अपडेट नहीं कराया होगा उनके अकाउंट को 1 जुलाई से फ्रीज कर दिया जाएगा। 

इस बैंक में मिलेगा कम ब्याज 
एसबीआई के बाद देश के दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक पीएनबी ने बैंक में जमा बचत पर वार्षिक ब्याज की दरें बदल दी हैं। बैंक ने वार्षिक ब्याज दर को 0.50% घटाकर 3.25% कर दिया है। नई दरें 30 जून से लागू हो गई हैं। इस बारे में बैंक ने वेबसाइट पर संशोधित ब्याज दरों की जानकारी भी साझा की है। 

इस बैंक में मिलेगा कम ब्याज 
एसबीआई के बाद देश के दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक पीएनबी ने बैंक में जमा बचत पर वार्षिक ब्याज की दरें बदल दी हैं। बैंक ने वार्षिक ब्याज दर को 0.50% घटाकर 3.25% कर दिया है। नई दरें 30 जून से लागू हो गई हैं। इस बारे में बैंक ने वेबसाइट पर संशोधित ब्याज दरों की जानकारी भी साझा की है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios