Asianet News Hindi

फिल्ममेकर्स को रास आई भोपाल की आबो-हवा, हो रहीं नॉन स्टॉप शूटिंग

First Published Dec 21, 2020, 10:30 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. हाल में भोपाल में शूट हुई दुर्गामती के सेट को लेकर काफी चर्चा हुई। भोपाल में अब रोज ही किसी न किसी फिल्म, वेब सीरिज या सीरियल की शूटिंग हो रही हैं। हाल में यहां टेलिविजन के चर्चित शो क्राइम पेट्रोल, सावधान इंडिया, सीआईएफ और क्राइम अलर्ट के जरिये लोगों में अपनी गहरी छाप छोड़ने वाले अभिनेता योगेश परिहार शूट कर रहे थे। उन्होंने ABZY COOL चैनल के लिए एपिसोडिक क्राइम शो 'क्राइम स्टॉप' के लिए कई एपिसोड शूट किए। मूलत: जयपुर के रहने वाले योगेश टीवी और थियेटर में बराबर दखल रखते हैं। भोपाल में बढ़ती फिल्म और टेलिविजन की गतिविधियों के लिए योगेश यहां की लाइन प्रोडक्शन टीम, मंझे हुए कलाकारों की उपलब्धता और प्रशासनिक सहयोग को बड़ी वजह मानते हैं। पढ़िए उनसे बातचीत...
 

योगेश परिहार ने भोपाल में क्राइम स्टॉप के 2 एपिसोड शूट किए। इसमें एक स्टोरी 'मालकिन का पलंबर' में वे डब्बू पलंबर के किरदार में हैं। दूसरी स्टोरी 'पहचान' में वे इंस्पेक्टर मनीष कामधर की भूमिका में नजर आएंगे। इन एपिसोड को अनिल शर्मा ने डायरेक्ट किया है। कैमरामैन हैं अशोक पांड्या। योगेश 2010 से 16 तक थियेटर कर चुके हैं। 2015 में भोपाल के भारत भवन में एक शो कर चुके हैं। पिछले 6-7 साल मुंबई में हैं। इनकी एक शॉर्ट फिल्म श्मशान को अवार्ड मिला था। (क्राइम स्टॉप के एक सीन में योगेश परिहार)

योगेश परिहार ने भोपाल में क्राइम स्टॉप के 2 एपिसोड शूट किए। इसमें एक स्टोरी 'मालकिन का पलंबर' में वे डब्बू पलंबर के किरदार में हैं। दूसरी स्टोरी 'पहचान' में वे इंस्पेक्टर मनीष कामधर की भूमिका में नजर आएंगे। इन एपिसोड को अनिल शर्मा ने डायरेक्ट किया है। कैमरामैन हैं अशोक पांड्या। योगेश 2010 से 16 तक थियेटर कर चुके हैं। 2015 में भोपाल के भारत भवन में एक शो कर चुके हैं। पिछले 6-7 साल मुंबई में हैं। इनकी एक शॉर्ट फिल्म श्मशान को अवार्ड मिला था। (क्राइम स्टॉप के एक सीन में योगेश परिहार)

बता दें कि अनिल शर्मा इससे पहले भी भोपाल में कई क्राइम शो शूट कर चुके हैं। इस बार वे क्राइम स्टॉप के 10-12 एपिसोड शूट करने भोपाल आए थे। योगेश बताते हैं कि पिछली बार जब अनिल शर्मा यहां शूट करने आए थे, तब काफी अच्छा अनुभव रहा। यही बात रही कि वो दुबारा यूनिट लेकर यहां आए।
(बायें से अनिल शर्मा, योगेश परिहार और टीम)

बता दें कि अनिल शर्मा इससे पहले भी भोपाल में कई क्राइम शो शूट कर चुके हैं। इस बार वे क्राइम स्टॉप के 10-12 एपिसोड शूट करने भोपाल आए थे। योगेश बताते हैं कि पिछली बार जब अनिल शर्मा यहां शूट करने आए थे, तब काफी अच्छा अनुभव रहा। यही बात रही कि वो दुबारा यूनिट लेकर यहां आए।
(बायें से अनिल शर्मा, योगेश परिहार और टीम)

योगेश मानते हैं कि मुंबई की अपेक्षा भोपाल में उसी बजट में ज्यादा बेहतर परिणाम मिलता है। यहां लाइन प्रोड्यूसर अपना बेहतर काम कर रहे हैं। उनकी यही कोशिश होती है कि भोपाल में और काम आए।
(शूटिंग के बाद बड़ा तालाब पर फोटो खिंचवाते योगेश)
 

योगेश मानते हैं कि मुंबई की अपेक्षा भोपाल में उसी बजट में ज्यादा बेहतर परिणाम मिलता है। यहां लाइन प्रोड्यूसर अपना बेहतर काम कर रहे हैं। उनकी यही कोशिश होती है कि भोपाल में और काम आए।
(शूटिंग के बाद बड़ा तालाब पर फोटो खिंचवाते योगेश)
 

योगेश बताते हैं कि कोरोनाकाल में जब सारी दुनिया बदली है, तो टीवी-सिनेमा में भी चेंज लाजिमी है। वेब कंटेंट और स्ट्रांग हुआ है। इंडस्ट्री में कई अच्छे कलाकार फिल्मों में लीड मैटेरियल नहीं माने गए, उन्हें वेब में भरपूर मौका मिला। इसके लिए आउटडोर शूटिंग की डिमांड बढ़ी और भोपाल जैसे शहर प्रॉयोरिटी में आए।
(शूटिंग से फुर्सत के बाद बड़े तालाब में बोटिंग करते योगेश)

योगेश बताते हैं कि कोरोनाकाल में जब सारी दुनिया बदली है, तो टीवी-सिनेमा में भी चेंज लाजिमी है। वेब कंटेंट और स्ट्रांग हुआ है। इंडस्ट्री में कई अच्छे कलाकार फिल्मों में लीड मैटेरियल नहीं माने गए, उन्हें वेब में भरपूर मौका मिला। इसके लिए आउटडोर शूटिंग की डिमांड बढ़ी और भोपाल जैसे शहर प्रॉयोरिटी में आए।
(शूटिंग से फुर्सत के बाद बड़े तालाब में बोटिंग करते योगेश)

योगेश भोपाल को सांस्कृतिक और प्राकृतिक रूप से समृद्ध मानते हैं। शूटिंग के लिहाज से यह भी एक बड़ी वजह है।
(पहली तस्वीर में शूटिंग के दौरान खाली वक्त में फैन्स के साथ फोटो खिंचवाते योगेश, दूसरी तस्वीर में भोपाल की सैर पर निकले)

योगेश भोपाल को सांस्कृतिक और प्राकृतिक रूप से समृद्ध मानते हैं। शूटिंग के लिहाज से यह भी एक बड़ी वजह है।
(पहली तस्वीर में शूटिंग के दौरान खाली वक्त में फैन्स के साथ फोटो खिंचवाते योगेश, दूसरी तस्वीर में भोपाल की सैर पर निकले)

योगेश बताते हैं कि भोपाल के लिए एयर और  ट्रेन कनेक्टिविटी अच्छी है। ठहरने से लेकर खाने-पीने तक की अच्छी सुविधाएं हैं। शूटिंग के लिए जरूरी साधन भी मिल जाते हैं। 
(शूटिंग से फुर्सत निकालकर भोजपुर मंदिर दर्शन करने पहुंचे योगेश)

योगेश बताते हैं कि भोपाल के लिए एयर और  ट्रेन कनेक्टिविटी अच्छी है। ठहरने से लेकर खाने-पीने तक की अच्छी सुविधाएं हैं। शूटिंग के लिए जरूरी साधन भी मिल जाते हैं। 
(शूटिंग से फुर्सत निकालकर भोजपुर मंदिर दर्शन करने पहुंचे योगेश)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios