Asianet News Hindi

3D प्रोजेक्टर-VVIP बॉक्स-स्वीमिंग पूल-4 ड्रेसिंग रूम...जैसी हाइटेक सुविधाओं से लैस है नरेन्द्र मोदी स्टेडियम

First Published Feb 24, 2021, 3:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

स्पोर्ट्स डेस्क : भारत और इंग्लैड के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मैच (IND vs ENG, 3rd Test) अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम (motera stadium) में खेला जा रहा है। 24 फरवरी से यहां पर होने वाले डे-नाइट टेस्ट मैच से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इसका उद्घाटन किया। इस मौके पर गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद थे। उन्होंने ऐलान किया कि, दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा अब नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जाएगा। बता दें कि इस मौके पर बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली यहां मौजूद नहीं रहे, लेकिन उन्होंने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का शुक्रिया अदा किया। इस स्टेडियम का निर्माण 1983 में हुआ था, लेकिन अब इसे रेनोवेट करके दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम बनाया गया है। आइए आज आपको बताते हैं, इस मैदान की खासियत के बारे में..

लगभग 1 साल से स्टेडियम में बैठकर क्रिकेट का मजा लेने वाले फैंस का इंतजार अब खत्म हो गया है। क्रिकेट प्रेमी भारत और इंग्लैंड के पिंक बॉल टेस्ट का मजा दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम में देखकर ले रहे हैं। इस स्टेडियम में पहले केवल 53 हजार दर्शकों के बैठने की जगह थी, लेकिन अब इसमें एक साथ 1.32 लाख लोग बैठकर मैच का लुत्फ ले सकते हैं। हालांकि कोरोना के चलते अभी 50 फीसदी लोगों को मैच देखने की अनुमति दी गई है।

लगभग 1 साल से स्टेडियम में बैठकर क्रिकेट का मजा लेने वाले फैंस का इंतजार अब खत्म हो गया है। क्रिकेट प्रेमी भारत और इंग्लैंड के पिंक बॉल टेस्ट का मजा दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम में देखकर ले रहे हैं। इस स्टेडियम में पहले केवल 53 हजार दर्शकों के बैठने की जगह थी, लेकिन अब इसमें एक साथ 1.32 लाख लोग बैठकर मैच का लुत्फ ले सकते हैं। हालांकि कोरोना के चलते अभी 50 फीसदी लोगों को मैच देखने की अनुमति दी गई है।

आज इस एक साल पहले 24 फरवरी को ही इस स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम हुआ था। अब 24 फरवरी 2021 को भारत और इंग्लैंड के बीच डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जा रहा है।

आज इस एक साल पहले 24 फरवरी को ही इस स्टेडियम में नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम हुआ था। अब 24 फरवरी 2021 को भारत और इंग्लैंड के बीच डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जा रहा है।

अहमदाबाद का ये स्टेडियम 63 एकड़ में फैला हुआ है। इसे अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम (Sardar Patel Stadium) के नाम से भी जाना जाता है। 

अहमदाबाद का ये स्टेडियम 63 एकड़ में फैला हुआ है। इसे अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम (Sardar Patel Stadium) के नाम से भी जाना जाता है। 

स्टेडियम को बनाने में 700 करोड़ से ज्यादा का खर्च आया है। इस स्टेडियम की खास बात ये है कि कहीं से बैठकर भी मैच देखा जाए तो विजन एकदम क्लियर होगा, क्योंकि मैदान के बीच में एक भी पिलर या अन्य कोई अड़चन नहीं है।

स्टेडियम को बनाने में 700 करोड़ से ज्यादा का खर्च आया है। इस स्टेडियम की खास बात ये है कि कहीं से बैठकर भी मैच देखा जाए तो विजन एकदम क्लियर होगा, क्योंकि मैदान के बीच में एक भी पिलर या अन्य कोई अड़चन नहीं है।

इस स्टेडियम को बनाने के लिए 1 लाख मिट्रिक टन लोहे का इस्तेमाल किया गया है, जिसका वजन पेरिस के एफिल टॉवर से 10 गुना ज्यादा है। इसके साथ ही इसमें  14 हजार मिट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल किया गया है, जो लंदन टॉवर के बराबर है।

इस स्टेडियम को बनाने के लिए 1 लाख मिट्रिक टन लोहे का इस्तेमाल किया गया है, जिसका वजन पेरिस के एफिल टॉवर से 10 गुना ज्यादा है। इसके साथ ही इसमें  14 हजार मिट्रिक टन स्टील का इस्तेमाल किया गया है, जो लंदन टॉवर के बराबर है।

इस स्टेडियम की रूप-रेखा अमेरिकन कंपनी Populous ने बनाई है। इसी कंपनी ने ऑस्ट्रेलिया का मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड भी डिजाइन किया था। इसके साथ Larsen & Turbo ने इसे डिजाइन और बनाने का काम किया है।

इस स्टेडियम की रूप-रेखा अमेरिकन कंपनी Populous ने बनाई है। इसी कंपनी ने ऑस्ट्रेलिया का मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड भी डिजाइन किया था। इसके साथ Larsen & Turbo ने इसे डिजाइन और बनाने का काम किया है।

इस स्टेडियम में अलग-अलग प्रकार की 11 पिचें हैं, जिसमें से 5 में लाल मिट्टी और 6 में काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है। इसके साथ ही 2 प्रैक्टिस ग्राउंड भी खिलाड़ियों के लिए बनाए गए हैं, जिसमें 9 पिचें हैं। 

इस स्टेडियम में अलग-अलग प्रकार की 11 पिचें हैं, जिसमें से 5 में लाल मिट्टी और 6 में काली मिट्टी का इस्तेमाल किया गया है। इसके साथ ही 2 प्रैक्टिस ग्राउंड भी खिलाड़ियों के लिए बनाए गए हैं, जिसमें 9 पिचें हैं। 

अक्सर हम देखते हैं कि बारिश के चलते कई बार मैच को काफी समय के लिए रोकना पड़ता हैं, लेकिन इस स्टेडियम की खासियत है कि कितनी भी बारिश क्यों न हो मैदान सिर्फ आधे घंटे में सूख जाएगा।

अक्सर हम देखते हैं कि बारिश के चलते कई बार मैच को काफी समय के लिए रोकना पड़ता हैं, लेकिन इस स्टेडियम की खासियत है कि कितनी भी बारिश क्यों न हो मैदान सिर्फ आधे घंटे में सूख जाएगा।

वीआईपी गेस्ट के लिए मोटेरा स्टेडियम में 76 कॉरपोरेट बॉक्स भी बनाए गए हैं। हर कॉरपोरेट बॉक्स में 25 आरामदायक सीटें बनाई गई है। 

वीआईपी गेस्ट के लिए मोटेरा स्टेडियम में 76 कॉरपोरेट बॉक्स भी बनाए गए हैं। हर कॉरपोरेट बॉक्स में 25 आरामदायक सीटें बनाई गई है। 

इसके अलावा इसमें  50 डीलक्स रूम और 5 सूट रूम भी बनाए गए है, जिनका साइस किसी 7 स्टार होटल के रूम से कम नहीं है।
 

इसके अलावा इसमें  50 डीलक्स रूम और 5 सूट रूम भी बनाए गए है, जिनका साइस किसी 7 स्टार होटल के रूम से कम नहीं है।
 

इस स्टेडियम मे इनडोर और आउटडोर गेम्स के लिए जगह, रेस्तरां, ओलिंपिक साइज का स्वीमिंग पूल, जिम्नेशियम, पार्टी एरिया भी दिया गया है।

इस स्टेडियम मे इनडोर और आउटडोर गेम्स के लिए जगह, रेस्तरां, ओलिंपिक साइज का स्वीमिंग पूल, जिम्नेशियम, पार्टी एरिया भी दिया गया है।

गेम्स के साथ-साथ यहां 3डी प्रोजेक्टर थियेटर/टीवी रूम भी बनाया गया है।

गेम्स के साथ-साथ यहां 3डी प्रोजेक्टर थियेटर/टीवी रूम भी बनाया गया है।

बता दें कि अभी तक ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम था, लेकिन अब अहमदाबाद का मोटेरा स्टेडियम इस लिस्ट में टॉप पर आ गया है। बता दें इसमें चार ड्रेसिंग रूम बनाए गए है। ये दुनिया का पहला स्टेडियम है, जहां 4 ड्रेसिंग रूम है।

बता दें कि अभी तक ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम था, लेकिन अब अहमदाबाद का मोटेरा स्टेडियम इस लिस्ट में टॉप पर आ गया है। बता दें इसमें चार ड्रेसिंग रूम बनाए गए है। ये दुनिया का पहला स्टेडियम है, जहां 4 ड्रेसिंग रूम है।

स्टेडियम में फ्लड लाइट की जगह एलईडी लाइट्स लगाई गई है, जो दिखने में काफी आकर्षक है। LED लाइट्स के इस्तेमाल से परछाई भी नजर नहीं आएंगी।
 

स्टेडियम में फ्लड लाइट की जगह एलईडी लाइट्स लगाई गई है, जो दिखने में काफी आकर्षक है। LED लाइट्स के इस्तेमाल से परछाई भी नजर नहीं आएंगी।
 

क्रिकेट के अलावा इस स्टेडियम में आने वाले समय में फुटबॉल, हॉकी, बास्केटबॉल, कबड्डी, बॉक्सिंग, लॉन टेनिस, रनिंग ट्रैक जैसे अन्य स्पोर्ट्स के लिए एकेडमी बनाई जाएगी। इसके लिए राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उनकी पत्नी ने बुधवार को अहमदाबाद के मोटेरा में सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव का 'भूमिपूजन' भी किया। यह 236 एकड़ में बनाया जाएगा। इसे लेकर अमित शाह का कहना है कि लगभग सभी लोकप्रिय ओलंपिक खेलों की सुविधाएं खेल परिसर में तैयार हो रही हैं।

क्रिकेट के अलावा इस स्टेडियम में आने वाले समय में फुटबॉल, हॉकी, बास्केटबॉल, कबड्डी, बॉक्सिंग, लॉन टेनिस, रनिंग ट्रैक जैसे अन्य स्पोर्ट्स के लिए एकेडमी बनाई जाएगी। इसके लिए राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उनकी पत्नी ने बुधवार को अहमदाबाद के मोटेरा में सरदार वल्लभभाई पटेल स्पोर्ट्स एन्क्लेव का 'भूमिपूजन' भी किया। यह 236 एकड़ में बनाया जाएगा। इसे लेकर अमित शाह का कहना है कि लगभग सभी लोकप्रिय ओलंपिक खेलों की सुविधाएं खेल परिसर में तैयार हो रही हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios