Asianet News Hindi

यहां के शिक्षा मंत्री ने 11वीं पास करने के लिए खरीदीं बुक, कार में करते पढ़ाई..चलता-फिरता स्टडी रूम

First Published Sep 16, 2020, 9:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बोकारो (झारखंड). कुछ दिन पहले 11वीं में क्लास में एडमिशन लेने वाले झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो इन दिनों सुर्ख़ियों में हैं। उन्होंने अपनी कार को ही स्टडी रूम बना लिया है। जिसमें वह  यात्रा करते समय ही पढ़ाई कर लेते हैं। क्योंकि मंत्री जी को अपनी सरकार और व्यस्त कार्यक्रमों की वजह से पढ़ने का मौका जो नहीं मिलता है। इसलिए उन्होंने रास्ता निकाल लिया और  कार से यात्रा करते समय ही पढ़ाई कर लेते हैं।
 


स्ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ने वालों को मानते हैं आर्दश
बता दें कि शिक्षा मंत्री ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें वह अपनी कार में किताब पढ़ते दिखाई दे रहे हैं। मंत्री ने अपनी पढ़ाई को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं का जवाब भी दिया। उन्होंने टि्वटर पर लिखा, 'कुछ लोग पूछते हैं कि मैं इंटर की पढ़ाई कब करूंगा? कैसे करूंगा? तो यह उनके ही लिए है। मैंने पुस्तकें खरीद ली हैं, जब-जहां अवसर मिलता है, पढ़ाई करता हूं, महान लोगों ने सड़क किनारे, स्ट्रीट लाइट के नीचे, कभी रेलवे प्लेटफॉर्म पर बैठ कर पढ़ाई की है, वे सभी प्रेरणास्रोत हैं मेरे।


स्ट्रीट लाइट के नीचे पढ़ने वालों को मानते हैं आर्दश
बता दें कि शिक्षा मंत्री ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें वह अपनी कार में किताब पढ़ते दिखाई दे रहे हैं। मंत्री ने अपनी पढ़ाई को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं का जवाब भी दिया। उन्होंने टि्वटर पर लिखा, 'कुछ लोग पूछते हैं कि मैं इंटर की पढ़ाई कब करूंगा? कैसे करूंगा? तो यह उनके ही लिए है। मैंने पुस्तकें खरीद ली हैं, जब-जहां अवसर मिलता है, पढ़ाई करता हूं, महान लोगों ने सड़क किनारे, स्ट्रीट लाइट के नीचे, कभी रेलवे प्लेटफॉर्म पर बैठ कर पढ़ाई की है, वे सभी प्रेरणास्रोत हैं मेरे।

अपनी ही विधानसभा के इंटर कॉलेज में लिया है प्रवेश
दरअसल. 55 साल की उम्र में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने मैट्रिक की परीक्षा पास करने के 25 साल बाद फिर से पढ़ाई शुरू करने का फैसला लिया है। जिसके तहत उन्होंने पिछले महीने ही अपनी ही डुमरी विधानसभा क्षेत्र के नवाडीह इंटर कॉलेज में प्रवेश ले लिया है। प्राचार्य दिनेश प्रसाद वर्णवाल ने खुद शिक्षा मंत्री का आर्ट्स संकाय में रजिस्ट्रेशन किया
 

अपनी ही विधानसभा के इंटर कॉलेज में लिया है प्रवेश
दरअसल. 55 साल की उम्र में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने मैट्रिक की परीक्षा पास करने के 25 साल बाद फिर से पढ़ाई शुरू करने का फैसला लिया है। जिसके तहत उन्होंने पिछले महीने ही अपनी ही डुमरी विधानसभा क्षेत्र के नवाडीह इंटर कॉलेज में प्रवेश ले लिया है। प्राचार्य दिनेश प्रसाद वर्णवाल ने खुद शिक्षा मंत्री का आर्ट्स संकाय में रजिस्ट्रेशन किया
 


इस वजह से लिया फिर से पढ़ाई करने का फैसला
दरअसल, शिक्षा मंत्री ने जगरनाथ महतो ने 1995 में मैट्रिक करने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। अब जब वह इसी साल जनवरी के माह में प्रदेश के मानव संसाधन एवं विकास मंत्री बने तो विपक्ष के लोग उनकी एजुकेशन को लेकर अक्सर मुद्दा उठाते थे। कहते थे देखो अब दसवीं पास व्यक्ति प्रदेश का शिक्षा मंत्रालय संभाल रहा है। इसके बाद ही उन्होंने तय कर लिया था कि अब वह आगे की पढ़ाई करेंगे। 


इस वजह से लिया फिर से पढ़ाई करने का फैसला
दरअसल, शिक्षा मंत्री ने जगरनाथ महतो ने 1995 में मैट्रिक करने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। अब जब वह इसी साल जनवरी के माह में प्रदेश के मानव संसाधन एवं विकास मंत्री बने तो विपक्ष के लोग उनकी एजुकेशन को लेकर अक्सर मुद्दा उठाते थे। कहते थे देखो अब दसवीं पास व्यक्ति प्रदेश का शिक्षा मंत्रालय संभाल रहा है। इसके बाद ही उन्होंने तय कर लिया था कि अब वह आगे की पढ़ाई करेंगे। 

शिक्षा मंत्री खुद नामांकन फॉर्म भर लिया था एडमिशन
बता दें कि जिस वक्त मंत्री जी ने एडमिशन लिया था उसके लिए उन्होंने खुद नामांकन फॉर्म भरा और 1100 रुपए फीस भी जमा की। इसके बाद शिक्षा मंत्री ने कहा अब में जमकर पढ़ाई करूंगा। क्योंकि पढ़ाई करने में कोई उम्र की सीमा नहीं होती है।

शिक्षा मंत्री खुद नामांकन फॉर्म भर लिया था एडमिशन
बता दें कि जिस वक्त मंत्री जी ने एडमिशन लिया था उसके लिए उन्होंने खुद नामांकन फॉर्म भरा और 1100 रुपए फीस भी जमा की। इसके बाद शिक्षा मंत्री ने कहा अब में जमकर पढ़ाई करूंगा। क्योंकि पढ़ाई करने में कोई उम्र की सीमा नहीं होती है।


तस्वीर में देखिए झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का एडमिशन फार्म
 


तस्वीर में देखिए झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का एडमिशन फार्म
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios