Asianet News Hindi

अटल टनल के उद्घाटन की देखें तस्वीरें, सिर पर टोपी लगाए हिमाचली लुक में नजर आए पीएम मोदी

First Published Oct 3, 2020, 11:45 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. यूं तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी राजनीति, काम और भाषण के चलते जाने जाते हैं। लेकिन, जब कभी भी वो किसी राज्य के दौरे पर जाते हैं तो वहां की आम बोल चाल भाषा के साथ-साथ पहनावे को भी अपना लेते हैं। इसके चलते वो कई बार चर्चा में भी रह चुके हैं। ऐसे में शनिवार को प्रधानमंत्री अटल टनल का उद्घाटन करने रोहतांग पहुंचे। इस दौरान उनके पहनावे ने सभी का ध्यान आकर्षित किया।  

अटल टनल मनाली को लेह से जोड़ने का काम करती है। इसके उद्घाटन में पीएम मोदी को हिमाचली लुक में देखा गया। उन्होंने सिर पर पहाड़ी इलाकों में शुभ अवसर पहनी जाने वाली कढ़ाई वाली टोपी पहन रखी थी। 
 

अटल टनल मनाली को लेह से जोड़ने का काम करती है। इसके उद्घाटन में पीएम मोदी को हिमाचली लुक में देखा गया। उन्होंने सिर पर पहाड़ी इलाकों में शुभ अवसर पहनी जाने वाली कढ़ाई वाली टोपी पहन रखी थी। 
 

इसके साथ ही उनके कुर्ते के ऊपरी हिस्से में भी कढ़ाई की गई थी। इस तरह के पहनावे को अक्सर हिमाचल में शुभ अवसर और त्योहारों पर देखा जाता है। 

इसके साथ ही उनके कुर्ते के ऊपरी हिस्से में भी कढ़ाई की गई थी। इस तरह के पहनावे को अक्सर हिमाचल में शुभ अवसर और त्योहारों पर देखा जाता है। 

कोरोना काल में पीएम मोदी का यह चौथा दौरा था। यानी 25 मार्च को देशभर में लगे लॉकडाउन के 192 दिन बाद पीएम इस दौरे पर पहुंचे। 
 

कोरोना काल में पीएम मोदी का यह चौथा दौरा था। यानी 25 मार्च को देशभर में लगे लॉकडाउन के 192 दिन बाद पीएम इस दौरे पर पहुंचे। 
 

कोरोना से पहले पीएम मोदी ने 29 फरवरी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और चित्रकूट का दौरा किया था। 22 मई को पीएम मोदी ने प बंगाल और ओडिशा में अम्फान तूफान से प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा किया था। यहां उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने प बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक के साथ बैठक कर राज्यों के लिए राहत पैकेज का ऐलान किया था।

कोरोना से पहले पीएम मोदी ने 29 फरवरी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और चित्रकूट का दौरा किया था। 22 मई को पीएम मोदी ने प बंगाल और ओडिशा में अम्फान तूफान से प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा किया था। यहां उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने प बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक के साथ बैठक कर राज्यों के लिए राहत पैकेज का ऐलान किया था।

चीन से विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अचानक लद्दाख दौरे पर 3 जुलाई को पहुंचे थे। यहां उन्होंने गलवान झड़प में जख्मी जवानों से मुलाकात कर उनका उत्साहवर्धन किया था। 
 

चीन से विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अचानक लद्दाख दौरे पर 3 जुलाई को पहुंचे थे। यहां उन्होंने गलवान झड़प में जख्मी जवानों से मुलाकात कर उनका उत्साहवर्धन किया था। 
 

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने फॉरवर्ड इलाकों में तैनात सुरक्षाबलों से भी मुलाकात कर बातचीत की थी। यहां से पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना उसे साफ संदेश दिया था कि उसकी विस्तारवादी नीति अब नहीं चलने वाली।

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने फॉरवर्ड इलाकों में तैनात सुरक्षाबलों से भी मुलाकात कर बातचीत की थी। यहां से पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना उसे साफ संदेश दिया था कि उसकी विस्तारवादी नीति अब नहीं चलने वाली।

प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन में हिस्सा लिया था। यहां वो तीन घंटे रुके थे। पीएम मोदी ने कोरोना को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे नियमों का पालन करते हुए कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। मोदी ने यहां जनसभा को भी संबोधित किया था। कोरोना के चलते इस कार्यक्रम में सीमित लोगों को ही बुलाया गया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन में हिस्सा लिया था। यहां वो तीन घंटे रुके थे। पीएम मोदी ने कोरोना को देखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने जैसे नियमों का पालन करते हुए कार्यक्रम में हिस्सा लिया था। मोदी ने यहां जनसभा को भी संबोधित किया था। कोरोना के चलते इस कार्यक्रम में सीमित लोगों को ही बुलाया गया था।

कोरोना काल में पीएम का चौथा दौरा 3 अक्टूबर हिमाचल का था। जब पीएम मोदी दिल्ली से बाहर निकले हैं। इसकी वजह है रोहतांग में अटल टनल का उद्धाटन। अटल टनल मनाली को लेह को जोड़ती है। टनल से दोनों जगहों के बीच की दूरी 46 किमी कम हो गई है।

कोरोना काल में पीएम का चौथा दौरा 3 अक्टूबर हिमाचल का था। जब पीएम मोदी दिल्ली से बाहर निकले हैं। इसकी वजह है रोहतांग में अटल टनल का उद्धाटन। अटल टनल मनाली को लेह को जोड़ती है। टनल से दोनों जगहों के बीच की दूरी 46 किमी कम हो गई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios