Asianet News Hindi

51 लोगों को मौत के मुंह में धकेल ड्राइवर तैरकर आ गया बाहर, देखें सीधी बस हादसे की 10 मार्मिक तस्वीरें

First Published Feb 16, 2021, 2:34 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मध्य प्रदेश। मध्य प्रदेश के सीधी में मंगलवार सुबह बस दुर्घटना हुई। इस हादसे में 51 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि बस का ड्राइबर घटना के बाद खुद तैरकर बाहर आ गया। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मृतकों के परिजनों को लेकर 2-2 लाख रुपए मुआवजे की घोषणा पीएम रिलीफ फंड से की है, जबकि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मृतक के परिजनों को 5-5 लाख रुपए देने की घोषणा की है। गंभीर रूप से जख्मी लोगों को 50 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। 10 तस्वीरों के माध्यम से देखिए घटना की सबसे दर्दनाक तस्वीरें...

हादसा मंगलवार सुबह 7:30 बजे हुआ। 54 यात्रियों के साथ सतना जा रही बस 22 फीट गहरी बाणसागर नहर में गिरी। मरने वालों में 21 पुरुष, 18 महिलाएं और एक बच्चा शामिल हैं।

हादसा मंगलवार सुबह 7:30 बजे हुआ। 54 यात्रियों के साथ सतना जा रही बस 22 फीट गहरी बाणसागर नहर में गिरी। मरने वालों में 21 पुरुष, 18 महिलाएं और एक बच्चा शामिल हैं।

पुलिस हिरासत में आए ड्राइवर ने बताया कि बस को सीधी मार्ग पर छुहिया घाटी से होकर सतना जाना था, लेकिन यहां जाम की वजह से रूट बदल दिया। वह नहर के किनारे से बस ले जा रहा था। यह रास्ता काफी संकरा था। इसी दौरान नियंत्रण खो दिया।

पुलिस हिरासत में आए ड्राइवर ने बताया कि बस को सीधी मार्ग पर छुहिया घाटी से होकर सतना जाना था, लेकिन यहां जाम की वजह से रूट बदल दिया। वह नहर के किनारे से बस ले जा रहा था। यह रास्ता काफी संकरा था। इसी दौरान नियंत्रण खो दिया।

हादसा सीधी से 80 किमी और सतना से करीब 100 किमी रामपुर नैकिन के पास सरदा गांव में हुआ। बस सुबह 6 बजे सीधी से रवाना हुई थी। बस में 32 की जगह 54 लोग बैठाए गए थे। सीधी-सिंगरौली जिले के यात्रियों की संख्या बस में ज्यादा थी। 

हादसा सीधी से 80 किमी और सतना से करीब 100 किमी रामपुर नैकिन के पास सरदा गांव में हुआ। बस सुबह 6 बजे सीधी से रवाना हुई थी। बस में 32 की जगह 54 लोग बैठाए गए थे। सीधी-सिंगरौली जिले के यात्रियों की संख्या बस में ज्यादा थी। 

बस में 12 लड़के-लड़कियां रेलवे, NTPC और नर्सिंग की परीक्षा देने सतना जा रहे थे। कुछ बच्चे माता-पिता के साथ रीवा जाने के लिए बस में बैठे थे।

बस में 12 लड़के-लड़कियां रेलवे, NTPC और नर्सिंग की परीक्षा देने सतना जा रहे थे। कुछ बच्चे माता-पिता के साथ रीवा जाने के लिए बस में बैठे थे।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को तलब किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लापरवाह अधिकारियों पर गाज गिर सकती है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत को तलब किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लापरवाह अधिकारियों पर गाज गिर सकती है।

सीधी हादसे के बाद सीएम शिवराज ने अपने कल के भी सारे कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। वो कल बुधवार 17 फरवरी को दमोह जाने वाले थे, लेकिन अब दमोह दौरा स्थगित कर दिया गया है।

सीधी हादसे के बाद सीएम शिवराज ने अपने कल के भी सारे कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। वो कल बुधवार 17 फरवरी को दमोह जाने वाले थे, लेकिन अब दमोह दौरा स्थगित कर दिया गया है।

मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत ने कहा है कि बस का परमिट रद्द कर ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जांच में जो भी दोषी होगा छोड़ा नहीं जाएगा। डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को घटनास्थल पर भेजा गया है।

मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत ने कहा है कि बस का परमिट रद्द कर ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को इस हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जांच में जो भी दोषी होगा छोड़ा नहीं जाएगा। डिप्टी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को घटनास्थल पर भेजा गया है।

आशंका जताई जा रही है कि तेज बहाव के कारण लोग घटनास्थल से काफी दूर बह गए होंगे। फिलहाल बाणसागर डैम से नहर का पानी रोक दिया गया है।

आशंका जताई जा रही है कि तेज बहाव के कारण लोग घटनास्थल से काफी दूर बह गए होंगे। फिलहाल बाणसागर डैम से नहर का पानी रोक दिया गया है।

सीधी हादसे के बाद सीएम शिवराज ने अपने कल के भी सारे कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। वो कल बुधवार 17 फरवरी को दमोह जाने वाले थे, लेकिन अब दमोह दौरा स्थगित कर दिया गया है।
 

सीधी हादसे के बाद सीएम शिवराज ने अपने कल के भी सारे कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। वो कल बुधवार 17 फरवरी को दमोह जाने वाले थे, लेकिन अब दमोह दौरा स्थगित कर दिया गया है।
 

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम बड़े उत्साह से 1 लाख 10 हजार घरों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम सम्पन्न करने वाले थे। लेकिन, सुबह 8 बजे ही मुझे ये सूचना मिली कि सीधी ज़िले के बाणसागर नहर में यात्रियों से भरी एक बस नहर में गिर गई है। इसलिए आज कार्यक्रम करना उचित नहीं होगा।
 

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि हम बड़े उत्साह से 1 लाख 10 हजार घरों में गृह प्रवेश का कार्यक्रम सम्पन्न करने वाले थे। लेकिन, सुबह 8 बजे ही मुझे ये सूचना मिली कि सीधी ज़िले के बाणसागर नहर में यात्रियों से भरी एक बस नहर में गिर गई है। इसलिए आज कार्यक्रम करना उचित नहीं होगा।
 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे में मरने वाले यात्रियों के आश्रितों को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा किए हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हादसे में मरने वाले यात्रियों के आश्रितों को 5-5 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा किए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios