Asianet News Hindi

चार्ज संभालते ही लेडी डिप्टी कलेक्टर ने रोकी सीनियर की गाड़ी, पहले वसूला जुर्माना फिर कहा अब जाइए सर

First Published May 14, 2020, 2:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शिवपुर (मध्य प्रदेश). कोरोना के कहर में अगर  किसी ने लॉकडाउन के नियमों को तोड़ा तो किसी की खैर नहीं। चाहे फिर वह कोई नेता हो या कोई वीवीआईपी, सबके लिए कानून बराबर है। कुछ ऐसा ही कर दिखाया है मध्य प्रदेश की एक ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर ने, जिन्होंने अपने से सीनियर अफसर का चालान काट दिया।


दरअसल, कायदे सब के लिए बराबर होने का यह अच्छा संदेश बालाघाट जिले की  ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने दिया है। जिन्होंने लांजी के एसडीएम रविन्द्र परमार और उनके ड्राइवर का चालान इसलिए काटा कि वह अपने चेहरे पर मास्क नहीं लगाए हुए थे। जुर्माने के तौर पर दोनों से 100-100 रुपए वसूले गए।


दरअसल, कायदे सब के लिए बराबर होने का यह अच्छा संदेश बालाघाट जिले की  ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने दिया है। जिन्होंने लांजी के एसडीएम रविन्द्र परमार और उनके ड्राइवर का चालान इसलिए काटा कि वह अपने चेहरे पर मास्क नहीं लगाए हुए थे। जुर्माने के तौर पर दोनों से 100-100 रुपए वसूले गए।


बता दें कि कल ही डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई बालाघाट के किरनापूर का एसडीएम का इंचार्ज संभाला है। उन्होंने यह SDM पर यह कार्रवाई बालाघाट से लौटते वक्त की। जब बो मंडलोई बिना वजह सड़कों पर निकल रहे वाहनों की जांच कर रहीं थी तो उस दौरान वहां से निकलने वाले लांजी एसडीएम पर यह कार्रवाई की।


बता दें कि कल ही डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई बालाघाट के किरनापूर का एसडीएम का इंचार्ज संभाला है। उन्होंने यह SDM पर यह कार्रवाई बालाघाट से लौटते वक्त की। जब बो मंडलोई बिना वजह सड़कों पर निकल रहे वाहनों की जांच कर रहीं थी तो उस दौरान वहां से निकलने वाले लांजी एसडीएम पर यह कार्रवाई की।

इतना ही नहीं डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने बिना मास्क लगाए बाजार आए दूल्हे का चालान काट 100 रुपए का जुर्माना वसूला।

इतना ही नहीं डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने बिना मास्क लगाए बाजार आए दूल्हे का चालान काट 100 रुपए का जुर्माना वसूला।

 सीनियर अफसर का चालान काटने के साथ ही डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने बाजार में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर अन्य युवकों से उठक-बैठक भी लगवाईं।

 सीनियर अफसर का चालान काटने के साथ ही डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई ने बाजार में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर अन्य युवकों से उठक-बैठक भी लगवाईं।


खास बात यह है कि बालाघाट कलेक्टर दीपक आर्य ने एक दिन पहले ही ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई को किरनापुर का कार्यप्रभार सौंपा है। चार्ज लेते ही महिला अधिकारी सड़क पर उतरी और यह चालान काट दिए।
 


खास बात यह है कि बालाघाट कलेक्टर दीपक आर्य ने एक दिन पहले ही ट्रेनी डिप्टी कलेक्टर निकिता मंडलोई को किरनापुर का कार्यप्रभार सौंपा है। चार्ज लेते ही महिला अधिकारी सड़क पर उतरी और यह चालान काट दिए।
 


बता दें कि निकिता मंडलोई मध्य प्रदेश के 2019 बैच की आईएएस महिला अधिकारी हैं। उन्होंने MPPSC में टॉप किया था।
 


बता दें कि निकिता मंडलोई मध्य प्रदेश के 2019 बैच की आईएएस महिला अधिकारी हैं। उन्होंने MPPSC में टॉप किया था।
 


निकिता के पिता मंगलसिंह मंडलोई शिक्षक थे। उनके निधन के बाद मां राधा व भाईयों ने उसे पढ़ाया। निकिता ने भी दृढ़ संकल्प व मेहनत से परिवार की सोच को सार्थक कर दिखाया।
 


निकिता के पिता मंगलसिंह मंडलोई शिक्षक थे। उनके निधन के बाद मां राधा व भाईयों ने उसे पढ़ाया। निकिता ने भी दृढ़ संकल्प व मेहनत से परिवार की सोच को सार्थक कर दिखाया।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios