Asianet News Hindi

अमिताभ बच्चन के कारण खौफ में थी 70 के दशक की ये एक्ट्रेस, था जान का खतरा, लगाए थे ऐसे गंभीर आरोप

First Published Jan 20, 2021, 11:10 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. 70 के दशक की सबसे ग्लैमरस एक्ट्रेसेस में से एक परवीन बाबी (parveen babi) की आज 16वीं डेथ एनिवर्सरी है। उनका निधन 20 जनवरी, 2005 को मुंबई में हुआ था। उनकी मौत के तीन दिन बाद उनके गुजर जाने की खबर सामने आई थी। अपने जमाने में कई सुपरहिट फिल्मों में काम करने वाली परवीन को प्रोफेशनल लाइफ जितनी सक्सेफुल रही उनकी पर्सनल लाइफ नहीं रही। उनके अफेयर्स कईयों के साथ रहे लेकिन किसी के साथ भी उनका रिश्ता अंजाम तक नहीं पहुंच पाया। परवीन की लाइफ में एक वक्त ऐसा भी आया जब उन्हें लगने लगा था कि अमिताभ बच्चन (amitabh bachchan) उन्हें जान से मारना चाहते है। ये उस दौरान की बात है जब परवीन की मानसिक स्थिति बिगड़ने लगी थी। वरना एक वक्त ऐसा था जब वे बिग बी की तारीफ करते नहीं थकती थी।

एक इंटरव्यू में परवीन ने अमिताभ बच्चन को अपना आइडल बताया था। इंटरव्यू में परवीन से पूछा गया थी कि फिल्म इंडस्ट्री में उनका आइडल कौन है? इसके जवाब में परवीन ने कहा था- वैसे तो बहुत सारे स्टार्स हैं, जिन्हें वो बहुत पसंद करती है लेकिन एक ऐसे स्टार हैं जिनके साथ उन्हें काम करने का मौका मिला है। जो वाकई में एक सच्चे कलाकार हैं और वो है अमिताभ बच्चन। 

एक इंटरव्यू में परवीन ने अमिताभ बच्चन को अपना आइडल बताया था। इंटरव्यू में परवीन से पूछा गया थी कि फिल्म इंडस्ट्री में उनका आइडल कौन है? इसके जवाब में परवीन ने कहा था- वैसे तो बहुत सारे स्टार्स हैं, जिन्हें वो बहुत पसंद करती है लेकिन एक ऐसे स्टार हैं जिनके साथ उन्हें काम करने का मौका मिला है। जो वाकई में एक सच्चे कलाकार हैं और वो है अमिताभ बच्चन। 

बता दें कि एक समय ऐसा भी आया कि जब परवीन ने अमिताभ पर आरोप लगाया कि वो उन्हें जान से मारना चाहते हैं। परवीन ने यहां तक कहा था कि अमिताभ ने उनके पीछे गुंडे लगवाए हैं। वो एक गैंगस्टर हैं और उनकी जिंदगी के पीछे पड़े हैं। उनकी जान लेना चाहते हैं। उन्हें लगता था कि बिग बी के गुंडों ने उनकी सर्जरी की और उनके कान के नीचे एक चिप और ट्रांसमीटर जैसी चीज लगाई। 

बता दें कि एक समय ऐसा भी आया कि जब परवीन ने अमिताभ पर आरोप लगाया कि वो उन्हें जान से मारना चाहते हैं। परवीन ने यहां तक कहा था कि अमिताभ ने उनके पीछे गुंडे लगवाए हैं। वो एक गैंगस्टर हैं और उनकी जिंदगी के पीछे पड़े हैं। उनकी जान लेना चाहते हैं। उन्हें लगता था कि बिग बी के गुंडों ने उनकी सर्जरी की और उनके कान के नीचे एक चिप और ट्रांसमीटर जैसी चीज लगाई। 

रिपोर्ट्स की मानें तो 1980 में फिल्म शान की शूटिंग चल रही थी। टाइटल सॉन्ग फिल्माया जाना था। अमिताभ बच्चन, शशि कपूर, बिंदिया गोस्वामी, जॉनी वॉकर, बिंदु और परवीन बाबी सेट पर मौजूद थे। गाना शूट होना शुरू ही हुआ था कि परवीन ने अचानक शूटिंग रूकवा दी। उन्होंने सेट पर लगे झूमर के नीचे खड़े होने से इनकार कर दिया।

रिपोर्ट्स की मानें तो 1980 में फिल्म शान की शूटिंग चल रही थी। टाइटल सॉन्ग फिल्माया जाना था। अमिताभ बच्चन, शशि कपूर, बिंदिया गोस्वामी, जॉनी वॉकर, बिंदु और परवीन बाबी सेट पर मौजूद थे। गाना शूट होना शुरू ही हुआ था कि परवीन ने अचानक शूटिंग रूकवा दी। उन्होंने सेट पर लगे झूमर के नीचे खड़े होने से इनकार कर दिया।

उन्होंने वहीं सबके सामने अमिताभ पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वे उन पर झूमर गिराकर मारना चाहते हैं। अमिताभ के साथ इस साजिश में फिल्म के डायरेक्टर रमेश सिप्पी भी शामिल हैं। परवीन के आरोपों के बाद शूटिंग रोक दी गई और उन्हें वहां से हटाया गया। परवीन के आरोपों से पूरी फिल्म इंडस्ट्री हिल गई।
 

उन्होंने वहीं सबके सामने अमिताभ पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वे उन पर झूमर गिराकर मारना चाहते हैं। अमिताभ के साथ इस साजिश में फिल्म के डायरेक्टर रमेश सिप्पी भी शामिल हैं। परवीन के आरोपों के बाद शूटिंग रोक दी गई और उन्हें वहां से हटाया गया। परवीन के आरोपों से पूरी फिल्म इंडस्ट्री हिल गई।
 

1989 में परवीन ने एक इंटरव्यू में अमिताभ को सुपर इंटरनेशनल गैंगस्टर बता दिया था। परवीन ने अमिताभ पर किडनेपिंग और उन्हें एक टापू पर बंधक बनाकर रखने का इल्जाम लगाया था।

1989 में परवीन ने एक इंटरव्यू में अमिताभ को सुपर इंटरनेशनल गैंगस्टर बता दिया था। परवीन ने अमिताभ पर किडनेपिंग और उन्हें एक टापू पर बंधक बनाकर रखने का इल्जाम लगाया था।

परवीन की शुरुआती पढ़ाई माउंट कार्मल हाई स्कूल, अहमदाबाद से हुई। इसके बाद उन्होंने अहमदाबाद के सेंट जेवियर्स कॉलेज से आगे की पढ़ाई की। कॉलेज में पढ़ाई करने के दौरान फिल्मकार बी आर इशारा की नजर उनपर पड़ी। मिनी स्कर्ट पहने और हाथ में सिगरेट लिए उनका अंदाज उन्हें इतना पसंद आया कि उन्होंने तुरंत उन्हें अपनी फिल्म चरित्र (1973) के लिए साइन कर लिया। हालांकि, ये फिल्म तो नहीं चल सकी, लेकिन परवीन बाबी चल निकलीं।

परवीन की शुरुआती पढ़ाई माउंट कार्मल हाई स्कूल, अहमदाबाद से हुई। इसके बाद उन्होंने अहमदाबाद के सेंट जेवियर्स कॉलेज से आगे की पढ़ाई की। कॉलेज में पढ़ाई करने के दौरान फिल्मकार बी आर इशारा की नजर उनपर पड़ी। मिनी स्कर्ट पहने और हाथ में सिगरेट लिए उनका अंदाज उन्हें इतना पसंद आया कि उन्होंने तुरंत उन्हें अपनी फिल्म चरित्र (1973) के लिए साइन कर लिया। हालांकि, ये फिल्म तो नहीं चल सकी, लेकिन परवीन बाबी चल निकलीं।

इंडस्ट्री में आने के बाद परवीन जितनी जल्दी स्टैब्लिश हुई, उतनी जल्दी ही उन्होंने अपने लिए पार्टनर भी ढूंढ लिया। यहां सबसे पहले उनका नाम डैनी के साथ जुड़ा। फिल्म धुएं की लकीर से शुरू हुआ उनका अफेयर कुछ ही घंटों में परवान चढ़ चुका था। हालांकि, ये अफेयर ज्यादा दिनों तक नहीं चला। 

इंडस्ट्री में आने के बाद परवीन जितनी जल्दी स्टैब्लिश हुई, उतनी जल्दी ही उन्होंने अपने लिए पार्टनर भी ढूंढ लिया। यहां सबसे पहले उनका नाम डैनी के साथ जुड़ा। फिल्म धुएं की लकीर से शुरू हुआ उनका अफेयर कुछ ही घंटों में परवान चढ़ चुका था। हालांकि, ये अफेयर ज्यादा दिनों तक नहीं चला। 

डैनी के बाद परवीन, कबीर बेदी के संपर्क में आईं। कबीर मॉडर्न ख्यालात के इंसान थे। सिगरेट, शराब पीने वाली और बोल्ड नेचर की परवीन और कबीर को एक-दूसरे का साथ बेहद पसंद आने लगा। दोनों लंबे समय तक लिव-इन में रहे, लेकिन ये रिश्ता भी ज्यादा दिन तक नहीं चल सका। इसके बाद परवीन की लाइफ में महेश भट्ट आए। दोनों करीब तीन साल तक साथ रहे।

डैनी के बाद परवीन, कबीर बेदी के संपर्क में आईं। कबीर मॉडर्न ख्यालात के इंसान थे। सिगरेट, शराब पीने वाली और बोल्ड नेचर की परवीन और कबीर को एक-दूसरे का साथ बेहद पसंद आने लगा। दोनों लंबे समय तक लिव-इन में रहे, लेकिन ये रिश्ता भी ज्यादा दिन तक नहीं चल सका। इसके बाद परवीन की लाइफ में महेश भट्ट आए। दोनों करीब तीन साल तक साथ रहे।

परवीन अपने करियर के सबसे सफल मुकाम पर थीं, जब 1983 में वो अचानक बॉलीवुड से गायब हो गईं। किसी ने कहा कि परवीन के गायब होने के पीछे अंडरवर्ल्ड का हाथ है तो किसी ने बताया कि वो आध्यात्मिक यात्राओं पर निकल गई है। 1989 में जब परवीन लौटी तब वह काफी बदल गई थीं।

परवीन अपने करियर के सबसे सफल मुकाम पर थीं, जब 1983 में वो अचानक बॉलीवुड से गायब हो गईं। किसी ने कहा कि परवीन के गायब होने के पीछे अंडरवर्ल्ड का हाथ है तो किसी ने बताया कि वो आध्यात्मिक यात्राओं पर निकल गई है। 1989 में जब परवीन लौटी तब वह काफी बदल गई थीं।

परवीन ने मजबूर, दीवार, अमर अकबर एंथोनी, सुहाग, कालिया, शान, द बर्निंग ट्रेन, नमक हलाल, काला पत्थर, एक और एक ग्यारह, अशांति, अर्पण, रंग बिरंगी, देश प्रेमी, क्रांति, रजिया सुल्तान, चोर पुलिस जैसी कई फिल्मों में काम किया। 

परवीन ने मजबूर, दीवार, अमर अकबर एंथोनी, सुहाग, कालिया, शान, द बर्निंग ट्रेन, नमक हलाल, काला पत्थर, एक और एक ग्यारह, अशांति, अर्पण, रंग बिरंगी, देश प्रेमी, क्रांति, रजिया सुल्तान, चोर पुलिस जैसी कई फिल्मों में काम किया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios