Asianet News Hindi

पत्नी करीना कपूर की प्रेग्नेंसी को लेकर कोई रिस्क नहीं उठाना चाहते सैफ, इसलिए लिया इस महल में रहने का फैसला

First Published Sep 8, 2020, 4:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. ये तो सभी जानते है कि करीना कपूर (kareena kapoor) दूसरी बार प्रेग्नेंट है। रिपोर्ट्स की मानें तो वे नए साल में बच्चे को जन्म देंगी। कोरोना के बीच ही करीना अब धीरे-धीरे काम पर लौट रही है। खबरों की मानें तो वे अपकमिंग फिल्म लालसिंह चड्ढा की शूटिंग करने इस महीने के तीसरे सप्ताह में दिल्ली पहुंचेगी। फिल्म की शूटिंग दिल्ली के कुछ इलाकों में की जाएगी। इतना ही नहीं वे दिल्ली में शूटिंग के दौरान अपने गुड़गांव, हरियाणा से 26 किलोमीटर दूर पटौदी पैलेस रहेंगे। सैफ अली खान (saif ali khan) प्रेग्नेंट पत्नी को लेकर कोई रिस्क नहीं लेना चाहते है इसलिए उन्होंने ये डिसीजन लिया है। फिलहाल करीना मुंबई में ही अपने असाइनमेंट्स को पूरा करने की कोशिश कर रही है।

उनके आने की खबरों के साथ ही पटौदी पैलेस में तैयारियां भी शुरू हो गई है। आपको बता दें कि ये पैलेस 84 साल पुराना है और उसका निर्माण 1935 में 8वें नवाब और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान इफ्तिखार अली हुसैन सिद्दीकी ने कराया था। 

उनके आने की खबरों के साथ ही पटौदी पैलेस में तैयारियां भी शुरू हो गई है। आपको बता दें कि ये पैलेस 84 साल पुराना है और उसका निर्माण 1935 में 8वें नवाब और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान इफ्तिखार अली हुसैन सिद्दीकी ने कराया था। 

बताया तो यह भी जा रहा है कि सैफ अली खान पहले ही पटौदी पैलेस में आने वाले थे, लेकिन पटौदी एरिया में कोरोना (corona) के बढ़ते मामलों के चलते उन्होंने अपना प्रोग्राम चेंज कर लिया है। 

बताया तो यह भी जा रहा है कि सैफ अली खान पहले ही पटौदी पैलेस में आने वाले थे, लेकिन पटौदी एरिया में कोरोना (corona) के बढ़ते मामलों के चलते उन्होंने अपना प्रोग्राम चेंज कर लिया है। 

आमिर खान (aamir khan) की फिल्म लालसिंह चड्ढा की शूटिंग इस महीने के अंत में दिल्ली में शुरू होनी है। फिल्म में करीना कपूर लीड रोल प्ले कर रही है। यह शूटिंग कई सप्ताह तक चलने की संभावना है। ऐसे में सैफ और करीना ने इस दौरान पटौदी पैलेस में ही रहने का फैसला लिया है। करीना, पटौदी पैलेस से ही शूटिंग के लिए अपनी कार से दिल्ली आया-जाया करेंगी।

आमिर खान (aamir khan) की फिल्म लालसिंह चड्ढा की शूटिंग इस महीने के अंत में दिल्ली में शुरू होनी है। फिल्म में करीना कपूर लीड रोल प्ले कर रही है। यह शूटिंग कई सप्ताह तक चलने की संभावना है। ऐसे में सैफ और करीना ने इस दौरान पटौदी पैलेस में ही रहने का फैसला लिया है। करीना, पटौदी पैलेस से ही शूटिंग के लिए अपनी कार से दिल्ली आया-जाया करेंगी।

सैफ, करीना के साथ उनका बेटा तैमूर (taimur), तैमूर की नैनी, सैफ के निजी सहायक, जिम ट्रेनर भी आएंगे। सैफ की मां  शर्मिला टैगोर भी कुछ दिन अपनी बहू, बेटे और पोते के साथ समय बिताएंगी।

सैफ, करीना के साथ उनका बेटा तैमूर (taimur), तैमूर की नैनी, सैफ के निजी सहायक, जिम ट्रेनर भी आएंगे। सैफ की मां  शर्मिला टैगोर भी कुछ दिन अपनी बहू, बेटे और पोते के साथ समय बिताएंगी।

पैलेस मैनेजमेंट ने सैफ के साथ आ रहे उनके सहायकों और महल स्टाफ का उनके आगमन से पहले कोरोना टेस्ट कराने का निर्णय लिया है। साथ ही सभी कर्मचारियों को इस दौरान बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी। पूरे पैलेस को सैनिटाइज भी किया जाएगा। मुख्य पैलेस की साफ सफाई करा दी गई है। विशेषकर सैफ के जिम और लाइब्रेरी में समान करीने से लगाया जा रहा है। 

पैलेस मैनेजमेंट ने सैफ के साथ आ रहे उनके सहायकों और महल स्टाफ का उनके आगमन से पहले कोरोना टेस्ट कराने का निर्णय लिया है। साथ ही सभी कर्मचारियों को इस दौरान बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी। पूरे पैलेस को सैनिटाइज भी किया जाएगा। मुख्य पैलेस की साफ सफाई करा दी गई है। विशेषकर सैफ के जिम और लाइब्रेरी में समान करीने से लगाया जा रहा है। 

बात पटौदी पैलेस की करें तो इसको इब्राहिम कोठी के नाम से भी जाना जाता है। ये पैलेस अंदर से बेहद आलीशान है और इसका कोना-कोना शानदार है।

बात पटौदी पैलेस की करें तो इसको इब्राहिम कोठी के नाम से भी जाना जाता है। ये पैलेस अंदर से बेहद आलीशान है और इसका कोना-कोना शानदार है।

इसकी कीमत करीब 800 करोड़ बताई जाती है। इसमें 150 रूम हैं और 100 से ज्यादा नौकर काम करते थे, लेकिन अब वो बात नहीं है।

इसकी कीमत करीब 800 करोड़ बताई जाती है। इसमें 150 रूम हैं और 100 से ज्यादा नौकर काम करते थे, लेकिन अब वो बात नहीं है।

महल को जहां इफ्तिखार अली हुसैन सिद्दीकी ने बनवाया तो वहीं उनके बेटे और 9वें नवाब मंसूर अली उर्फ नवाब पटौदी ने विदेशी आर्किटेक्ट की मदद से इसका रिनोवेशन कराया था। यहां कई बड़े ग्राउंड, गैरेज और घोड़ों के अस्तबल हैं।

महल को जहां इफ्तिखार अली हुसैन सिद्दीकी ने बनवाया तो वहीं उनके बेटे और 9वें नवाब मंसूर अली उर्फ नवाब पटौदी ने विदेशी आर्किटेक्ट की मदद से इसका रिनोवेशन कराया था। यहां कई बड़े ग्राउंड, गैरेज और घोड़ों के अस्तबल हैं।

2003 में मंसूर अली खान की मां साजिदा सुल्तान की मौत के बाद उन्हें सरकारी बंगला छोड़ना पड़ा। उसके बाद नवाब पटौदी पत्नी शर्मिला टैगौर के साथ इस महल में रहने लगे थे।

2003 में मंसूर अली खान की मां साजिदा सुल्तान की मौत के बाद उन्हें सरकारी बंगला छोड़ना पड़ा। उसके बाद नवाब पटौदी पत्नी शर्मिला टैगौर के साथ इस महल में रहने लगे थे।

पटौदी पैलेस में कई बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग भी की जा चुकी है, जिनमें 'मंगल पांडे', 'वीर-जारा', 'रंग दे बसंती', 'लव' जैसी फिल्में शामिल हैं।

पटौदी पैलेस में कई बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग भी की जा चुकी है, जिनमें 'मंगल पांडे', 'वीर-जारा', 'रंग दे बसंती', 'लव' जैसी फिल्में शामिल हैं।

मंसूर अली उर्फ नवाब पटौदी की मौत के बाद उन्हें महल परिसर में स्थित कब्रगाह में दफनाया गया था।

मंसूर अली उर्फ नवाब पटौदी की मौत के बाद उन्हें महल परिसर में स्थित कब्रगाह में दफनाया गया था।

पैलेस में कई बड़े मैदान, अस्तबल और गैरेज हैं। रिनोवेशन के बाद, सैफ ने पैलेस की फोटोज भी शेयर की थी। एक बड़े ड्राइंग रूम के अलावा, पैलेस में सात बेडरूम, ड्रेसिंग और बिलियर्ड रूम हैं।

पैलेस में कई बड़े मैदान, अस्तबल और गैरेज हैं। रिनोवेशन के बाद, सैफ ने पैलेस की फोटोज भी शेयर की थी। एक बड़े ड्राइंग रूम के अलावा, पैलेस में सात बेडरूम, ड्रेसिंग और बिलियर्ड रूम हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios