ये अमेरिकी कंपनी भी JIO में पैसा लगाने को बेकरार, अंबानी फैमिली के पास RIL राइट्स इश्यू के इतने शेयर

First Published 11, Jun 2020, 3:49 PM

बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के इस दौर में जहां ज्यादातर कपंनियों के कारोबार में मंदी आई है, वहीं एशिया के सबसे धनी शख्स में शुमार रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी सफलता के लगातार झंडे गाड़ रहे हैं। उनके जियो प्लेटफॉर्म्स में कई कंपनियों ने भारी-भरकम निवेश किया है। फेसबुक, केकेआर, सिल्वर लेक और जनरल अटलांटिक के बाद अमेरिका की एक और कंपनी टीपीजी कैपिटल  (TPG Capital) जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश करने के लिए बातचीत चला रही है। सूत्रों का कहना है कि जल्दी ही टीपीजी कैपिटल जियो प्लेटफॉर्म्स में बड़ा निवेश करेगी। इस बीच कंपनी ने शेयर बाज़ारों को भेजी सूचना में बताया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के हाल ही में बंद हुए 53,124 करोड़ रुपये के राइट्स इश्यू में मुकेश अंबानी और उनके परिवार को कितने शेयर मिले हैं। 

<p><strong>कई ग्लोबल टेक कंपनियों में कर चुकी है निवेश</strong><br />
टीपीजी कैपिटल  (TPG Capital) कई ग्लोबल टेक कंपनियों में निवेश कर चुकी है। इसने टेक्नोलॉजी डिसरप्टर्स कंपनियों उबर (Uber), एयरबीएनबी (AirBnB) और सर्वेमंकी (SurveyMonkey) में निवेश किया है।</p>

कई ग्लोबल टेक कंपनियों में कर चुकी है निवेश
टीपीजी कैपिटल  (TPG Capital) कई ग्लोबल टेक कंपनियों में निवेश कर चुकी है। इसने टेक्नोलॉजी डिसरप्टर्स कंपनियों उबर (Uber), एयरबीएनबी (AirBnB) और सर्वेमंकी (SurveyMonkey) में निवेश किया है।

<p><strong>जियो प्लेटफॉर्म्स ने जुटाए 97,885. 65 करोड़ रुपए</strong><br />
जियो प्लेटफॉर्म्स ने कंपनी की 21 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर 97,885. 65 करोड़ रुपए (करीब 13 बिलियन डॉलर) जुटाए हैं। फेसबुक से डील होने के 7 हफ्ते के भीतर जियो प्लेटफॉर्म्स में बड़े पैमाने पर दूसरी कंपनियों ने निवेश किया है। इसके बाद जियो प्लेटफॉर्म्स सबसे ताकतवर कंपनी बन कर उभरी है। हाल ही में इसमें अबू धाबी की कंपनी ने निवेश किया है।</p>

जियो प्लेटफॉर्म्स ने जुटाए 97,885. 65 करोड़ रुपए
जियो प्लेटफॉर्म्स ने कंपनी की 21 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर 97,885. 65 करोड़ रुपए (करीब 13 बिलियन डॉलर) जुटाए हैं। फेसबुक से डील होने के 7 हफ्ते के भीतर जियो प्लेटफॉर्म्स में बड़े पैमाने पर दूसरी कंपनियों ने निवेश किया है। इसके बाद जियो प्लेटफॉर्म्स सबसे ताकतवर कंपनी बन कर उभरी है। हाल ही में इसमें अबू धाबी की कंपनी ने निवेश किया है।

<p><strong>1.5 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकती है  TPG </strong><br />
सूत्रों  के मुताबिक, टीपीजी कैपिटल  (TPG Capital) जियो प्लेटफॉर्म्स में 1 से 1.5 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकती है। इस डील को लेकर पिछले कुछ हफ्ते से बातचीच जारी है। उम्मीद है कि आने वाले कुछ दिनों के भीतर इसे लेकर औपचारिक घोषणा हो सकती है। टीपीजी ने भारत में अपना कारोबार काफी बढ़ाया है। इसने फाइनेंशियल सर्विसेस, रिटेल, हेल्थकेयर और फार्मा में 2 बिलियन डॉलर से ज्यादा का निवेश किया है। पिछले 5-6 हफ्ते के दौरान टीपीजी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश के लिए वार्ता तेज की है। निगोशिएसन्स में शामिल एक ऑफिशियल का कहना है कि जल्दी ही डील फाइनल हो जाएगी।</p>

1.5 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकती है  TPG 
सूत्रों  के मुताबिक, टीपीजी कैपिटल  (TPG Capital) जियो प्लेटफॉर्म्स में 1 से 1.5 बिलियन डॉलर का निवेश कर सकती है। इस डील को लेकर पिछले कुछ हफ्ते से बातचीच जारी है। उम्मीद है कि आने वाले कुछ दिनों के भीतर इसे लेकर औपचारिक घोषणा हो सकती है। टीपीजी ने भारत में अपना कारोबार काफी बढ़ाया है। इसने फाइनेंशियल सर्विसेस, रिटेल, हेल्थकेयर और फार्मा में 2 बिलियन डॉलर से ज्यादा का निवेश किया है। पिछले 5-6 हफ्ते के दौरान टीपीजी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश के लिए वार्ता तेज की है। निगोशिएसन्स में शामिल एक ऑफिशियल का कहना है कि जल्दी ही डील फाइनल हो जाएगी।

<p><strong>जियो के हैं 388 मिलियन सब्सक्राइबर</strong><br />
338 मिलियन सब्सक्राइबर के साथ टेलिकॉम बिजनेस रिलायंस इंडस्ट्रीज के लिए सबसे ज्यादा मायने रखता है। इसके अलावा, जियो प्लेटफॉर्म्स अब रिटेल बिजनेस में भी आ रहा है। रिटेल का कारोबार तेजी से बढ़ने वाला है। </p>

जियो के हैं 388 मिलियन सब्सक्राइबर
338 मिलियन सब्सक्राइबर के साथ टेलिकॉम बिजनेस रिलायंस इंडस्ट्रीज के लिए सबसे ज्यादा मायने रखता है। इसके अलावा, जियो प्लेटफॉर्म्स अब रिटेल बिजनेस में भी आ रहा है। रिटेल का कारोबार तेजी से बढ़ने वाला है। 

<p><strong>रिलायंस इंडस्ट्रीड डेवलप कर रही डिजिटल इको-सिस्टम</strong><br />
रिलायंस इंडस्ट्रीज एक डिजिटल इको-सिस्टम डेवलप कर रही है, जिससे इन्वेस्टर्स इसकी तरफ ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं। रिलांयस पर नजर रखने वालों का मानना है कि  कंपनी की 20 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के बाद अंबानी इसकी 9 फीसदी हिस्सेदारी और बेचना चाहते हैं। इसके बाद कंपनी 100 बिलियन डॉलर के वैल्यूएशन की हो जाएगी।</p>

रिलायंस इंडस्ट्रीड डेवलप कर रही डिजिटल इको-सिस्टम
रिलायंस इंडस्ट्रीज एक डिजिटल इको-सिस्टम डेवलप कर रही है, जिससे इन्वेस्टर्स इसकी तरफ ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं। रिलांयस पर नजर रखने वालों का मानना है कि  कंपनी की 20 फीसदी हिस्सेदारी बेचने के बाद अंबानी इसकी 9 फीसदी हिस्सेदारी और बेचना चाहते हैं। इसके बाद कंपनी 100 बिलियन डॉलर के वैल्यूएशन की हो जाएगी।

<p><strong>राइट्स इश्यू में मिले 5.52 लाख शेयर</strong><br />
सब्सिडियरी कंपनी के लिए फंड जुटाने के इस अभियान के साथ जियो के लिए आईपीओ लाने की भी योजना है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के हाल में बंद हुए 53,124 करोड़ रुपए के राइट्स इश्यू में मुकेश अंबानी को कंपनी के 5.52 लाख शेयर मिले हैं। इससे जियो दुनिया की सबसे बड़ी 4 जी नेटवर्क वाली कंपनी बन सकती है।</p>

राइट्स इश्यू में मिले 5.52 लाख शेयर
सब्सिडियरी कंपनी के लिए फंड जुटाने के इस अभियान के साथ जियो के लिए आईपीओ लाने की भी योजना है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के हाल में बंद हुए 53,124 करोड़ रुपए के राइट्स इश्यू में मुकेश अंबानी को कंपनी के 5.52 लाख शेयर मिले हैं। इससे जियो दुनिया की सबसे बड़ी 4 जी नेटवर्क वाली कंपनी बन सकती है।

<p><strong> कर्जमुक्त हो सकती है कंपनी</strong><br />
मुकेश अंबानी ने यह लक्ष्य तय किया था कि मार्च, 2021 तक रिलायंस इंडस्ट्रीज को कर्जमुक्त बना देना है। जिस तेजी से जियो प्लेटफॉर्म्स में इन्वेस्टमेंट हो रहा है और राइट्स इश्यू में अंबानी को शेयर मिले हैं, उसे देखते हुए कंपनी कर्जमुक्त होने का लक्ष्य हासिल कर सकती है। मुकेश अंबानी के पास अब रिलायंस इंडस्ट्रीज के 80.52 लाख शेयर हो गए हैं। राइट्स इश्यू से पहले उनके पास 75 लाख शेयर थे। मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी और बच्चे इशा, आकाश और अनंत को भी राइट्स इश्यू में 5.52-5.52 लाख शेयर मिले हैं।  </p>

 कर्जमुक्त हो सकती है कंपनी
मुकेश अंबानी ने यह लक्ष्य तय किया था कि मार्च, 2021 तक रिलायंस इंडस्ट्रीज को कर्जमुक्त बना देना है। जिस तेजी से जियो प्लेटफॉर्म्स में इन्वेस्टमेंट हो रहा है और राइट्स इश्यू में अंबानी को शेयर मिले हैं, उसे देखते हुए कंपनी कर्जमुक्त होने का लक्ष्य हासिल कर सकती है। मुकेश अंबानी के पास अब रिलायंस इंडस्ट्रीज के 80.52 लाख शेयर हो गए हैं। राइट्स इश्यू से पहले उनके पास 75 लाख शेयर थे। मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी और बच्चे इशा, आकाश और अनंत को भी राइट्स इश्यू में 5.52-5.52 लाख शेयर मिले हैं।  

<p>जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कई कंपनियों के साथ डील की है। विदेशी कंपनियों में निवेश की होड देखी जा सकती है। </p>

जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कई कंपनियों के साथ डील की है। विदेशी कंपनियों में निवेश की होड देखी जा सकती है। 

loader