Asianet News Hindi

कभी ट्रेनों में गाने गाकर खर्च निकालता था ये एक्टर, एक वजह से पिता ने घर से निकाल दिया था बाहर: PHOTOS

First Published Sep 14, 2019, 12:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई। आयुष्मान खुराना 34 साल के हो गए हैं। 14 सितंबर, 1984 को चंडीगढ़ में जन्मे आयुष्मान का असली नाम निशांत खुराना है। आयुष्मान ने करियर की शुरुआत 2012 में आई फिल्म 'विकी डोनर'  से की थी। तबसे अब तक आयुष्मान फिल्म इंडस्ट्री का एक जाना-पहचाना नाम बन चुके हैं। वैसे, आयुष्मान आज भले ही बॉलीवुड का एक बड़ा नाम हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था, जब आयुष्मान कॉलेज के दिनों में ट्रेनों में गाना गाया करते थे। ट्रेन में गाने के बदले उन्हें कुछ पैसे मिल जाते थे। 

ट्रेन में कलेक्ट किए पैसों से निकलता था जेबखर्च :  आयुष्मान के मुताबिक, "मैंने कॉलेज के दिनों में पश्चिम एक्सप्रेस में दिल्ली से मुंबई का काफी सफर किया है। इस ट्रेन में मैं दोस्तों के साथ हर डिब्बे में गाने गाया करता था और हम पैसेंजर्स से पैसे भी कलेक्ट करते थे। यही नहीं इन्हीं पैसों से हम गोवा भी घूमकर आए थे। कई बार ट्रेन में गाने की वजह से मेरा जेबखर्च भी निकल जाता था। मैं कह सकता हूं कि मैंने ट्रेन में गाने गाकर अपना करियर बनाया है।" लोग मुंबई भाग कर आते हैं, मुझे घर से भगा दिया गया था...

ट्रेन में कलेक्ट किए पैसों से निकलता था जेबखर्च : आयुष्मान के मुताबिक, "मैंने कॉलेज के दिनों में पश्चिम एक्सप्रेस में दिल्ली से मुंबई का काफी सफर किया है। इस ट्रेन में मैं दोस्तों के साथ हर डिब्बे में गाने गाया करता था और हम पैसेंजर्स से पैसे भी कलेक्ट करते थे। यही नहीं इन्हीं पैसों से हम गोवा भी घूमकर आए थे। कई बार ट्रेन में गाने की वजह से मेरा जेबखर्च भी निकल जाता था। मैं कह सकता हूं कि मैंने ट्रेन में गाने गाकर अपना करियर बनाया है।" लोग मुंबई भाग कर आते हैं, मुझे घर से भगा दिया गया था...

आयुष्मान को एक्टर बनाने में उनके पिता का रोल :  आयुष्मान के फिल्मी करियर की शुरुआत के पीछे उनके पिता का हाथ है। आयुष्मान ने खुद एक इंटरव्यू के दौरान बताया था- ‘मैंने 5 साल थियेटर में काम किया। इसके बाद मैंने दो साल रेडियो में काम किया। फिर 4 साल छोटे पर्दे पर भी काम किया। मैं पहले से ही एक्टर बनना चाहता था तो मैंने मास कम्युनिकेशन का कोर्स किया। इसके बाद सोचा कि अब एक साल तक शानदार बॉडी बनाऊंगा और हॉर्स राइडिंग सीखूंगा और फिर मुंबई जाऊंगा। लेकिन मेरे पापा एक पॉपुलर एस्ट्रोलॉजर हैं। उन्होंने कहा- बेटा तुम अगर अभी नहीं जाओगे तो फिर तुमको काम ही नहीं मिलेगा’।

आयुष्मान को एक्टर बनाने में उनके पिता का रोल : आयुष्मान के फिल्मी करियर की शुरुआत के पीछे उनके पिता का हाथ है। आयुष्मान ने खुद एक इंटरव्यू के दौरान बताया था- ‘मैंने 5 साल थियेटर में काम किया। इसके बाद मैंने दो साल रेडियो में काम किया। फिर 4 साल छोटे पर्दे पर भी काम किया। मैं पहले से ही एक्टर बनना चाहता था तो मैंने मास कम्युनिकेशन का कोर्स किया। इसके बाद सोचा कि अब एक साल तक शानदार बॉडी बनाऊंगा और हॉर्स राइडिंग सीखूंगा और फिर मुंबई जाऊंगा। लेकिन मेरे पापा एक पॉपुलर एस्ट्रोलॉजर हैं। उन्होंने कहा- बेटा तुम अगर अभी नहीं जाओगे तो फिर तुमको काम ही नहीं मिलेगा’।

लोग घर से भागते हैं, मुझे घरवालों ने भगाया :  आयुष्मान के मुताबिक, उस वक्त मेरे मॉस कम्युनिकेशन के एग्जाम चल रहे थे, लेकिन जैसे ही एग्जाम खत्म हुए मैंने बैग पैक करना शुरू किया। इसके बाद पापा ने हाथ में टिकट थमा दी और मुझे घर से विदा कर दिया गया। लोग अक्सर एक्टर बनने के लिए घर से भागकर मुंबई आते हैं, लेकिन मुझे घर वालों ने भगा दिया था।

लोग घर से भागते हैं, मुझे घरवालों ने भगाया : आयुष्मान के मुताबिक, उस वक्त मेरे मॉस कम्युनिकेशन के एग्जाम चल रहे थे, लेकिन जैसे ही एग्जाम खत्म हुए मैंने बैग पैक करना शुरू किया। इसके बाद पापा ने हाथ में टिकट थमा दी और मुझे घर से विदा कर दिया गया। लोग अक्सर एक्टर बनने के लिए घर से भागकर मुंबई आते हैं, लेकिन मुझे घर वालों ने भगा दिया था।

एमटीवी शो 'रोडीज' से मिला फेम :  आयुष्मान ने 20 साल की उम्र में 2004 में एमटीवी के शो 'रोडीज' का ऑडिशन दिया था। इसमें सिलेक्ट होने के बाद आयुष्मान शो के विनर बने और उनकी पॉपुलैरिटी बढ़ने लगी। बाद में एमटीवी ने उन्हें पहला ब्रेक दिया और अपना वीजे बनाया। इसके बाद आयुष्मान MTV Wassup, द वॉइस ऑफ यंगिस्तान के को-होस्ट बने। यहां से आयुष्मान का करियर धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ने लगा और उन्होंने 'इंडियाज गॉट टैलेंट सीजन 1', रॉकऑन विद एमटीवी सीजन 1, एमटीवी रोडीज सीजन 7 जैसे कई शोज में काम किया।

एमटीवी शो 'रोडीज' से मिला फेम : आयुष्मान ने 20 साल की उम्र में 2004 में एमटीवी के शो 'रोडीज' का ऑडिशन दिया था। इसमें सिलेक्ट होने के बाद आयुष्मान शो के विनर बने और उनकी पॉपुलैरिटी बढ़ने लगी। बाद में एमटीवी ने उन्हें पहला ब्रेक दिया और अपना वीजे बनाया। इसके बाद आयुष्मान MTV Wassup, द वॉइस ऑफ यंगिस्तान के को-होस्ट बने। यहां से आयुष्मान का करियर धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ने लगा और उन्होंने 'इंडियाज गॉट टैलेंट सीजन 1', रॉकऑन विद एमटीवी सीजन 1, एमटीवी रोडीज सीजन 7 जैसे कई शोज में काम किया।

जॉन अब्राहम को मानते हैं गॉड ब्रदर :  आयुष्मान खुराना जॉन अब्राहम को अपना गॉड ब्रदर मानते हैं। दरअसल, आयुष्मान के करियर में मील का पत्थर साबित हुई उनकी पहली फिल्म 'विक्की डोनर' (2012) जॉन अब्राहम के प्रोडक्शन हाउस ने ही बनाई थी। चूंकि आयुष्मान फिल्मों में लीड रोल करना चाहते थे, ऐसे में जॉन ने उन्हें मर्जी के मुताबिक रोल दिया। यही वजह है कि आयुष्मान जॉन को अपना गॉड ब्रदर मानते हैं। इस फिल्म का पॉपुलर गाना 'पानी दा रंग' आयुष्मान ने ही गाया था।

जॉन अब्राहम को मानते हैं गॉड ब्रदर : आयुष्मान खुराना जॉन अब्राहम को अपना गॉड ब्रदर मानते हैं। दरअसल, आयुष्मान के करियर में मील का पत्थर साबित हुई उनकी पहली फिल्म 'विक्की डोनर' (2012) जॉन अब्राहम के प्रोडक्शन हाउस ने ही बनाई थी। चूंकि आयुष्मान फिल्मों में लीड रोल करना चाहते थे, ऐसे में जॉन ने उन्हें मर्जी के मुताबिक रोल दिया। यही वजह है कि आयुष्मान जॉन को अपना गॉड ब्रदर मानते हैं। इस फिल्म का पॉपुलर गाना 'पानी दा रंग' आयुष्मान ने ही गाया था।

शादी के वक्त आयुष्मान के अकाउंट में थे सिर्फ 10 हजार रुपए :  आयुष्मान अपनी पत्नी ताहिरा कश्यप के फैन हैं। 16 साल की उम्र में दोनों अपनी कोचिंग के दौरान पहली बार मिले थे। पहली ही नजर में दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया। आयुष्मान ताहिरा को ही अपनी पहली और आखिरी गर्लफ्रेंड मानते हैं। आयुष्मान के मुताबिक, शादी के समय उनके अकाउंट में सिर्फ 10 हजार रुपए थे। चूंकि, दोनों के परिवारों के बीच अच्छे रिश्ते थे, इसलिए खुराना के पेरेंट्स शादी के लिए तुरंत मान गए। 11 साल के रिलेशन के बाद 2011 में दोनों ने शादी कर ली। दोनों के प्रोफेशन एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। लेकिन इसके कारण उनके जीवन में कभी कोई परेशानी नहीं आई। ताहिरा लेखक और कॉलेज लेक्चरर हैं। दोनों के 2 बच्चे बेटा विराजवीर खुराना और बेटी वरुष्का हैं।​

शादी के वक्त आयुष्मान के अकाउंट में थे सिर्फ 10 हजार रुपए : आयुष्मान अपनी पत्नी ताहिरा कश्यप के फैन हैं। 16 साल की उम्र में दोनों अपनी कोचिंग के दौरान पहली बार मिले थे। पहली ही नजर में दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया। आयुष्मान ताहिरा को ही अपनी पहली और आखिरी गर्लफ्रेंड मानते हैं। आयुष्मान के मुताबिक, शादी के समय उनके अकाउंट में सिर्फ 10 हजार रुपए थे। चूंकि, दोनों के परिवारों के बीच अच्छे रिश्ते थे, इसलिए खुराना के पेरेंट्स शादी के लिए तुरंत मान गए। 11 साल के रिलेशन के बाद 2011 में दोनों ने शादी कर ली। दोनों के प्रोफेशन एक-दूसरे से बिल्कुल अलग हैं। लेकिन इसके कारण उनके जीवन में कभी कोई परेशानी नहीं आई। ताहिरा लेखक और कॉलेज लेक्चरर हैं। दोनों के 2 बच्चे बेटा विराजवीर खुराना और बेटी वरुष्का हैं।​

7 साल के करियर में की 12 फिल्में, जिनमें 7 रहीं सुपरहिट :  आयुष्मान ने अपने 7 साल लंबे करियर में कुल 12 फिल्में की हैं। इनमें 'विक्की डोनर', 'दम लगाके हइशा', 'बरेली की बर्फी', 'शुभ मंगल सावधान', 'अंधाधुन' और 'बधाई हो', 'आर्टिकल 15' और 'ड्रीमगर्ल' जैसी फिल्में सुपरहिट साबित हुईं।

7 साल के करियर में की 12 फिल्में, जिनमें 7 रहीं सुपरहिट : आयुष्मान ने अपने 7 साल लंबे करियर में कुल 12 फिल्में की हैं। इनमें 'विक्की डोनर', 'दम लगाके हइशा', 'बरेली की बर्फी', 'शुभ मंगल सावधान', 'अंधाधुन' और 'बधाई हो', 'आर्टिकल 15' और 'ड्रीमगर्ल' जैसी फिल्में सुपरहिट साबित हुईं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios