Asianet News Hindi

सत्ता के लिए मर्यादा भूले ये नेता, BJP हो या कांग्रेस सभी एक जैसे..पढ़िए MP उपचुनाव के विवादित बयान

First Published Oct 21, 2020, 3:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जैसे-जैसे चुनाव की तारीख पास आ रही है, वैसे-वैसे नेताओं की भाषा भी गिरती जा रही है। इतना ही नहीं महलाओं पर अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद माफी तक नहीं मांगते। चाहे फिर पूर्व सीएम कमलनाथ का महिला मंत्री को आइटम कहना हो या फिर शिवराज सरकार के मंत्री बिसाहूलाल सिंह का एक विधायक की पत्नी को रखैल कहना...इन विवादित बयानों से मध्य प्रदेश की राजनीति में एक तरह से सियासी भूचाल आ गया है। पढ़िए MP उपचुनाव में किसने क्या कहा...

विवादित बयान पर चुनाव आयोग मौन है। ना तो ऐसे नेताओं को नोटिस भेजा गया, ना ही कोई जवाब मांगा गया। हालांकि, सोशल मीडिया पर इन नेताओं का खूब मजाक बन रहा है। यूजर का कहना है कि क्या हम देश को ऐसे नेता देंगे, जिनको नवरात्रि में महिलाओं के अपमान का जरा सा भी ख्याल नहीं है।
 

विवादित बयान पर चुनाव आयोग मौन है। ना तो ऐसे नेताओं को नोटिस भेजा गया, ना ही कोई जवाब मांगा गया। हालांकि, सोशल मीडिया पर इन नेताओं का खूब मजाक बन रहा है। यूजर का कहना है कि क्या हम देश को ऐसे नेता देंगे, जिनको नवरात्रि में महिलाओं के अपमान का जरा सा भी ख्याल नहीं है।
 

पूर्व सीएम ने पार की सभी हद...इन दिनों अगर भोपाल से दिल्ली तक किसी का बयान चर्चा में बना हुआ है तो वह है मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ। कुछ दिन पहले एक चुनावी सभा में इन्होंने शिवराज सरकार की महिला मंत्री को आइटम कहा था। 18 अक्टूबर को कमलनाथ कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र के लिए प्रचार करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने मंच से इमरती देवी की तरफ इशारा करते हुए कहा- 'सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे-साधे हैं। यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं, आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं। आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, 'यह क्या आइटम है'।

पूर्व सीएम ने पार की सभी हद...इन दिनों अगर भोपाल से दिल्ली तक किसी का बयान चर्चा में बना हुआ है तो वह है मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ। कुछ दिन पहले एक चुनावी सभा में इन्होंने शिवराज सरकार की महिला मंत्री को आइटम कहा था। 18 अक्टूबर को कमलनाथ कांग्रेस प्रत्याशी सुरेंद्र के लिए प्रचार करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने मंच से इमरती देवी की तरफ इशारा करते हुए कहा- 'सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे-साधे हैं। यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं, आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं। आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, 'यह क्या आइटम है'।

शिवराज के मंत्री भी कुछ कम नहीं... कमलनाथ द्वारा दिए गए बयान पर अभी सिलसिला थमा नहीं था कि शिवराज सरकार के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस उम्मीदवार की पत्नी के लिए अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल कर डाला। उन्होंने-कांग्रेस प्रत्याशी विश्वनाथ सिंह की दूसरी पत्नी को रखैल कहकर संबोधित किया।

शिवराज के मंत्री भी कुछ कम नहीं... कमलनाथ द्वारा दिए गए बयान पर अभी सिलसिला थमा नहीं था कि शिवराज सरकार के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कांग्रेस उम्मीदवार की पत्नी के लिए अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल कर डाला। उन्होंने-कांग्रेस प्रत्याशी विश्वनाथ सिंह की दूसरी पत्नी को रखैल कहकर संबोधित किया।

एक और मंत्री की फिसली जुबान -  मध्य प्रदेश के सीनियर नेता और  भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की भी जुबान भी फिसल गई। उन्होंने कमलनाथ और दिग्विजय को चुन्नू-मुन्नू बता डाला। कांग्रेसी नेता सज्जन वर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय की तुलना रावण से कर दी।
 

एक और मंत्री की फिसली जुबान -  मध्य प्रदेश के सीनियर नेता और  भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की भी जुबान भी फिसल गई। उन्होंने कमलनाथ और दिग्विजय को चुन्नू-मुन्नू बता डाला। कांग्रेसी नेता सज्जन वर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय की तुलना रावण से कर दी।
 

महिला मंत्री भी इस रेस में... एक दिन पहले मध्य प्रदेश के उपचुनाव में हिदुत्व की एंट्री हुई। जहां शिवराज सरकार की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर ने भी विवादित बयान देते हुए कहा -सारे कट्टर आतंकवादी मदरसों में पले-बढ़े। जम्मू-कश्मीर को इन्होंने आतंकवाद की फैक्ट्री बना डाला। ऐसे मदरसों को बंद कर देनाा चाहिए।

महिला मंत्री भी इस रेस में... एक दिन पहले मध्य प्रदेश के उपचुनाव में हिदुत्व की एंट्री हुई। जहां शिवराज सरकार की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर ने भी विवादित बयान देते हुए कहा -सारे कट्टर आतंकवादी मदरसों में पले-बढ़े। जम्मू-कश्मीर को इन्होंने आतंकवाद की फैक्ट्री बना डाला। ऐसे मदरसों को बंद कर देनाा चाहिए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios