Asianet News Hindi

भाषण सुनने से पहले ही कुर्सी पर बैठे-बैठे 70 साल के किसान की मौत, 2 मिनट मौन रहे सिंधिया, फिर खूब बोले

First Published Oct 19, 2020, 10:26 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल, मध्य प्रदेश. मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव की सरगर्मियां तेज हो गई हैं। सरकार और विपक्ष के वादों के बीच कुछ चौंकाने वाली खबरें भी आ रही हैं। खंडवा जिले की मांधाता विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी की चुनावी सभा संबोधित करने पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाषण से पहले कुर्सी पर बैठे-बैठे 70 साल के एक किसान की मौत हो गई। सिंधिया ने मंच से 2 मिनट का मौन रखा और फिर भाषण दिया। यह मामला रविवार दोपहर करीब 1.10 बजे का है। मांधाता से नारायण पटेल चुनाव लड़ रहे हैं। सिंधिया उनकी चुनावी सभा के लिए मूंदी आए थे। उनके भाषण से करीब 40 मिनट पहले उंटावद निवासी जीवन सिंह की मौत हो गई। आगे पढ़ें सिंधिया ने क्या कहा...
 

किसान की मौत से सभा में सनसनी फैल गई। पुलिस ने तुरंत उनके परिजनों को सूचित किया। इसके बाद वे बुजुर्ग की लाश लेकर चले गए।  आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

किसान की मौत से सभा में सनसनी फैल गई। पुलिस ने तुरंत उनके परिजनों को सूचित किया। इसके बाद वे बुजुर्ग की लाश लेकर चले गए।  आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

किसान की लाश सभास्थल से हटने के बाद सिंधिया ने अपने भाषण में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की जोड़ी पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि एक छोटा भाई है और दूसरा बड़ा भाई। सरकार का रिमोट कंट्रोल दिग्विजय सिंह के हाथ में था।

किसान की लाश सभास्थल से हटने के बाद सिंधिया ने अपने भाषण में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की जोड़ी पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि एक छोटा भाई है और दूसरा बड़ा भाई। सरकार का रिमोट कंट्रोल दिग्विजय सिंह के हाथ में था।

यह हैं भांडेर विधायक रक्षा सिरौनिया के पति संतराम। वोटरों के उखड़े मूड को कूल करने वो मंच पर साष्टांग हो गए।​ शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भांडेर के सालोन बी में चुनाव प्रचार करने पहुंचे। इस बीच पब्लिक को रिझाने विधायक रक्षा सिरौनिया के पति संतराम मंच पर ही साष्टांग हो गए। संतराम सिरौनिया ने मंच से कहा कि कमलनाथ सरकार ने कोई काम नहीं किए। इसलिए जनता को मुंह दिखाने लायक नहीं बचा था। अब भाजपा सरकार है, तो वो विकास कार्य कराने के लायक हैं।
 

यह हैं भांडेर विधायक रक्षा सिरौनिया के पति संतराम। वोटरों के उखड़े मूड को कूल करने वो मंच पर साष्टांग हो गए।​ शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भांडेर के सालोन बी में चुनाव प्रचार करने पहुंचे। इस बीच पब्लिक को रिझाने विधायक रक्षा सिरौनिया के पति संतराम मंच पर ही साष्टांग हो गए। संतराम सिरौनिया ने मंच से कहा कि कमलनाथ सरकार ने कोई काम नहीं किए। इसलिए जनता को मुंह दिखाने लायक नहीं बचा था। अब भाजपा सरकार है, तो वो विकास कार्य कराने के लायक हैं।
 

यह तस्वीर सागर जिले की सुरखी विधानसभा क्षेत्र के जैसीनगर की है। विधानसभा की 28 सीटों के लिए होने जा रहे उप चुनाव के मद्देनजर बुधवार को यहां भाजपा मंडल का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया था। इस दौरान जब भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा जब भाषण दे रहे थे, तब एक बुजुर्ग उनके पैरों में पड़ी रही। वो अपनी कोई समस्या लेकर सामने आई थी। इसके बाद झा अपना भाषण देते रहे। वे सिर्फ इतना बोले कि अभी सुनते हैं माताजी..अभी ठहरिये। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। हालांकि बाद में भाजपा जिलाध्यक्ष गौरव सिरोठिया ने बताया कि सभा खत्म होने के बाद प्रभात झा ने बुजुर्ग महिला से बात की थी। उसकी समस्या का निराकरण भी करा दिया गया। बता दें कि सुरखी सीट से भाजपा प्रत्याशी गोविंद सिंह राजपूत हैं। वे 7 महीने पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

यह तस्वीर सागर जिले की सुरखी विधानसभा क्षेत्र के जैसीनगर की है। विधानसभा की 28 सीटों के लिए होने जा रहे उप चुनाव के मद्देनजर बुधवार को यहां भाजपा मंडल का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया था। इस दौरान जब भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा जब भाषण दे रहे थे, तब एक बुजुर्ग उनके पैरों में पड़ी रही। वो अपनी कोई समस्या लेकर सामने आई थी। इसके बाद झा अपना भाषण देते रहे। वे सिर्फ इतना बोले कि अभी सुनते हैं माताजी..अभी ठहरिये। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। हालांकि बाद में भाजपा जिलाध्यक्ष गौरव सिरोठिया ने बताया कि सभा खत्म होने के बाद प्रभात झा ने बुजुर्ग महिला से बात की थी। उसकी समस्या का निराकरण भी करा दिया गया। बता दें कि सुरखी सीट से भाजपा प्रत्याशी गोविंद सिंह राजपूत हैं। वे 7 महीने पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

यह तस्वीर भी जैसीनगर में ही सामने आई थी। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पिछले सोमवार को चुनावी सभा संबोधित करने गए थे। यहां भाषण देते हुए उन्हें अपनी जवानी याद आ गई। कमलनाथ ने माइक छोड़कर मंच से नीचे छलांग लगा दी। यह देखकर मंच पर मौजूद दूसरे नेता और उनके सुरक्षाकर्मियों में अफरा-तफरी मच गई। कमलनाथ के कूदते ही उनके सुरक्षाकर्मी भी कूद पड़े और उन्हें संभाला। इसके बाद कमलनाथ बोले कि वे 35 साल पहले जैसीनगर आए थे। तब भी वे जवान थे और अब भी हैं। इससे पहले कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को मंच पर जनता के सामने घुटने टेकने पर तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि शिवराज एक्टिंग में बड़े माहिर हैं। अगर वे मुंबई चले जाएं, तो सलमान, शाहरुख भी शरमा जाएं।

यह तस्वीर भी जैसीनगर में ही सामने आई थी। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पिछले सोमवार को चुनावी सभा संबोधित करने गए थे। यहां भाषण देते हुए उन्हें अपनी जवानी याद आ गई। कमलनाथ ने माइक छोड़कर मंच से नीचे छलांग लगा दी। यह देखकर मंच पर मौजूद दूसरे नेता और उनके सुरक्षाकर्मियों में अफरा-तफरी मच गई। कमलनाथ के कूदते ही उनके सुरक्षाकर्मी भी कूद पड़े और उन्हें संभाला। इसके बाद कमलनाथ बोले कि वे 35 साल पहले जैसीनगर आए थे। तब भी वे जवान थे और अब भी हैं। इससे पहले कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को मंच पर जनता के सामने घुटने टेकने पर तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि शिवराज एक्टिंग में बड़े माहिर हैं। अगर वे मुंबई चले जाएं, तो सलमान, शाहरुख भी शरमा जाएं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios