Asianet News Hindi

22 साल पहले आज के दिन ही सचिन ने उड़ाए थे वार्न के होश, रेतीले तूफान के बीच लगाया था शानदार शतक

First Published Apr 22, 2020, 12:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. साल 1998 में आज के दिन ही सचिन तेंदुलकर ने 143 रनों की शानदार पारी खेली थी और शेन वार्न के छक्के छुड़ा दिए थे। हालांकि सचिन के 143 रनों के बावजूद भारत यह मैच हार गया था। हार के बाद भी भारत इस मैच में अंत तक लड़ा था और उसका रन रेट न्यूजीलैंड से बेहतर था। इस आधार पर भारत को कोला के फाइनल मैच में जगह मिली और टीम इंडिया ने खिताब अपने नाम किया था। सचिन ने इसके अलावा भी कई बड़े शतक लगाए हैं और अपनी टीम को जीत दिलाई है, पर यह शतक कई मायनों में खास था। इस मैच में भारत के लिए सचिन के अलावा दूसरा कोई बल्लेबाज नहीं चला था। सचिन के बाद नयन मोंगिया ने भारत के लिए सबसे ज्यादा 35 रनों की पारी खेली थी। 

ICC ने भी सचिन को इस पारी के लिए शुभकामनाएं दी हैं। इस मैच में शेन वार्न जैसे गेंदबाज सचिन के सामने बेबस नजर आए थे। 
 

ICC ने भी सचिन को इस पारी के लिए शुभकामनाएं दी हैं। इस मैच में शेन वार्न जैसे गेंदबाज सचिन के सामने बेबस नजर आए थे। 
 

इस मैच के बीच में रेतीला तूफान भी आया था और इस वजह से थोड़ी देर के लिए मैच रुका था। 
 

इस मैच के बीच में रेतीला तूफान भी आया था और इस वजह से थोड़ी देर के लिए मैच रुका था। 
 

रेतीला तूफान रुकने के बाद सचिन का तूफान आया पर यह तूफान भी भारत को मैच नहीं जिता सका। 
 

रेतीला तूफान रुकने के बाद सचिन का तूफान आया पर यह तूफान भी भारत को मैच नहीं जिता सका। 
 

इस मैच में भारत को 46 ओवर में 276 रनों का लक्ष्य मिला था, पर भारत 250 रन ही बना पाया था। 
 

इस मैच में भारत को 46 ओवर में 276 रनों का लक्ष्य मिला था, पर भारत 250 रन ही बना पाया था। 
 

हार के बाद भी भारत ने कोला कप के फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया था, क्योंकि उसका नेट रन रेट न्यूजीलैंड से बेहतर था। 
 

हार के बाद भी भारत ने कोला कप के फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया था, क्योंकि उसका नेट रन रेट न्यूजीलैंड से बेहतर था। 
 

इसके बाद फाइनल में भी भारतीय टीम ने शानदार खेल दिखाया और खिताब अपने नाम किया था। 
 

इसके बाद फाइनल में भी भारतीय टीम ने शानदार खेल दिखाया और खिताब अपने नाम किया था। 
 

ऑस्ट्रेलिया के माइकल वेबन ने इस मैच में 101 रनों की नाबाद पारी खेली थी और अपनी टीम के स्कोर को 284 तक ले गए थे। 
 

ऑस्ट्रेलिया के माइकल वेबन ने इस मैच में 101 रनों की नाबाद पारी खेली थी और अपनी टीम के स्कोर को 284 तक ले गए थे। 
 

सचिन ने इस मैच में शेन वार्न की जमकर पिटाई की थी। इस मैच में उन्हें कोई विकेट भी नहीं मिला था। 

सचिन ने इस मैच में शेन वार्न की जमकर पिटाई की थी। इस मैच में उन्हें कोई विकेट भी नहीं मिला था। 

ऑस्ट्रेलिया के मार्क वॉ ने इस मैच में 81 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। 
 

ऑस्ट्रेलिया के मार्क वॉ ने इस मैच में 81 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। 
 

रेत के तूफान के बीच लगाया गया यह शतक सचिन की सबसे बेहतरीन पारियों में से एक है। भले ही सचिन टीम को यह मैच नहीं जिता पाए थे, पर भारत को फाइनल में पहुंचाने में उनका पूरा योगदान था।

रेत के तूफान के बीच लगाया गया यह शतक सचिन की सबसे बेहतरीन पारियों में से एक है। भले ही सचिन टीम को यह मैच नहीं जिता पाए थे, पर भारत को फाइनल में पहुंचाने में उनका पूरा योगदान था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios