Asianet News Hindi

फेस्टिव सीजन में ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए हो सकते हैं धोखाधड़ी के शिकार, बरतें ये सावधानी

First Published Oct 12, 2020, 3:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बिजनेस डेस्क। पिछले कुछ सालों से ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping) का चलन काफी बढ़ गया है। दरअसल, ऑनलाइन खरीददारी करने में काफी सुविधा होती है। फेस्टिव सीजन में ई-कॉमर्स (E-Commerce) कंपनियां कई तरह के खास ऑफर लेकर आती हैं। वे कस्टमर्स को तरह-तरह के ऑफर देती है। हर तरह के सामानों पर कस्टमर्स को खास छूट दी जाती है। इससे ज्यादातर लोग ऑनलाइन शॉपिंग करना पसंद करने लगे हैं। लेकिन ऑनलाइन शॉपिंग में कई बार धोखाधड़ी होने की गुंजाइश भी होती है। वैसे, बड़ी ई-कॉमर्स कंपनियां भरोसेमंद होती हैं, लेकिन फिर भी ऑनलाइन खरीदादारी करते हुए सावधानी बरतना जरूरी होता है। जानें कुछ टिप्स।
(फाइल फोटो)
 

भरोसेमंद वेबसाइट से ही खरीददारी करें
त्योहारी सीजन में कई लोकल वेबसाइट भी अच्छे-खासे विज्ञापन देकर लोगों को प्रभावित करने की कोशिश करती हैं। वे स्टैंडर्ड ई-कॉमर्स वेबसाइट से ज्यादा छूट का ऑफर देकर कस्टमर्स को अट्रैक्ट करने की कोशिश करती हैं। वैसे, स्टैंडर्ड ई-कॉर्मस वेबसाइटों के सामान की क्वालिटी में कई बार गड़बड़ी पाई गई है, लेकिन हमेशा भरोसेमंद वेबसाइट से खरीददारी करनी चाहिए।
(फाइल फोटो)

भरोसेमंद वेबसाइट से ही खरीददारी करें
त्योहारी सीजन में कई लोकल वेबसाइट भी अच्छे-खासे विज्ञापन देकर लोगों को प्रभावित करने की कोशिश करती हैं। वे स्टैंडर्ड ई-कॉमर्स वेबसाइट से ज्यादा छूट का ऑफर देकर कस्टमर्स को अट्रैक्ट करने की कोशिश करती हैं। वैसे, स्टैंडर्ड ई-कॉर्मस वेबसाइटों के सामान की क्वालिटी में कई बार गड़बड़ी पाई गई है, लेकिन हमेशा भरोसेमंद वेबसाइट से खरीददारी करनी चाहिए।
(फाइल फोटो)

डिजिटल पेमेंट से बचें
ऑनलाइन खरीददारी करते वक्त अगर सामान की डिलिवरी के बाद कैश पेमेंट का ऑप्शन हो, तो इसका ही चुनाव करें। ऑनलाइन पेमेंट में जरा भी असावधानी से अकाउंट हैक होने का खतरा बढ़ जाता है।
(फाइल फोटो)

डिजिटल पेमेंट से बचें
ऑनलाइन खरीददारी करते वक्त अगर सामान की डिलिवरी के बाद कैश पेमेंट का ऑप्शन हो, तो इसका ही चुनाव करें। ऑनलाइन पेमेंट में जरा भी असावधानी से अकाउंट हैक होने का खतरा बढ़ जाता है।
(फाइल फोटो)

कैसे करें फ्रॉड वेबसाइट की पहचान
यह जानने के लिए कि जिस वेबसाइट से आप खरीददारी करने जा रहे हैं, वह कहीं फ्रॉड तो नहीं कर सकती है, वेबसाइट के URL को देखें। अगर URL में https है, तो इसका मतलब है कि वेबसाइट एन्क्रिप्डेट है। वहीं, अगर वेबसाइट के URLमें सिर्फ http हो, तो उस पर भरोसा नहीं करें। 
(फाइल फोटो)

कैसे करें फ्रॉड वेबसाइट की पहचान
यह जानने के लिए कि जिस वेबसाइट से आप खरीददारी करने जा रहे हैं, वह कहीं फ्रॉड तो नहीं कर सकती है, वेबसाइट के URL को देखें। अगर URL में https है, तो इसका मतलब है कि वेबसाइट एन्क्रिप्डेट है। वहीं, अगर वेबसाइट के URLमें सिर्फ http हो, तो उस पर भरोसा नहीं करें। 
(फाइल फोटो)

वापसी के ऑप्शन को जरूर देखें
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए बेवसाइट के टर्म और कंडीशन्स को ठीक से पढ़ लें। यह जरूर देखें कि खरीदे गए सामान की वापसी का ऑप्शन है या नहीं। कई वेबसाइट सामान खराब पाए जाने पर वापसी का ऑप्शन नहीं देतीं। अगर ऐसा हो तो सामान का ऑर्डर मत दें।
(फाइल फोटो)

वापसी के ऑप्शन को जरूर देखें
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए बेवसाइट के टर्म और कंडीशन्स को ठीक से पढ़ लें। यह जरूर देखें कि खरीदे गए सामान की वापसी का ऑप्शन है या नहीं। कई वेबसाइट सामान खराब पाए जाने पर वापसी का ऑप्शन नहीं देतीं। अगर ऐसा हो तो सामान का ऑर्डर मत दें।
(फाइल फोटो)

डिलिवरी चार्ज तो नहीं लग रहा
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए इस बात का भी पता कर लें कि कहीं अलग से डिलिवरी चार्ज तो नहीं लिया जाएगा। कई ई-कॉमर्स कंपनियां डिलिवरी चार्ज लेती हैं। इससे सामान की कीमत दुकानों में ली जाने वाली कीमत से ज्यादा हो जाती है। 
(फाइल फोटो)

डिलिवरी चार्ज तो नहीं लग रहा
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए इस बात का भी पता कर लें कि कहीं अलग से डिलिवरी चार्ज तो नहीं लिया जाएगा। कई ई-कॉमर्स कंपनियां डिलिवरी चार्ज लेती हैं। इससे सामान की कीमत दुकानों में ली जाने वाली कीमत से ज्यादा हो जाती है। 
(फाइल फोटो)

कैशबैक ऑफर को ध्यान से समझें
ई-कॉमर्स वेबसाइट से खरीददारी करते हुए अलग-अलग वेबसाइटों पर मौजूद सामानों की कीमत की तुलना जरूर कर लें। कई बार एक ही चीज किसी वेबसाइट पर महंगी तो दूसरी पर सस्ती मिलती है। साथ ही, कैशबैक के ऑफर को ठीक से समझें। अक्सर कैशबैक आपके अकाउंट में न आ कर वेबसाइट के वॉलेट में आता है। उसका इस्तेमाल करने के लिए आपको उसी वेबसाइट से खरीददारी करनी होगी।  
(फाइल फोटो)
 

कैशबैक ऑफर को ध्यान से समझें
ई-कॉमर्स वेबसाइट से खरीददारी करते हुए अलग-अलग वेबसाइटों पर मौजूद सामानों की कीमत की तुलना जरूर कर लें। कई बार एक ही चीज किसी वेबसाइट पर महंगी तो दूसरी पर सस्ती मिलती है। साथ ही, कैशबैक के ऑफर को ठीक से समझें। अक्सर कैशबैक आपके अकाउंट में न आ कर वेबसाइट के वॉलेट में आता है। उसका इस्तेमाल करने के लिए आपको उसी वेबसाइट से खरीददारी करनी होगी।  
(फाइल फोटो)
 

अकाउंट का पासवर्ड बदलते रहें
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए अगर आप कैश ऑन डिलिवरी की जगह ऑनलाइन पेमेंट भी करते हैं, तो अपने अकाउंट की डिटेल और पासवर्ड को हैकर्स से बचाने के लिए पासवर्ड समय-समय पर बदलते रहें। अगर कोई वेबसाइट अकाउंट डिटेल या पासवर्ड जैसी जानकारी मांगे तो सावधान हो जाएं। कोई भी स्टैंडर्ड ई-कॉमर्स बेवसाइट ऐसी जानकारी नहीं मांगती है। 
(फाइल फोटो)

  
 

अकाउंट का पासवर्ड बदलते रहें
ऑनलाइन शॉपिंग करते हुए अगर आप कैश ऑन डिलिवरी की जगह ऑनलाइन पेमेंट भी करते हैं, तो अपने अकाउंट की डिटेल और पासवर्ड को हैकर्स से बचाने के लिए पासवर्ड समय-समय पर बदलते रहें। अगर कोई वेबसाइट अकाउंट डिटेल या पासवर्ड जैसी जानकारी मांगे तो सावधान हो जाएं। कोई भी स्टैंडर्ड ई-कॉमर्स बेवसाइट ऐसी जानकारी नहीं मांगती है। 
(फाइल फोटो)

  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios