Asianet News Hindi

जब शादी के बाद काजोल को सास के साथ तालमेल बिठाने में आई परेशानी फिर ऐसे संभला दोनों का रिश्ता

First Published Oct 17, 2020, 4:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. शाहरुख खान और काजोल स्टारर फिल्म 'कुछ-कुछ होता है' को 22 साल पूरे हो चुके हैं। ये मूवी सिनेमाघरों में 16 अक्टूबर, 1998 को रिलीज हुई थी। फिल्म में काजोल की एक्टिंग को काफी पसंद किया गया था। आज इस मौके पर काजोल और उनकी सास से जुड़ा एक किस्सा बता रहे हैं, जब वो शादी के बाद पहली बार अजय देवगन के घर गई थीं तो उन्हें देवगन फैमिली और सास वीणा देवगन के साथ तालमेल बिठाने में परेशानी आई थी फिर उनकी सास ने दोनों के रिश्ते को संभाला और मिठास बरकरार रखी। सास वीणा देवगन ने संभाला दोनों का रिश्ता...

दरअसल, जब काजोल अजय देवगन से शादी करके पहली बार अपने ससुराल गई थीं तो उन्हें देवगन फैमिली के साथ तालमेल बिठा पाने में परेशानी आई थी। इसके बाद सास वीणा देवगन ने एक्ट्रेस को सपोर्ट किया और दोनों ने ही इसे हैंडल किया, जो कि मिठास में तब्दील हो गया।

दरअसल, जब काजोल अजय देवगन से शादी करके पहली बार अपने ससुराल गई थीं तो उन्हें देवगन फैमिली के साथ तालमेल बिठा पाने में परेशानी आई थी। इसके बाद सास वीणा देवगन ने एक्ट्रेस को सपोर्ट किया और दोनों ने ही इसे हैंडल किया, जो कि मिठास में तब्दील हो गया।

काजोल ने एक इंटरव्यू में ससुराल के पहले एक्सपीरियंस के बारे बात करते हुए बताया था कि 'शादी के कुछ समय बाद तक उन्हें देवगन परिवार में ढलने में परेशानी आई थी।' ऐसा इसलिए हो रहा था क्योंकि एक्ट्रेस का मानना था कि 'उनका नेचर ससुराल के सब लोगों से बेहद अलग था।' 

काजोल ने एक इंटरव्यू में ससुराल के पहले एक्सपीरियंस के बारे बात करते हुए बताया था कि 'शादी के कुछ समय बाद तक उन्हें देवगन परिवार में ढलने में परेशानी आई थी।' ऐसा इसलिए हो रहा था क्योंकि एक्ट्रेस का मानना था कि 'उनका नेचर ससुराल के सब लोगों से बेहद अलग था।' 

'एक ओर जहां काजोल आउटगोइंग, अपनी दिल की बात साफ कहने वाली और चर्पी व्यक्तित्व वाली थीं, तो वहीं दूसरी ओर देवगन परिवार में सभी बेहद शांत और सॉफ्ट स्पोकन वाले लोग थे।'

'एक ओर जहां काजोल आउटगोइंग, अपनी दिल की बात साफ कहने वाली और चर्पी व्यक्तित्व वाली थीं, तो वहीं दूसरी ओर देवगन परिवार में सभी बेहद शांत और सॉफ्ट स्पोकन वाले लोग थे।'

काजोल ने बताया था कि 'चूंकि उनके लिए यह सबकुछ बेहद अलग और नया था, इसलिए वह ना तो ज्यादा बोलती थीं और ना ही खुद की मर्जी से किचन में कोई चीज तक लेती थीं।' 

काजोल ने बताया था कि 'चूंकि उनके लिए यह सबकुछ बेहद अलग और नया था, इसलिए वह ना तो ज्यादा बोलती थीं और ना ही खुद की मर्जी से किचन में कोई चीज तक लेती थीं।' 

एक्ट्रेस ने बताया था कि 'वह तो शादी के बाद वीणा देवगन को मां या मम्मी बुलाने की जगह आंटी ही बुलाती थीं। इस पर कभी भी मिसिस देवगन ने ऐतराज नहीं जताया। एक बार सास की दोस्त ने इस पर हैरानी जताते हुए सवाल किया था, तब वीणा देवगन ने अपनी बहू का बचाव करते हुए कहा था 'जब बोलेगी दिल से बोलेगी।'
 

एक्ट्रेस ने बताया था कि 'वह तो शादी के बाद वीणा देवगन को मां या मम्मी बुलाने की जगह आंटी ही बुलाती थीं। इस पर कभी भी मिसिस देवगन ने ऐतराज नहीं जताया। एक बार सास की दोस्त ने इस पर हैरानी जताते हुए सवाल किया था, तब वीणा देवगन ने अपनी बहू का बचाव करते हुए कहा था 'जब बोलेगी दिल से बोलेगी।'
 

बता दें, आज काजोल और अजय देवगन की शादीशुदा जोड़ी लोगों को रिश्ता बरकरार रखने की प्रेरणा देती है। लोग इन्हें फॉलो करते हैं। दोनों का रिश्ता आज भी बेहतरीन है और वो दो बच्चों के माता-पिता भी हैं। काजोल और अजय देवगन की पहली मुलाकात फिल्म 'हलचल' की शूटिंग पर हुई थी। जब काजोल, अजय से पहली बार मिली थी तो यह देखा कि उन्हें एक किनारे अकेले बैठना पसंद है। ज्यादा बातें भी नहीं करते थे। तब काजोल को लगता था कि ऐसा भला कैसे हो सकता है कि कोई बात नहीं करे।

बता दें, आज काजोल और अजय देवगन की शादीशुदा जोड़ी लोगों को रिश्ता बरकरार रखने की प्रेरणा देती है। लोग इन्हें फॉलो करते हैं। दोनों का रिश्ता आज भी बेहतरीन है और वो दो बच्चों के माता-पिता भी हैं। काजोल और अजय देवगन की पहली मुलाकात फिल्म 'हलचल' की शूटिंग पर हुई थी। जब काजोल, अजय से पहली बार मिली थी तो यह देखा कि उन्हें एक किनारे अकेले बैठना पसंद है। ज्यादा बातें भी नहीं करते थे। तब काजोल को लगता था कि ऐसा भला कैसे हो सकता है कि कोई बात नहीं करे।

हालांकि, धीरे-धीरे अजय देवगन काजोल से बात करने लगे और उनकी दोस्ती हो गई। इस फिल्म के बाद दोनों ने एक साथ कई फिल्में कीं, जो हिट रहीं जैसे 'इश्क', 'प्यार तो होना ही था', 'दिल क्या करे', 'राजू चाचा' और 'यू मी और हम'। समय के साथ अजय और काजोल का प्यार परवान चढ़ता गया और 1999 में दोनों ने शादी कर ली।

हालांकि, धीरे-धीरे अजय देवगन काजोल से बात करने लगे और उनकी दोस्ती हो गई। इस फिल्म के बाद दोनों ने एक साथ कई फिल्में कीं, जो हिट रहीं जैसे 'इश्क', 'प्यार तो होना ही था', 'दिल क्या करे', 'राजू चाचा' और 'यू मी और हम'। समय के साथ अजय और काजोल का प्यार परवान चढ़ता गया और 1999 में दोनों ने शादी कर ली।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios