Asianet News Hindi

Sridevi को पत्नी मान चुके शख्स ने नहीं की शादी, तेरहवीं की और सिर मुंडवाया..बरसी पर ऐसे दी श्रद्धांजलि

First Published Feb 25, 2021, 1:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. बॉलीवुड की फीमेल सुपरस्टार श्रीदेवी की 24 फरवरी को तीसरी डेथ एनिवर्सरी थी। अभिनेत्री की असामयिक मौत से दुनिया भर में उनके लाखों फैन अभी भी नहीं उबर सके हैं। देश भर में ऐसे कई प्रशंसक हैं जिनको श्रीदेवी के जाने से गहरा झटका लगा है। लेकिन, मध्य प्रदेश के श्योपुर में रहने वाले ओमप्रकाश मेहरा सबसे हटकर जबरा फैन हैं। जो श्रीदेवी को ही अपनी पत्नी मानते हैं, जिन्होंने उनकी खातिर शादी तक नहीं की। ओमप्रकाश ने श्रीदेवी की बरसी पर अपने परिजनों और दोस्तों साथ मिलकर श्रद्धासुमन अर्पित किए। बता दें कि एक्ट्रेस का निधन 24 फरवरी, 2018 को दुबई की एक होटल के बाथटब में डूबने से हुआ था। 

दरअसल, ओमप्रकाश मेहरा ने श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने के लिए अपने ददुनि गांव मे श्रद्धांजलि सभा का आयोजन रखा था। जिसमें सैंकड़ों लोग शामिल हुए थे।  श्रद्धांजलि का यह आयोजन ऐसा लग रहा था कि जैसे ओमप्रकाश ने अपनी पत्नी के लिए शोक सभा रखी हो। हालांकि वह कभी  श्रीदेवी से मिल नहीं सके, लेकिन उनका कहना है कि अगले जन्म में वह श्रीदेवी जरूर मिलेंगे। 

दरअसल, ओमप्रकाश मेहरा ने श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने के लिए अपने ददुनि गांव मे श्रद्धांजलि सभा का आयोजन रखा था। जिसमें सैंकड़ों लोग शामिल हुए थे।  श्रद्धांजलि का यह आयोजन ऐसा लग रहा था कि जैसे ओमप्रकाश ने अपनी पत्नी के लिए शोक सभा रखी हो। हालांकि वह कभी  श्रीदेवी से मिल नहीं सके, लेकिन उनका कहना है कि अगले जन्म में वह श्रीदेवी जरूर मिलेंगे। 

ओमप्रकाश मेहरा ने श्रीदेवी की मौत के बाद ठीक वैसे ही सारी रस्में निभाईं थीं जैसे कोई पति अपनी पत्नी के निधन के बाद निभाता है। श्रीदेवी की आत्मा की शांति के लिए उन्होंने अपना मुंड़न करवाया और 13 तक सारे क्रियाक्रम किए। यहां तक की मेहरा ने तेरहंवी का भी आयोजन किया था। अब हर साल वह पुण्यतिथि भी मना रहा है।
 

ओमप्रकाश मेहरा ने श्रीदेवी की मौत के बाद ठीक वैसे ही सारी रस्में निभाईं थीं जैसे कोई पति अपनी पत्नी के निधन के बाद निभाता है। श्रीदेवी की आत्मा की शांति के लिए उन्होंने अपना मुंड़न करवाया और 13 तक सारे क्रियाक्रम किए। यहां तक की मेहरा ने तेरहंवी का भी आयोजन किया था। अब हर साल वह पुण्यतिथि भी मना रहा है।
 


इस फैन की सबसे खास बात यह कि उसने  57 साल का होने के बाद भी उसने श्रीदेवी की खातिर किसी दूसरी महिला से शादी तक नहीं की। वह कहतै हैं मैं श्रीदेवी को ही अपनी पत्नी दिल से मान चुका हूं। मेरी शादी उनसे ही हो चुकी है तो फिर दोबारा शादी क्यों करूं। इतना ही नहीं  2002 में ओमप्रकाश मेहरा ने वोटर लिस्ट में अपनी पत्नी का नाम श्रीदेवी दर्ज करा लिया था।


इस फैन की सबसे खास बात यह कि उसने  57 साल का होने के बाद भी उसने श्रीदेवी की खातिर किसी दूसरी महिला से शादी तक नहीं की। वह कहतै हैं मैं श्रीदेवी को ही अपनी पत्नी दिल से मान चुका हूं। मेरी शादी उनसे ही हो चुकी है तो फिर दोबारा शादी क्यों करूं। इतना ही नहीं  2002 में ओमप्रकाश मेहरा ने वोटर लिस्ट में अपनी पत्नी का नाम श्रीदेवी दर्ज करा लिया था।


बताया जाता  है कि 24 फरवरी 2018 को जब  श्रीदेवी के निधन हुआ था तो ओमप्रकाश का रो-रोकर बुरा हाल था। इतना ही नहीं निधन के बाद 5 दिनों तक अन्न ग्रहण नहीं किया था। जब तक श्रीदेवी का अंतिम संस्कार नहीं हो गया था। जो भी उनको इस हालत में देखता उसकी आंखों में भी आंसू आ जाते थे। कोई इतना प्यार अपनी पत्नी से नहीं करता होगा जितना ओमप्रकाश श्रीदेवी से करते हैं।


बताया जाता  है कि 24 फरवरी 2018 को जब  श्रीदेवी के निधन हुआ था तो ओमप्रकाश का रो-रोकर बुरा हाल था। इतना ही नहीं निधन के बाद 5 दिनों तक अन्न ग्रहण नहीं किया था। जब तक श्रीदेवी का अंतिम संस्कार नहीं हो गया था। जो भी उनको इस हालत में देखता उसकी आंखों में भी आंसू आ जाते थे। कोई इतना प्यार अपनी पत्नी से नहीं करता होगा जितना ओमप्रकाश श्रीदेवी से करते हैं।


ओमप्रकाश मेहरा का कहना है कि उन्होंने स्कूल के दिनों में श्रीदेवी की फिल्म देखना शूरु कर दिया था। उस दौरान वो  1989 में हायर सेकेंडरी में पड़ते थे। तब से वे उनके फैन हो गए थे। उस दिन से लेकर वह उनके जिंदा रहने तक करीब  3 हजार से ज्यादा पत्र श्रीदेवी को भेज चुके थे। लेकन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। मेहरा ने बताया कि एक बार  श्रीदेवी ने उन्हें मिलने के लिए मुंबई बुलाया था। लेकिन किसी कारणवश नहीं जा सके। बस जिंदगीभर उसी दिन को कोसता हूं कि मैं क्यों मुंबई मिलने नहीं जा सका।
 


ओमप्रकाश मेहरा का कहना है कि उन्होंने स्कूल के दिनों में श्रीदेवी की फिल्म देखना शूरु कर दिया था। उस दौरान वो  1989 में हायर सेकेंडरी में पड़ते थे। तब से वे उनके फैन हो गए थे। उस दिन से लेकर वह उनके जिंदा रहने तक करीब  3 हजार से ज्यादा पत्र श्रीदेवी को भेज चुके थे। लेकन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। मेहरा ने बताया कि एक बार  श्रीदेवी ने उन्हें मिलने के लिए मुंबई बुलाया था। लेकिन किसी कारणवश नहीं जा सके। बस जिंदगीभर उसी दिन को कोसता हूं कि मैं क्यों मुंबई मिलने नहीं जा सका।
 


बता दें कि ओमप्रकाश मेहरा को शादी नहीं करने पर कई बार अपने घरवालों और रिश्तेदारों की नाराजगी झेलनी पड़ी है। यहां तक एक बार तो परिजनों ने कह दिया था कि घर से निकल जाओ या शादी कर लो। लेकिन वह कहते थे कि मैं सिर्फ श्रीदेवी से प्यार करता हूं और वह मेरी पत्नी हैं। अब आलम यह कि गांव तो क्या आसपास के कई गांव को लोग ओमप्रकाश की श्रीदेवी के प्रति दीवानगी के कायल हैं। 
 


बता दें कि ओमप्रकाश मेहरा को शादी नहीं करने पर कई बार अपने घरवालों और रिश्तेदारों की नाराजगी झेलनी पड़ी है। यहां तक एक बार तो परिजनों ने कह दिया था कि घर से निकल जाओ या शादी कर लो। लेकिन वह कहते थे कि मैं सिर्फ श्रीदेवी से प्यार करता हूं और वह मेरी पत्नी हैं। अब आलम यह कि गांव तो क्या आसपास के कई गांव को लोग ओमप्रकाश की श्रीदेवी के प्रति दीवानगी के कायल हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios