Asianet News Hindi

शाहरुख की सास ने किया ये अवैध काम, फंसी कानूनी पचड़े में, देना पड़ सकता है करोड़ों का जुर्माना

First Published Feb 28, 2020, 5:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई.  शाहरुख खान की सास सविता छिब्बा और साली नमिता छिब्बा की फर्म के फार्म हाउस पर 3 करोड़ रुपए का जुर्माना लगा है। शाहरुख की सास सविता और उनकी साली नमिता डेजा वू फार्म्स प्राइवेट लिमिटेड की डायरेक्टर हैं। एक आलीशान बंगले के साथ ये फार्महाउस थाल के अलीबाग में है। दोनों पर बॉम्बे टेनेंसी एक्ट के उल्लंघन आरोप लगा है। यहां पर शाहरुख की पत्नी गौरी खान, बेटी सुहाना खान और बेटा आर्यन खान अपने दोस्तों के साथ पार्टीज करते रहते हैं। 

2008 में बने इस बंगले में तमाम बॉलीवुड पार्टीज हुई हैं, जिनमें शाहरुख खान के 52वें बर्थडे की पार्टी भी शामिल है। 1.3 हेक्टर में फैले इस फार्महाउस में एक स्विमिंग पूल और हैलीपैड भी है।

2008 में बने इस बंगले में तमाम बॉलीवुड पार्टीज हुई हैं, जिनमें शाहरुख खान के 52वें बर्थडे की पार्टी भी शामिल है। 1.3 हेक्टर में फैले इस फार्महाउस में एक स्विमिंग पूल और हैलीपैड भी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, फार्म हाउस को 29 जनवरी 2018 को कलेक्टर विजय सूर्यवंशी द्वारा नोटिस भेजा गया था। नोटिस में लिखा था कि प्लॉट के खरीदे जाने के बाद उस वक्त के एडिशनल कलेक्टर रायगड़ ने 13 मई 2005 को इस प्लॉट पर खेतीबाड़ी करने की अनुमति दी थी।

रिपोर्ट के मुताबिक, फार्म हाउस को 29 जनवरी 2018 को कलेक्टर विजय सूर्यवंशी द्वारा नोटिस भेजा गया था। नोटिस में लिखा था कि प्लॉट के खरीदे जाने के बाद उस वक्त के एडिशनल कलेक्टर रायगड़ ने 13 मई 2005 को इस प्लॉट पर खेतीबाड़ी करने की अनुमति दी थी।

रिपोर्ट में लिखा गया है कि वास्तविक फार्महाउस को तोड़कर इसकी जगह पर नया फार्महाउस बनाया गया जो कि बॉम्बे टेनेंसी एक्ट के सेक्शन 63 का उल्लंघन करता है। फार्महाउस के डायरेक्टर्स को सुनवाई के लिए समन भेजा गया और उनसे पूछा गया कि उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाए? कुछ सुनवाइयों के बाद 20 जनवरी, 2020 को एक और ऑर्डर दिया गया था, जिसमें उल्लंघन की बात की गई और 3 करोड़ 9 लाख रुपए पैनल्टी के तौर पर जमा करने की बात कही गई थी।

रिपोर्ट में लिखा गया है कि वास्तविक फार्महाउस को तोड़कर इसकी जगह पर नया फार्महाउस बनाया गया जो कि बॉम्बे टेनेंसी एक्ट के सेक्शन 63 का उल्लंघन करता है। फार्महाउस के डायरेक्टर्स को सुनवाई के लिए समन भेजा गया और उनसे पूछा गया कि उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाए? कुछ सुनवाइयों के बाद 20 जनवरी, 2020 को एक और ऑर्डर दिया गया था, जिसमें उल्लंघन की बात की गई और 3 करोड़ 9 लाख रुपए पैनल्टी के तौर पर जमा करने की बात कही गई थी।

वहीं नमिता छिब्बा के वकील के अनुसार उन्हें अभी तक इस आदेश की आधिकारिक प्रति नहीं मिली है। वहीं, सूर्यवंशी का कहना है कि आदेश अजगांवकर  (निदेशकों में एक, 30 दिसंबर, 2004 से 1 अक्टूबर, 2011) के नाम पर जारी किया गया था। उन्हें इसकी जानकारी नहीं है कि फाइन भरा गया है या नहीं।

वहीं नमिता छिब्बा के वकील के अनुसार उन्हें अभी तक इस आदेश की आधिकारिक प्रति नहीं मिली है। वहीं, सूर्यवंशी का कहना है कि आदेश अजगांवकर (निदेशकों में एक, 30 दिसंबर, 2004 से 1 अक्टूबर, 2011) के नाम पर जारी किया गया था। उन्हें इसकी जानकारी नहीं है कि फाइन भरा गया है या नहीं।

शाहरुख का इस मामले में अभी तक कोई बयान नहीं आया है। बता दें कि शाहरुख पिछले काफी वक्त से बड़े पर्दे से दूर हैं और पर्दे के पीछे रहकर ही काम कर रहे हैं।

शाहरुख का इस मामले में अभी तक कोई बयान नहीं आया है। बता दें कि शाहरुख पिछले काफी वक्त से बड़े पर्दे से दूर हैं और पर्दे के पीछे रहकर ही काम कर रहे हैं।

शाहरुख आखिरी बार फिल्म जीरो में नजर आए थे। वे लंबे समय से पर्दे से गायब है। 2019 में शाहरुख की कोई भी फिल्म रिलीज नहीं हुई।

शाहरुख आखिरी बार फिल्म जीरो में नजर आए थे। वे लंबे समय से पर्दे से गायब है। 2019 में शाहरुख की कोई भी फिल्म रिलीज नहीं हुई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios