कौन थे कैप्टन दीपक साठे, जिन्होंने आखिरी वक्त तक विमान को बचाने की कोशिश की, मौके पर हुई मौत

First Published 7, Aug 2020, 11:02 PM

नई दिल्ली. दुबई से केरल आ रहा एयर इंडिया का विमान कोझिकोड इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंडिंग के वक्त क्रैश हो गया। हादसे में पायलट कैप्टन दीपक साठे की मौके पर ही मौत हो गई। दीपक साठे इंडियन एयरफोर्स के पायलट भी रह चुके हैं। एयर इंडिया एक्सप्रेस 737 में जाने से पहले एयर इंडिया के एयरबस 310 के पायलट थे। साठे ने एएफए में सम्मान हासिल किया था और लड़ाकू विमान के भी पायलट थे। इसके अलावा वह एचएएल (HAL) के ट्रेनी पायलट भी रहे थे।
 

<p>मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि खराब मौसम की वजह से प्लेन ने लैंडिंग से पहले आसमान में चक्कर लगाए। यानी वह एक बार में ही रनवे पर नहीं उतरा। पायलट ने विमान को बचाने की पूरी कोशिश की।<br />
&nbsp;</p>

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि खराब मौसम की वजह से प्लेन ने लैंडिंग से पहले आसमान में चक्कर लगाए। यानी वह एक बार में ही रनवे पर नहीं उतरा। पायलट ने विमान को बचाने की पूरी कोशिश की।
 

<p><strong>राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दुख</strong><br />
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, केरल के कोझिकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट के दुर्घटनाग्रस्त होने से बेहद दुखी हूं। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से बात की और स्थिति की जानकारी ली। प्रभावित यात्रियों, चालक दल के सदस्यों और उनके परिवारों के लिए प्रार्थना करता हूं।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दुख
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, केरल के कोझिकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट के दुर्घटनाग्रस्त होने से बेहद दुखी हूं। केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से बात की और स्थिति की जानकारी ली। प्रभावित यात्रियों, चालक दल के सदस्यों और उनके परिवारों के लिए प्रार्थना करता हूं। 
 

<p><strong>पीएम मोदी ने कहा, हादसे से आहत हूं</strong><br />
पीएम मोदी ने कहा, कोझीकोड में हुए विमान हादसे से बहुत आहत हूं। मेरे विचार उन लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया। प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। केरल CM से बात की। अधिकारी घटनास्थल पर हैं और सभी प्रकार की सहायता प्रदान कर रहे हैं।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

पीएम मोदी ने कहा, हादसे से आहत हूं
पीएम मोदी ने कहा, कोझीकोड में हुए विमान हादसे से बहुत आहत हूं। मेरे विचार उन लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया। प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। केरल CM से बात की। अधिकारी घटनास्थल पर हैं और सभी प्रकार की सहायता प्रदान कर रहे हैं। 
 

<p><strong>जानिए कैसे और क्यों हुआ हादसा?</strong><br />
एनडीआरएफ के डीजी एस एन प्रधान ने कहा, हमारी NDRF की एक टीम को हमने रवाना कर दिया है, जो वहां पास में मौजूद थी। वो राहत एवं बचाव कार्य के लिए वहां पहुंचने वाली है। क्योंकि फ्लाइट बहुत स्पीड में होगी, जिससे प्रभाव काफी जबरदस्त हुआ है, जिससे लगभग सभी यात्री घायल हैं, कुछ लोग &nbsp;बेहोश भी हैं, ऐसा लगता है कि सभी को देखना होगा। &nbsp;अगर यात्री अभी भी अंदर हैं तो उनको बाहर निकालने में NDRF टीम मदद करेगी। उनको अस्पताल पहुंचाने में भी मदद करेगी। अगर किसी तरह की दूसरी सहायता की जरूरत होगी तो वो भी करेगी। अगर दूसरी टीम की जरूरत है तो उसको भी हमने डायवर्ट किया है। वो भी आधी रात्रि तक पहुंच जाएगी।<br />
&nbsp;</p>

जानिए कैसे और क्यों हुआ हादसा?
एनडीआरएफ के डीजी एस एन प्रधान ने कहा, हमारी NDRF की एक टीम को हमने रवाना कर दिया है, जो वहां पास में मौजूद थी। वो राहत एवं बचाव कार्य के लिए वहां पहुंचने वाली है। क्योंकि फ्लाइट बहुत स्पीड में होगी, जिससे प्रभाव काफी जबरदस्त हुआ है, जिससे लगभग सभी यात्री घायल हैं, कुछ लोग  बेहोश भी हैं, ऐसा लगता है कि सभी को देखना होगा।  अगर यात्री अभी भी अंदर हैं तो उनको बाहर निकालने में NDRF टीम मदद करेगी। उनको अस्पताल पहुंचाने में भी मदद करेगी। अगर किसी तरह की दूसरी सहायता की जरूरत होगी तो वो भी करेगी। अगर दूसरी टीम की जरूरत है तो उसको भी हमने डायवर्ट किया है। वो भी आधी रात्रि तक पहुंच जाएगी।
 

<p>दुर्घटना में कैप्टन दीपक वसंत साठे के साथ ही उनके को-पायलट अखिलेश कुमार की भी मौत हो गई।&nbsp;&nbsp;</p>

दुर्घटना में कैप्टन दीपक वसंत साठे के साथ ही उनके को-पायलट अखिलेश कुमार की भी मौत हो गई।  

<p><strong>हेल्पलाइन नंबर क्या है?</strong><br />
दुबई स्थित भारत के महावाणिज्य दूतावास ने कहा, दुबई से कालीकट के लिए एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट संख्या IX 1344 रनवे पर स्किड कर गई। अधिक जानकारी मिलने पर हम आपको आगे अपडेट करेंगे। हमारे हेल्पलाइन - 056 546 3903, 0543090572, 0543090572, 0543090575 हैं।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

हेल्पलाइन नंबर क्या है?
दुबई स्थित भारत के महावाणिज्य दूतावास ने कहा, दुबई से कालीकट के लिए एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट संख्या IX 1344 रनवे पर स्किड कर गई। अधिक जानकारी मिलने पर हम आपको आगे अपडेट करेंगे। हमारे हेल्पलाइन - 056 546 3903, 0543090572, 0543090572, 0543090575 हैं। 
 

<p><strong>"भारी बारिश की वजह से नहीं हो पाई लैंडिंग"</strong><br />
विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा, शायद कालिकट में बहुत भारी बारिश होने के कारण पायलट पहले लैंडिंग नहीं कर पाया। दूसरे प्रयास में हार्ड लैंडिंग हुई। जिसके बाद फ्लाइट रनवे से बाहर स्किड कर गई। यह बहुत दुखद दुर्घटना है। &nbsp;शायद कालीकट में बहुत भारी बारिश होने के कारण पायलट पहले लैंडिंग नहीं कर पाया। दूसरे प्रयास में हार्ड लैंडिंग हुई। जिसके बाद फ्लाइट रनवे से बाहर स्किड कर गई। यह बहुत दुखद दुर्घटना है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

"भारी बारिश की वजह से नहीं हो पाई लैंडिंग"
विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा, शायद कालिकट में बहुत भारी बारिश होने के कारण पायलट पहले लैंडिंग नहीं कर पाया। दूसरे प्रयास में हार्ड लैंडिंग हुई। जिसके बाद फ्लाइट रनवे से बाहर स्किड कर गई। यह बहुत दुखद दुर्घटना है।  शायद कालीकट में बहुत भारी बारिश होने के कारण पायलट पहले लैंडिंग नहीं कर पाया। दूसरे प्रयास में हार्ड लैंडिंग हुई। जिसके बाद फ्लाइट रनवे से बाहर स्किड कर गई। यह बहुत दुखद दुर्घटना है। 
 

<p><strong>2 टुकड़ों में टूटने से पहले एक ढलान में पहुंचा विमान</strong><br />
केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, कोझीकोड में हुए हवाई हादसे में बहुत पीड़ित और व्यथित हूं। दुबई से कोझीकोड की एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट संख्या AXB-1344, बारिश की स्थिति में रनवे पर स्किड कर गई। 2 टुकड़ों में टूटने से पहले एक ढ़लान में 35 फीट नीचे पहुंच गई।</p>

2 टुकड़ों में टूटने से पहले एक ढलान में पहुंचा विमान
केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा, कोझीकोड में हुए हवाई हादसे में बहुत पीड़ित और व्यथित हूं। दुबई से कोझीकोड की एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट संख्या AXB-1344, बारिश की स्थिति में रनवे पर स्किड कर गई। 2 टुकड़ों में टूटने से पहले एक ढ़लान में 35 फीट नीचे पहुंच गई।

<p><strong>और भी बड़ा हादसा हो सकता था</strong></p>

<p>अधिकारियों और जानकारों का कहना है कि शुक्र है आग नहीं लगी, वरना हादसे में बहुत सारे लोगों की जान जा सकती थी।</p>

और भी बड़ा हादसा हो सकता था

अधिकारियों और जानकारों का कहना है कि शुक्र है आग नहीं लगी, वरना हादसे में बहुत सारे लोगों की जान जा सकती थी।

<p>प्लेन का आगे का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त नजर आ रहा है। डीजीसीए ने इस मामले में जांच के आदेश जारी कर दिए हैं।</p>

प्लेन का आगे का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त नजर आ रहा है। डीजीसीए ने इस मामले में जांच के आदेश जारी कर दिए हैं।

<p>कहा जा रहा है कि विमान में आग न लगने का कारण वहां हो रही तेज बारिश थी।</p>

कहा जा रहा है कि विमान में आग न लगने का कारण वहां हो रही तेज बारिश थी।

loader