Asianet News Hindi

डायबिटीज के मरीज रखने जा रहे हैं चैत्र नवरात्र का व्रत, तो इन बातों पर दें खास ध्यान

First Published Apr 13, 2021, 9:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हेल्थ डेस्क। आज 13 अप्रैल, मंगलवार से चैत्र नवरात्र की शुरुआत हो रही है। इस दौरान काफी लोग 9 दिन तक व्रत रखते हैं और मां दुर्गा की आराधना करते हैं। वहीं, कुछ लोग नवरात्र के पहले और अंतिम दिन व्रत रखते हैं। नवरात्र पर व्रत रखने वाले बहुत-से लोग सिर्फ पानी या फलों का जूस पीते हैं, वहीं कई लोग व्रत के दौरान कुछ खास चीजों को खाते भी हैं। व्रत रखने से शरीर को जहां फायदा होता है, वहीं ऐसे लोगों को परेशानी भी हो सकती है, जो किसी बीमारी के शिकार हैं। आजकल ज्यादातर लोग डायबिटीज यानी शुगर की बीमारी से पीड़ित हैं। यह एक लाइफस्टाइल डिजीज है। इसमें नियमित दवा लेने के साथ ही खान-पान पर काफी ध्यान देना होता है। आज हम बताने जा रहे हैं कि अगर डायबिटीज के मरीज नवरात्र का व्रत रख रहे हैं, तो उन्हें क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।
(फाइल फोटो)

डायबिटीज के मरीज अगर नवरात्र का व्रत रखते हैं, तो उन्हें खाली पेट एकदम नहीं रहना चाहिए। इससे उन्हें बहुत नुकसान हो सकता है। खाली पेट रहने से उनका शुगर लेवल बढ़ सकता है और अस्पताल जाने की नौबत आ सकती है। इसलिए इस बात का हमेशा ख्याल रखें कि पेट खाली न हो। (फाइल फोटो)

डायबिटीज के मरीज अगर नवरात्र का व्रत रखते हैं, तो उन्हें खाली पेट एकदम नहीं रहना चाहिए। इससे उन्हें बहुत नुकसान हो सकता है। खाली पेट रहने से उनका शुगर लेवल बढ़ सकता है और अस्पताल जाने की नौबत आ सकती है। इसलिए इस बात का हमेशा ख्याल रखें कि पेट खाली न हो। (फाइल फोटो)

जिन लोगों को डायबिटीज की शिकायत है, वे कभी बी पानी या सिर्फ लिक्विड यानी फलों का जूस पीकर व्रत नहीं करें। वे साबुदाने की खिचड़ी या व्रत में जो चीजें खाई जाती हैं, जरूर खाएं। बिना कुछ खाए दवा नहीं ली जा सकती है। इसलिए भी व्रत के दौरान खाना जरूरी है। (फाइल फोटो)

जिन लोगों को डायबिटीज की शिकायत है, वे कभी बी पानी या सिर्फ लिक्विड यानी फलों का जूस पीकर व्रत नहीं करें। वे साबुदाने की खिचड़ी या व्रत में जो चीजें खाई जाती हैं, जरूर खाएं। बिना कुछ खाए दवा नहीं ली जा सकती है। इसलिए भी व्रत के दौरान खाना जरूरी है। (फाइल फोटो)

अगर आप ऑफिस में या घर से काम कर रहे हों, तो अपने पास मखाना, बदाम, पिस्ता, अखरोट और दूसरे ड्राई फ्रूटस् रखें। इन्हें समय-समय पर खाते रहें। इसके अलावा अमरूद और दूसरे मौसमी फलों का भी सेवन कर सकते हैं। (फाइल फोटो)

अगर आप ऑफिस में या घर से काम कर रहे हों, तो अपने पास मखाना, बदाम, पिस्ता, अखरोट और दूसरे ड्राई फ्रूटस् रखें। इन्हें समय-समय पर खाते रहें। इसके अलावा अमरूद और दूसरे मौसमी फलों का भी सेवन कर सकते हैं। (फाइल फोटो)

व्रत के दौरान डायबिटीज के मरीज फलाहार में मखाना, लौकी की सब्जी, कुट्टू के पराठे या पूरी, खीरा, खीरे का रायता, ककड़ी, टमाटर, पनीर, केला, सेब, संतरा, पपीता और आड़ू जैसे फल खा सकते हैं। (फाइल फोटो)

व्रत के दौरान डायबिटीज के मरीज फलाहार में मखाना, लौकी की सब्जी, कुट्टू के पराठे या पूरी, खीरा, खीरे का रायता, ककड़ी, टमाटर, पनीर, केला, सेब, संतरा, पपीता और आड़ू जैसे फल खा सकते हैं। (फाइल फोटो)

इस बात का ध्यान रखें कि एक साथ बहुत ज्यादा नहीं खाएं। कुछ समय के अंतराल पर थोड़ा-थोड़ा खाते रहें। इससे पेट में भारीपन महसूस नहीं होगा। जिन चीजों से डॉक्टर ने परहेज करने को कहा है, वे मत खाएं। साथ ही, दवा लेना भी मत भूलें। (फाइल फोटो)

इस बात का ध्यान रखें कि एक साथ बहुत ज्यादा नहीं खाएं। कुछ समय के अंतराल पर थोड़ा-थोड़ा खाते रहें। इससे पेट में भारीपन महसूस नहीं होगा। जिन चीजों से डॉक्टर ने परहेज करने को कहा है, वे मत खाएं। साथ ही, दवा लेना भी मत भूलें। (फाइल फोटो)

इस मौसम में व्रत करने पर डिहाइड्रेशन होने की संभावना बनी रहती है। इसलिए पानी पीते रहें। नारियल पानी, नींबू पानी या शिकंजी, ग्रीन टी वगैरह का इस्तेमाल करें। इससे बॉडी हाइड्रेट बनी रहेगी। साथ ही, इनसे शरीर को डिटॉक्स करने में भी मदद मिलती है। (फाइल फोटो)

इस मौसम में व्रत करने पर डिहाइड्रेशन होने की संभावना बनी रहती है। इसलिए पानी पीते रहें। नारियल पानी, नींबू पानी या शिकंजी, ग्रीन टी वगैरह का इस्तेमाल करें। इससे बॉडी हाइड्रेट बनी रहेगी। साथ ही, इनसे शरीर को डिटॉक्स करने में भी मदद मिलती है। (फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios