केरल हादसा: पायलट ने पहले ही भांप लिया था खतरा, पहली बार में नहीं लैंड किया प्लेन फिर भी नहीं टला हादसा

First Published 8, Aug 2020, 8:10 AM

केरल. दुबई से केरल आ रहा एयर इंडिया का विमान कोझिकोड इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर लैंडिंग के वक्त क्रैश हो गया। नागरिक विमानन मंत्रालय ने कहा कि विमान में 174 यात्री, 10 बच्चे, दो पायलट और पांच केबिन क्रू सवार थे। मलप्पुरम के एसपी ने बताया कि इस हादसे में पायलट समेत 18 लोगों की मौत हुई है। 123 घायल हुए और 15 लोग बुरी तरह से घायल हुए हैं। अब इस हादसे को लेकर ये पता लगाने की कोशिशें की जा रही है कि आखिर क्रैश से पहले क्या हुआ था?

<p style="text-align: justify;">ब्लैक बॉक्स से काफी हद तक जानकारी मिल जाएगी, लेकिन उससे पहले रीयल टाइम एयर ट्रैफिक से भी काफी कुछ पता लगाने की कोशिश हो रही है। रीयल टाइम एयर ट्रैफिक दिखाने वाली वेबसाइट जैसे flightradar24 से मिली जानकारी के मुताबिक रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि जिस लैंडिंग के बाद हादसा हुआ, वह दूसरी लैंडिंग थी।</p>

ब्लैक बॉक्स से काफी हद तक जानकारी मिल जाएगी, लेकिन उससे पहले रीयल टाइम एयर ट्रैफिक से भी काफी कुछ पता लगाने की कोशिश हो रही है। रीयल टाइम एयर ट्रैफिक दिखाने वाली वेबसाइट जैसे flightradar24 से मिली जानकारी के मुताबिक रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि जिस लैंडिंग के बाद हादसा हुआ, वह दूसरी लैंडिंग थी।

<p style="text-align: justify;">flightradar24 के मुताबिक पायलट ने पहली बार में लैंडिंग करने से कुछ समय पहले उसे टाल दिया। कहा जा रहा है कि पायलट ने पहले ही खतरे को भांप लिया था। क्योंकि रनवे पर पानी फैला था, जिससे कहा जा रहा है कि पायलट को खतरा महसूस हुआ होगा। पहली बार रनवे का आकलन करते हुए पायलट ने विमान को आगे निकाल लिया और लैंड नहीं किया। लेकिन जब दूसरी बार लैंड करना चाहा तो विमान अचानक फिसलकर रनवे के बगल में खाईं में जा गिरा।</p>

flightradar24 के मुताबिक पायलट ने पहली बार में लैंडिंग करने से कुछ समय पहले उसे टाल दिया। कहा जा रहा है कि पायलट ने पहले ही खतरे को भांप लिया था। क्योंकि रनवे पर पानी फैला था, जिससे कहा जा रहा है कि पायलट को खतरा महसूस हुआ होगा। पहली बार रनवे का आकलन करते हुए पायलट ने विमान को आगे निकाल लिया और लैंड नहीं किया। लेकिन जब दूसरी बार लैंड करना चाहा तो विमान अचानक फिसलकर रनवे के बगल में खाईं में जा गिरा।

<p>खुद नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने एक ट्वीट के जरिए कहा है कि 'एअर इंडिया का विमान यात्रियों को लेकर आ रहा था और बारिश के कारण वह रनवे से फिसल गया, जिसके बाद वह 35 फुट गहरी खाई में गिरकर दो हिस्सों में टूट गया।' बता दें कि इस घटना में अब तक 17 लोग मारे जा चुके हैं।</p>

खुद नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी ने एक ट्वीट के जरिए कहा है कि 'एअर इंडिया का विमान यात्रियों को लेकर आ रहा था और बारिश के कारण वह रनवे से फिसल गया, जिसके बाद वह 35 फुट गहरी खाई में गिरकर दो हिस्सों में टूट गया।' बता दें कि इस घटना में अब तक 17 लोग मारे जा चुके हैं।

<p style="text-align: justify;">रनवे से फिसलकर विमान सीधे नीचे खाई में गिरा। सीधे विमान की नोक जमीन से टकराई और टूट गई। गनीमत ये रही कि विमान फटा नहीं वरना बड़ा हादसा हो सकता था। मरने वालों में अधिकतर लोग वह हैं, जो विमान में आगे की तरफ बैठे थे। यही वजह है कि विमान के दोनों पायलट भी मारे गए हैं।</p>

रनवे से फिसलकर विमान सीधे नीचे खाई में गिरा। सीधे विमान की नोक जमीन से टकराई और टूट गई। गनीमत ये रही कि विमान फटा नहीं वरना बड़ा हादसा हो सकता था। मरने वालों में अधिकतर लोग वह हैं, जो विमान में आगे की तरफ बैठे थे। यही वजह है कि विमान के दोनों पायलट भी मारे गए हैं।

<p>घटना स्थल पर पहुंची थी एंबुलेंस।</p>

घटना स्थल पर पहुंची थी एंबुलेंस।

<p>दो टुकड़ों में बंटा विमान।</p>

दो टुकड़ों में बंटा विमान।

loader