IAS इंटरव्यू में पूछा- ये गाय कॉलेज में क्यों घुस जाती है ? लड़की ने दिया बड़ा मजेदार जवाब

First Published 10, Aug 2020, 10:51 AM

करियर डेस्क.  UPSC Interview 2020 :  इस बार इस सिविल सेवा परीक्षा 2019 (Union Public Service Commission) का फाइनल रिजल्ट (upsc cse 2019 result) 4 अगस्त को घोषित किया गया था। भिलाई (Bhilai) की सिमी करण (Simi Karan) ने यूपीएससी परीक्षा 2019 (UPSC exam 2019) में 31वीं रैंक प्राप्त किया। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यूपीएससी परीक्षा पास करने के बाद इंटरव्यू होता है जो अपने आप में काफी मुश्किल माना जाता है। यहां कैंडिडेट्स से कुछ भी सवाल पूछा जा सकता है। ऐसे ही सिमी ने अपने इंटरव्यू की बातें साझा की हैं। तीसरे चरण अर्थात साक्षात्कार (simi UPSC interview) में पैनलिस्ट ने उन्हें अपने सवालों से काफी उलझाने की कोशिश की, लेकिन, उन सवालों का बखूबी से जबाब देकर वे आईएएस (Simi Karan IAS) बन गई।

<p>दरअसल, यूपीएससी की लिखित परीक्षा में ही सफल होना आसान बात नहीं है। और अगर हो भी गए तो इंटरव्यू पैनल द्वारा पूछे गए उलझे हुए सवालों का जबाब देना भी कठिन है। कुछ ऐसा ही सवाल सिमी करण से भी पूछा गया। मीडिया से बातचीत में सिमी ने बताया कि जब वह साक्षात्कार के लिए यूपीएससी दफ्तर गई थी तो पैनल द्वारा उनसे अजीबो-गरीब सवाल पूछे गए थे। उनसे पूछा गया कि आईआईटी मुम्बई में गाय क्यों घूमती है।</p>

दरअसल, यूपीएससी की लिखित परीक्षा में ही सफल होना आसान बात नहीं है। और अगर हो भी गए तो इंटरव्यू पैनल द्वारा पूछे गए उलझे हुए सवालों का जबाब देना भी कठिन है। कुछ ऐसा ही सवाल सिमी करण से भी पूछा गया। मीडिया से बातचीत में सिमी ने बताया कि जब वह साक्षात्कार के लिए यूपीएससी दफ्तर गई थी तो पैनल द्वारा उनसे अजीबो-गरीब सवाल पूछे गए थे। उनसे पूछा गया कि आईआईटी मुम्बई में गाय क्यों घूमती है।

<p>आपको बता दें, सिमी करण आईआईटी मुम्बई से ही बीटेक की है। ऐसे में ये सवाल उनके कैंपस का ही था। हालांकि, एकबार सिमी इस सवाल को सुनते ही टेंशन में आ गई। लेकिन, बाद में बेहद अनोखे अंदाज में जबाव दिया। सिमी ने कहा, 'सर, वो गाय बड़ी किस्मत वाली हैं, आईआईटी पहुंचने के लिए हम बच्चों को काफी मुश्किल एग्जाम देना पड़ता है, इंटरव्यू पास करना होता है। लेकिन, गाय को किसी परीक्षा की जरूरत नहीं होती है। वे यूं ही घूमते हुए आईआईटी पहुंच जाती हैं।'</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>उनके इस जबाब को सुनते ही इंटरव्यू पैनलिस्ट अपनी हंसी नहीं रोक पाए।</p>

आपको बता दें, सिमी करण आईआईटी मुम्बई से ही बीटेक की है। ऐसे में ये सवाल उनके कैंपस का ही था। हालांकि, एकबार सिमी इस सवाल को सुनते ही टेंशन में आ गई। लेकिन, बाद में बेहद अनोखे अंदाज में जबाव दिया। सिमी ने कहा, 'सर, वो गाय बड़ी किस्मत वाली हैं, आईआईटी पहुंचने के लिए हम बच्चों को काफी मुश्किल एग्जाम देना पड़ता है, इंटरव्यू पास करना होता है। लेकिन, गाय को किसी परीक्षा की जरूरत नहीं होती है। वे यूं ही घूमते हुए आईआईटी पहुंच जाती हैं।'

 

उनके इस जबाब को सुनते ही इंटरव्यू पैनलिस्ट अपनी हंसी नहीं रोक पाए।

<p><strong>क्यों साक्षात्कार में पूछा गया ऐसा सवाल</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>दरअसल, सिमी से इंटरव्यू पैनलिस्ट ने यह सवाल इसलिए पूछा क्योंकि वे एक तो आईआईटी मुम्बई की छात्रा रहीं है और दूसरा, उनके बीटेक के दौरान और उससे पहले भी कई बार कॉलेज कैंपस में गाय घुसने की घटनाएं हो चुकी है।</p>

क्यों साक्षात्कार में पूछा गया ऐसा सवाल

 

दरअसल, सिमी से इंटरव्यू पैनलिस्ट ने यह सवाल इसलिए पूछा क्योंकि वे एक तो आईआईटी मुम्बई की छात्रा रहीं है और दूसरा, उनके बीटेक के दौरान और उससे पहले भी कई बार कॉलेज कैंपस में गाय घुसने की घटनाएं हो चुकी है।

<p><strong>कौन है सिमी करण</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>आईएएस सिमी करण की इस्पात नगरी कही जाने वाली भिलाई की रहने वाली हैं। उनके पिता डीएन करण भिलाई स्टील प्लांट में ही कार्यरत है। वहीं, माता डीपीएस दुर्ग की शिक्षिका हैं. सिमी वर्ष 2015 में हुए 12वीं की सीबीएसई परीक्षा में भी टॉपर रहीं थी। वे शुरू से पढ़ाई में अच्छी रही है। अपनी 12वीं की कक्षा समाप्त करने के बाद उन्होंने आईआईटी मुंबई से बीटेक किया।</p>

कौन है सिमी करण

 

आईएएस सिमी करण की इस्पात नगरी कही जाने वाली भिलाई की रहने वाली हैं। उनके पिता डीएन करण भिलाई स्टील प्लांट में ही कार्यरत है। वहीं, माता डीपीएस दुर्ग की शिक्षिका हैं. सिमी वर्ष 2015 में हुए 12वीं की सीबीएसई परीक्षा में भी टॉपर रहीं थी। वे शुरू से पढ़ाई में अच्छी रही है। अपनी 12वीं की कक्षा समाप्त करने के बाद उन्होंने आईआईटी मुंबई से बीटेक किया।

<p>खबरों की मानें तो वे गरीब-निर्धन बच्चों को पढ़ाया करती थी। और यहीं यहीं से उन्होंने समाज के पिछड़े वर्गों के लिए सिविल अधिकारी बनकर काम करने की ठानी।</p>

खबरों की मानें तो वे गरीब-निर्धन बच्चों को पढ़ाया करती थी। और यहीं यहीं से उन्होंने समाज के पिछड़े वर्गों के लिए सिविल अधिकारी बनकर काम करने की ठानी।

<p><strong>कौन हुआ यूपीएससी का टॉपर</strong></p>

<p>&nbsp;</p>

<p>यूपीएससी 2019 की परीक्षा में हरियाणा के सोनीपत निवासी 29 वर्षीय प्रदीप सिंह ने बाजी मारी। वे ऑल इंडिया टॉपर रहे। उन्होंने एक नंबर रैंक हासिल किया है। प्रतिभा वर्मा, विशाखा यादव भी टॉपर्स में शामिल हैं।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p><strong>(Demo Pic)</strong></p>

कौन हुआ यूपीएससी का टॉपर

 

यूपीएससी 2019 की परीक्षा में हरियाणा के सोनीपत निवासी 29 वर्षीय प्रदीप सिंह ने बाजी मारी। वे ऑल इंडिया टॉपर रहे। उन्होंने एक नंबर रैंक हासिल किया है। प्रतिभा वर्मा, विशाखा यादव भी टॉपर्स में शामिल हैं।

 

(Demo Pic)

loader