Asianet News Hindi

ऐसे अफसरों को सलाम..लेडी डिप्टी कलेक्टर ने पेश की कर्तव्य ऐसी मिसाल..लोग बोले-मैडम ने दिल जीत लिया

First Published Apr 7, 2020, 7:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


नरसिंहपुर, (मध्य प्रदेश). भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का कहर जारी है। संकट के इस समय अगर सबसे ज्यादा कोई अहम जिम्मेदारी निभा रहा है तो वह हैं हमारे देश की पुलिस और कई बड़े अफसर। वह  घर परिवार से दूर होकर रात-दिन मुस्तैद होकर ड्यूटी कर रहे हैं। ऐसी ही एक मिसाल पेश की है मध्य प्रदेश की एक लेडी एसडीएम अफसर ने। जिन्होंने अपने कर्तव्यों को पृरी निष्ठा से निभाने के लिए अपनी शादी की तारीख भी स्थगित कर दी है।
 

दरअसल, हम जिस कर्तव्यनिष्ठ अफसर की बात कर रहे है, वह नरसिंहपुर जिले की करेली तहसील में एसडीएम पद पर पदस्थ संघमित्रा बौद्ध। जिन्होंने अपने देश और क्षेत्र की जनता को कोरोना के प्रकोप से बचाने के लिए यह मिसाल पेश की है। बता दें कि संघमित्रा बौद्ध की शादी 12 अप्रैल को होनी थी। बता दें कि उनके मंगेतर अभिषेक चौरसिया भी SDM अफसर हैं।

दरअसल, हम जिस कर्तव्यनिष्ठ अफसर की बात कर रहे है, वह नरसिंहपुर जिले की करेली तहसील में एसडीएम पद पर पदस्थ संघमित्रा बौद्ध। जिन्होंने अपने देश और क्षेत्र की जनता को कोरोना के प्रकोप से बचाने के लिए यह मिसाल पेश की है। बता दें कि संघमित्रा बौद्ध की शादी 12 अप्रैल को होनी थी। बता दें कि उनके मंगेतर अभिषेक चौरसिया भी SDM अफसर हैं।

अफसर संघमित्रा बौद्ध और अभिषेक चौरसिया ने अपनी सगाई 8 फरवरी को कर ली थी। SDM अभिषेक चौरसिया भिंड में पदस्थ हैं। यह शादी दतिया से होनी थी।शादी की तैयारियों के तहत मैरिज गार्डन व कैटरिंग आदि की बुकिंग के साथ शादी की पूरी खरीददारी भी हो चुकी है।

अफसर संघमित्रा बौद्ध और अभिषेक चौरसिया ने अपनी सगाई 8 फरवरी को कर ली थी। SDM अभिषेक चौरसिया भिंड में पदस्थ हैं। यह शादी दतिया से होनी थी।शादी की तैयारियों के तहत मैरिज गार्डन व कैटरिंग आदि की बुकिंग के साथ शादी की पूरी खरीददारी भी हो चुकी है।

बता दें कि दोनों के  मार्च के शुरुआती दिनों में छुट्टी के लिये आवेदन भी कर दिया था और वह छुट्टी पर चले गए थे। लेकिन, कोरोना संकट को देखते हुए दोनों ने शादी स्थगित करने का निर्णय लिया एवं छुट्टी पर न जाकर अपने क्षेत्र की जनता को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए दिन रात काम करने का फैसला किया।

बता दें कि दोनों के मार्च के शुरुआती दिनों में छुट्टी के लिये आवेदन भी कर दिया था और वह छुट्टी पर चले गए थे। लेकिन, कोरोना संकट को देखते हुए दोनों ने शादी स्थगित करने का निर्णय लिया एवं छुट्टी पर न जाकर अपने क्षेत्र की जनता को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए दिन रात काम करने का फैसला किया।

मीडिया से बात करते हुए अफसर संघमित्रा ने कहा- एनवक्त पर शादी टालना मुश्किल होता है। लेकिन, इस समय हमारे लिए देश से महामारी को भगाना और जनता को इस संकट से बचाना ज्यादा जरुरी था। हमारे इस फैसले में दोनों परिवारवालों से खुशी-खुशी साथ दिया।

मीडिया से बात करते हुए अफसर संघमित्रा ने कहा- एनवक्त पर शादी टालना मुश्किल होता है। लेकिन, इस समय हमारे लिए देश से महामारी को भगाना और जनता को इस संकट से बचाना ज्यादा जरुरी था। हमारे इस फैसले में दोनों परिवारवालों से खुशी-खुशी साथ दिया।

इतना ही नहीं, एसडीएम संघमित्रा बौद्ध ने कोरोना बचाव एवं राहत कार्य के लिए नरसिंहपुर जिले के लिए 10 हजार रुपए एवं मप्र प्रशासनिक सेवा संघ में 10 हजार रुपए। कुल मिलकर  20 हजार का डोनेशन भी दिया है।

इतना ही नहीं, एसडीएम संघमित्रा बौद्ध ने कोरोना बचाव एवं राहत कार्य के लिए नरसिंहपुर जिले के लिए 10 हजार रुपए एवं मप्र प्रशासनिक सेवा संघ में 10 हजार रुपए। कुल मिलकर 20 हजार का डोनेशन भी दिया है।

अपनी सगाई के दौरान दोनों एसडीएम अफसर संघमित्रा बौद्ध और अभिषेक चौरसिया ।

अपनी सगाई के दौरान दोनों एसडीएम अफसर संघमित्रा बौद्ध और अभिषेक चौरसिया ।

एसडीएम अफसर संघमित्रा बौद्ध।

एसडीएम अफसर संघमित्रा बौद्ध।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios