Asianet News Hindi

दुल्हन बन एक्ट्रेस की तरह घोड़ी पर बैठ खुद की बारात लेकर निकली लड़की, देखते रह गए लोग, बोले-गजब हो गया

First Published Feb 6, 2021, 4:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सतना (Madhya Pradesh) । आज बेटी को लोग बोझ समझते हैं। लेकिन, सतना का एक परिवार बेटी की शादी शाही अंदाज में किया। बताते हैं कि दुल्हन, जब घोड़ी पर एक्ट्रेस की तरह बैठकर निकली तो लोगों ने सोचा किसी फिल्म की शूटिंग चल रही है। मगर, हकीकत जानने के बाद हर किसी ने कहा ये तो गजब हो गया। जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। ऐसे में  हम आपको इस अनोखी शादी के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

यह तस्वीर मध्य प्रदेश के सतना शहर की है। जहां वलेचा परिवार में दीपा बलेचा इकलौती बेटी हैं। मां नेहा वलेचा ने बताया कि हम बेटों और बेटियों में कोई फर्क नहीं समझते। उन्होंने अपनी बेटी की शादी कोटा में तय किया। 

यह तस्वीर मध्य प्रदेश के सतना शहर की है। जहां वलेचा परिवार में दीपा बलेचा इकलौती बेटी हैं। मां नेहा वलेचा ने बताया कि हम बेटों और बेटियों में कोई फर्क नहीं समझते। उन्होंने अपनी बेटी की शादी कोटा में तय किया। 

बताते हैं कि शादी को यादगार बनाने के लिए परिवार ने बेटी को घोड़ी पर बैठाकर कोटा रवाना किया। इस दौरान लोग बाराती की तरह जमकर डांस किए। वहीं, सड़क से गुजरे वाले लोग इस अनोखी शादी को अपनी मोबाइल में कैद करते दिखे।  

बताते हैं कि शादी को यादगार बनाने के लिए परिवार ने बेटी को घोड़ी पर बैठाकर कोटा रवाना किया। इस दौरान लोग बाराती की तरह जमकर डांस किए। वहीं, सड़क से गुजरे वाले लोग इस अनोखी शादी को अपनी मोबाइल में कैद करते दिखे।  

परिवार ने घोड़ी पर चढ़ने की  बेटी की न सिर्फ ख्वाहिश पूरी की है बल्कि समाज को यह संदेश भी दिया है कि बेटियां किसी पर बोझ नहीं। बेटा और बेटी में कोई अंतर भी नहीं। जितना अधिकार समाज में बेटों को है उतना ही अधिकार बेटियों को भी दिया जाए।

परिवार ने घोड़ी पर चढ़ने की  बेटी की न सिर्फ ख्वाहिश पूरी की है बल्कि समाज को यह संदेश भी दिया है कि बेटियां किसी पर बोझ नहीं। बेटा और बेटी में कोई अंतर भी नहीं। जितना अधिकार समाज में बेटों को है उतना ही अधिकार बेटियों को भी दिया जाए।

दुल्हन दीपा वलेचा का कहना है कि उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि मैं कभी घोड़ी पर बैठूंगी। लेकिन, जब देखा कि परिवार के लोगों ने इतना कुछ प्लान किया है तो मुझे बहुत अच्छा लगा कि मेरी फैमिली मेरे लिए इतना सोचती है।
 

दुल्हन दीपा वलेचा का कहना है कि उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि मैं कभी घोड़ी पर बैठूंगी। लेकिन, जब देखा कि परिवार के लोगों ने इतना कुछ प्लान किया है तो मुझे बहुत अच्छा लगा कि मेरी फैमिली मेरे लिए इतना सोचती है।
 

दीपा ने कहा कि मैसेज देना चाहूंगी कि कभी भी लड़कियां बोझ नहीं होती हैं अपने परिवार के लिए तो सबको सोचना चाहिए कि लड़कों के बराबर लड़कियां भी होती हैं। इसलिए उन्हें उतना ही प्यार मिलना चाहिए जितना लड़कों को दिया जाता है।

फोटो सोर्स-आजतक

दीपा ने कहा कि मैसेज देना चाहूंगी कि कभी भी लड़कियां बोझ नहीं होती हैं अपने परिवार के लिए तो सबको सोचना चाहिए कि लड़कों के बराबर लड़कियां भी होती हैं। इसलिए उन्हें उतना ही प्यार मिलना चाहिए जितना लड़कों को दिया जाता है।

फोटो सोर्स-आजतक

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios