Asianet News Hindi

पहली बार शामिल हुई लद्दाख की झांकी...तो राजपथ पर दिखी राम मंदिर की झलक; देखें Photos

First Published Jan 26, 2021, 12:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. 26 जनवरी को देश 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस मौके पर राजपथ पर परेड और झाकियां निकाली गईं। पहली झांकी केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी दिखी। यह पहला मौका है जब गणतंत्र दिवस पर लद्दाख की झांकी नजर आई। इसके अलावा उत्तर प्रदेश की झांकी की सबसे ज्यादा चर्चा रही। इस बार उप्र की झांकी में  राम मंदिर की झलक दिखाई दी। 

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी में लद्दाख को कार्बन न्यूट्रल स्टेट बनाकर विश्व के लिए उदाहरणात्मक प्रदेश के विजन पर केंद्रित रही। 

केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी में लद्दाख को कार्बन न्यूट्रल स्टेट बनाकर विश्व के लिए उदाहरणात्मक प्रदेश के विजन पर केंद्रित रही। 

उत्तर प्रदेश की झांकी भी खास रही। इसमें अयोध्या में बन रहे राम मंदिर की झलक दिखी। अयोध्या के राजा ब्रह्मा के पुत्र मनु ने बसाया था, इसे ही अयोध्या कहा गया और इसमें अष्टाचक्र नवाद्वार है जिसका वर्णन अथर्ववेद में मिलता है। इसमें महर्षि वाल्मिकी को रामायण की रचना करते दिखाया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश की झांकी भी खास रही। इसमें अयोध्या में बन रहे राम मंदिर की झलक दिखी। अयोध्या के राजा ब्रह्मा के पुत्र मनु ने बसाया था, इसे ही अयोध्या कहा गया और इसमें अष्टाचक्र नवाद्वार है जिसका वर्णन अथर्ववेद में मिलता है। इसमें महर्षि वाल्मिकी को रामायण की रचना करते दिखाया जा रहा है।

गुजरात की झांकी प्रसिद्ध सूर्य मंदिर मोढेरा को दर्शाती हुई दिखाई दी। 

गुजरात की झांकी प्रसिद्ध सूर्य मंदिर मोढेरा को दर्शाती हुई दिखाई दी। 

पंजाब की झांकी में 9वें सिख गुरु गुरु तेग बहादुर की 400वीं जयंती को दर्शाया गया। इसमें आखिर में गुरुद्वारा श्री राकाब गंज साहिब की भी झलक नजर आई। 
 

पंजाब की झांकी में 9वें सिख गुरु गुरु तेग बहादुर की 400वीं जयंती को दर्शाया गया। इसमें आखिर में गुरुद्वारा श्री राकाब गंज साहिब की भी झलक नजर आई। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios