Asianet News Hindi

सोसाइटी व्हाट्सएप ग्रुप में शेयर किया एक मैसेज, जिसके बाद घर आए शिवसेना कार्यकर्ता, फिर बुरी तरह पीटा

First Published Sep 12, 2020, 11:44 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कंगना रनौत (Kangana Ranaut) से विवाद की वजह से शिवसेना (Shiv Sena) सुर्खियों में है। लेकिन कंगना के बाद अब शिवसेना एक और विवाद जुड़ गई है। आरोप है कि एक व्हाट्सएप मैसेज की वजह से शिवसेना के लोगों ने एक्स नेवी ऑफिसर को घर से बाहर निकाला और बुरी तरह से पीटा। इस आरोप में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इसमें शिवसेना कार्यकर्ता भी हैं। 

पिछले दिनों कंगना को लेकर शिवसेना के नेताओं ने कई बार धमकी भरे शब्दों का इस्तेमाल किया। इसके बाद से विवाद इतना बढ़ गया कि कंगना ने उद्धव ठाकरे तक को चुनौती दे डाली।

पिछले दिनों कंगना को लेकर शिवसेना के नेताओं ने कई बार धमकी भरे शब्दों का इस्तेमाल किया। इसके बाद से विवाद इतना बढ़ गया कि कंगना ने उद्धव ठाकरे तक को चुनौती दे डाली।

मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को 6 लोगों को गिरफ्तार किया, उसमें एक शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम है। आरोप है कि इन लोगों ने कांदिवली इस्ट में एक्स नेवी ऑफिसर से मारपीट की। आरोप है कि एक्स नेवी ऑफिसर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक कार्टून शेयर कर दिया था। 

मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को 6 लोगों को गिरफ्तार किया, उसमें एक शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम है। आरोप है कि इन लोगों ने कांदिवली इस्ट में एक्स नेवी ऑफिसर से मारपीट की। आरोप है कि एक्स नेवी ऑफिसर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक कार्टून शेयर कर दिया था। 

एफआई के मुताबिक, 65 साल के एक्स नेवी ऑफिसर  ने शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि मैंने सोसाइटी के व्हाट्सएप ग्रुप में उद्धव ठाकरे का एक कार्टून फॉरवर्ड कर दिया था। इसके बाद उन्हें शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम का फोन आया। उसने नाम और पता पूछा। मदन शर्मा ने कहा, व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजने के बाद उन पर हमला किया गया।

एफआई के मुताबिक, 65 साल के एक्स नेवी ऑफिसर  ने शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि मैंने सोसाइटी के व्हाट्सएप ग्रुप में उद्धव ठाकरे का एक कार्टून फॉरवर्ड कर दिया था। इसके बाद उन्हें शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम का फोन आया। उसने नाम और पता पूछा। मदन शर्मा ने कहा, व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजने के बाद उन पर हमला किया गया।

उन्होंने कहा, एक मैसेज भेजने के बाद पहले धमकी भरा कॉल आया, फिर आठ से दस लोगों ने मुझ पर हमला किया और मारपीट की। मैंने देश के लिए पूरी जिंदगी लगा दी। लेकिन मेरे साथ ऐसा हो रहा है।
 

उन्होंने कहा, एक मैसेज भेजने के बाद पहले धमकी भरा कॉल आया, फिर आठ से दस लोगों ने मुझ पर हमला किया और मारपीट की। मैंने देश के लिए पूरी जिंदगी लगा दी। लेकिन मेरे साथ ऐसा हो रहा है।
 

भाजपा विधायक अतुल भातकालकर ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया जिसमें दिख रहा है कि कैसे एक्स नेवी ऑफिसर से मारपीट की गई। आरोपीमदन शर्मा को कॉलर से खींचते हैं और उन्हें कई बार थप्पड़ मारते है। 

भाजपा विधायक अतुल भातकालकर ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया जिसमें दिख रहा है कि कैसे एक्स नेवी ऑफिसर से मारपीट की गई। आरोपीमदन शर्मा को कॉलर से खींचते हैं और उन्हें कई बार थप्पड़ मारते है। 

मुंबई के कांदिवली से भाजपा विधायक अतुल भातखलकर ने कहा, "सत्तारूढ़ शिवसेना जिसने कंगना रनौत के कार्यालय को गिराकर अपनी मर्दानगी दिखाई है, अब एक सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी को पीट रहे हैं। उनकी आंख पर चोट लगी है। मुख्यमंत्री अपने घर से तानाशाही चला रहे हैं। 

मुंबई के कांदिवली से भाजपा विधायक अतुल भातखलकर ने कहा, "सत्तारूढ़ शिवसेना जिसने कंगना रनौत के कार्यालय को गिराकर अपनी मर्दानगी दिखाई है, अब एक सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी को पीट रहे हैं। उनकी आंख पर चोट लगी है। मुख्यमंत्री अपने घर से तानाशाही चला रहे हैं। 

एक्स नेवी ऑफिसर की बेटी डॉ. शीला शर्मा ने कहा, उन्हें (पापा को) शिवसेना के लोगों ने व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजने के बाद पहले धमकी दी फिर पीटा। उन्होंने कहा, मेरे पिता को मैसेज भेजने के लिए धमकियां मिलीं। शिवसेना के कई लोगों ने उन पर हमला किया। बाद में, पुलिस हमारे निवास पर आई और मेरे पिता को अपने साथ ले जाने पर जोर दिया। हमने एक प्राथमिकी दर्ज कराई है।

एक्स नेवी ऑफिसर की बेटी डॉ. शीला शर्मा ने कहा, उन्हें (पापा को) शिवसेना के लोगों ने व्हाट्सएप पर एक मैसेज भेजने के बाद पहले धमकी दी फिर पीटा। उन्होंने कहा, मेरे पिता को मैसेज भेजने के लिए धमकियां मिलीं। शिवसेना के कई लोगों ने उन पर हमला किया। बाद में, पुलिस हमारे निवास पर आई और मेरे पिता को अपने साथ ले जाने पर जोर दिया। हमने एक प्राथमिकी दर्ज कराई है।

इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र में भाजपा और विपक्षी नेता देवेंद्र फड़नवीस ने दुख व्यक्त किया और राज्य के मुख्यमंत्री से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की। उन्होंने कहा, "बेहद दुखद और चौंकाने वाली घटना। सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी सिर्फ एक व्हाट्सएप फॉरवर्ड की वजह से गुंडों द्वारा पीटा गया। कृपया इस गुंडाराज को रोक दें।" 

इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र में भाजपा और विपक्षी नेता देवेंद्र फड़नवीस ने दुख व्यक्त किया और राज्य के मुख्यमंत्री से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की। उन्होंने कहा, "बेहद दुखद और चौंकाने वाली घटना। सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी सिर्फ एक व्हाट्सएप फॉरवर्ड की वजह से गुंडों द्वारा पीटा गया। कृपया इस गुंडाराज को रोक दें।" 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios